School Restarts : विद्यालयों में 11वीं और 12वीं की कक्षाएं प्रारंभ हो गयीं....
देश | मध्य प्रदेश| नया इंडिया| School Restarts : विद्यालयों में 11वीं और 12वीं की कक्षाएं प्रारंभ हो गयीं....

इस राज्य में School कक्षाएं फिर से हुई प्रारंभ, कोरोना प्रोटोकॉल को ध्यान में रखते हुए पहुंचे 11वीं और 12वीं के स्टूडेंट

School Restarts :

School Restarts : कोरोना की तीसरी लहर कमजोर पड़ने के बाद एक बार फिर से धीरे-धीरे सभी सेवाएं शुरू की जा रही है। मध्यप्रदेश में कोरोना प्रोटोकॉल (Corona Protocol) काे ध्यान में रखते हुए आज से अनेक विद्यालयों में 11वीं और 12वीं की कक्षाएं प्रारंभ हो गयीं। परन्तु अभिभावकों की लिखित अनुमति के बाद ही बच्चों को स्कूल में बुलाया जा रहा है और ऑनलाइन कक्षाएं (Online Classes) भी जारी हैं।

School Restarts : मध्यप्रदेश के स्कूल शिक्षा विभाग ने तीन दिन पहले राज्य के सभी सरकारी और निजी विद्यालयों में 26 जुलाई से कोरोना संबंधी सभी प्रोटोकॉल (Corona Protocol) का पालन करते हुए ग्यारहवीं और बारहवीं की कक्षाएं शुरू करने के निर्देश दिए थे। आदेश के अनुसार सप्ताह में दो दिन 11वीं और 12वीं की कक्षाएं लगाने के लिए कहा गया है। बारहवीं के लिए सोमवार और गुरुवार के दिन और ग्यारहवीं के लिए मंगलवार एवं शुक्रवार के दिन व्यवस्थित की गई है। स्कूलों में विद्यार्थियों के लिए दूर दूर बैठाने के अलावा अनेक उपाय अपनाने के लिए भी कहा गया है। इसके अलावा माता-पिता से बच्चों के संबंध में लिखित में अनुमति लेना भी आवश्यक किया गया है। इसके अलावा आने वाली 05 अगस्त से नवीं और दसवीं की कक्षाएं प्रारंभ करने की योजना है।

School Restarts :

इसे भी पढ़े- Himachal Landslide में राजस्थान के 4 लोगों की मौत, सीकर के एक ही परिवार ने गंवाए 3 लोग

School Restarts : आदेश के अनुसार आज भोपाल और अनेक शहरों तथा नगरों में कुछ स्कूलों में विद्यार्थियों की मौजूदगी में अध्यापन का कार्य प्रारंभ हुआ, लेकिन अभी बारिश आदि के कारण भी स्कूलों में स्टूडेंट्स की मौजूदगी काफी कम रही। इसके अलावा कोरोना के नए प्रकरण आने का क्रम नहीं थमने के कारण अभिभावक अपने बच्चों को स्कूल भेजने में कतरा रहे हैं। क्योंकि अभी बच्चों को वैक्सीन भी नहीं लगी है। इसके अलावा कोरोना की तीसरी लहर में बच्चों के प्रभावित होने की आशंका संबंधी खबरों को लेकर भी अभिभावक बच्चों को लेकर काफी सतर्क नजर आ रहे हैं।

इसे भी पढ़े- देश में रोज 40 हजार के करीब नए मामले, केरल में एक दिन में 17 हजार से ज्यादा नए मरीज बढ़ा रहे चिंता

भोपाल में प्रमुख निजी स्कूलों में अभिभावकों से निर्धारित प्रारूप में बच्चों की सुरक्षा को लेकर फॉर्म भरवाए जा रहे हैं। इसमें यह लिखा गया है कि स्कूल में अध्ययन के दौरान बच्चों के स्वास्थ्य को लेकर स्कूल प्रशासन जिम्मेदार नहीं होगा। इस वजह से काफी अभिभावकों ने अपनी सहमति नहीं दी है।

School Restarts :

स्कूल शिक्षा विभाग का कहना है कि कई महीनों से शिक्षण कार्य बंद था और अब कोरोना के नए प्रकरण काफी कम हो गए हैं। इसलिए पूरी ऐहतियात बरतते हुए स्कूल खोलने का निर्णय हुआ है। इसके बावजूद सरकार प्रतिदिन कोरोना की स्थिति की समीक्षा कर रही है और इसके अनुरूप स्कूलों के संबंध में निर्णय लिए जाएंगे।

मध्यप्रदेश में मार्च 2020 में कोरोना के कारण लॉकडाउन लागू होने के बाद से ही स्कूल बंद हैं। इस वर्ष की शुरूआत में कुछ स्थानों पर स्कूलों में अध्ययन का कार्य प्रारंभ हुआ था, लेकिन अप्रैल माह में कोरोना की दूसरी लहर के प्रकोप के कारण स्कूल फिर से बंद कर दिए गए थे।

इसे भी पढ़े- देश में रोज 40 हजार के करीब नए मामले, केरल में एक दिन में 17 हजार से ज्यादा नए मरीज बढ़ा रहे चिंता

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
महाराष्ट्र में धारा 144 से पाबंदियां, मुख्यमंत्री ने ऐन मौके पर लॉकडाउन टाला
महाराष्ट्र में धारा 144 से पाबंदियां, मुख्यमंत्री ने ऐन मौके पर लॉकडाउन टाला