nayaindia one lakh drivers driving two wheelers without helmet in MP मप्र में बिना हेलमेट दुपहिया वाहन चलाने वाले एक लाख चालकों के चालान
kishori-yojna
देश | मध्य प्रदेश| नया इंडिया| one lakh drivers driving two wheelers without helmet in MP मप्र में बिना हेलमेट दुपहिया वाहन चलाने वाले एक लाख चालकों के चालान

मप्र में बिना हेलमेट दुपहिया वाहन चलाने वाले एक लाख चालकों के चालान

Man fined for not wearing helmet while driving car!.

भोपाल। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में दोपहिया वाहन चालकों की सुरक्षा के मददेनजर हेलमेट (Helmet) का उपयोग करो अभियान चलाया जा रहा है। जिन वाहन चालकों ने हेलमेट का इस्तेमाल नहीं किया उनके खिलाफ कार्यवाही भी की गई। राज्य में एक लाख से ज्यादा वाहन चालकों के चालान काटे गए। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (ADG) पीटीआरआई जी. जनार्दन (PTRI G. Janardan) ने बताया है कि दो पहिया वाहन सवारों की सुरक्षा के लिए हेलमेट का अनिवार्य उपयोग सुनिश्चित करने के लिए समग्र प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा है कि हेलमेट के उपयोग के लिए जागरूकता अभियान के साथ वाहन अधिनियम में कार्यवाही भी की जा रही है। एक लाख से अधिक दो पहिया वाहन सवारों के विरुद्ध कार्रवाई की गई है। एडीजी जनार्दन ने बताया है कि बगैर हेलमेट के वाहन सवारों की सड़क दुर्घटना में होने वाली जन-हानि को रोकने के लिए विशेष जागरूकता अभियान पुलिस और परिवहन विभाग द्वारा मिल कर चलाया जा रहा है।

इसके लिए आवश्यक निर्देश भी सभी शासकीय कार्यालयों और शैक्षणिक संस्थानों को जारी किए गए हैं। ऑटोमोबाइल शॉप, होटल, ढाबा, रेस्टोरेंट, मॉल, लाइसेंसी शराब की दुकानें, पार्किंग संचालकों, पेट्रोल पम्पों को बगैर हेलमेट धारण किए वाहन सवारों को सेवा उपलब्ध न कराने के लिए कहा जा रहा है। इसी प्रकार वाहन विक्रय केन्द्रों को वाहन के साथ हेलमेट भी विक्रय करने को पाबंद किया गया है। उन्होंने बताया कि पुलिस एवं परिवहन विभाग (Transport Department) ने मिल कर छह से 20 अक्टूबर तक जागरूकता अभियान (Awareness Campaign) के साथ ही हेलमेट धारण न करने वाले दो पहिया वाहन सवारों के विरुद्ध मोटर व्हीकल एक्ट के तहत 1 लाख 8 हजार 139 चालान किए गए। जबलपुर में सर्वाधिक 13 हजार 105, सागर में 7106, भोपाल में 5966, इंदौर में 4830, सिंगरौली में 4087, शिवपुरी में 3517 सहित अन्य जिलों में चालान किए गए। (आईएएनएस)

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 × 3 =

kishori-yojna
kishori-yojna
ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
अंतरराष्ट्रीय एजेंसियों से ज्यादा दिक्कत
अंतरराष्ट्रीय एजेंसियों से ज्यादा दिक्कत