nayaindia Sanjay Raut used to talk himself and walls in jail जेल में खुद से और दीवारों से करता था बात: संजय राउत
kishori-yojna
देश | महाराष्ट्र| नया इंडिया| Sanjay Raut used to talk himself and walls in jail जेल में खुद से और दीवारों से करता था बात: संजय राउत

जेल में खुद से और दीवारों से करता था बात: संजय राउत

मुंबई। आर्थर रोड सेंट्रल जेल (ARCJ) की सलाखों के पीछे 101 दिन बिताने के बाद बाहर आए शिवसेना (UBT) के सांसद संजय राउत (Sanjay Raut) ने गुरुवार को कहा यह एक कठिन समय था। सहज दिख रहे राउत ने कहा, मैं एकांत कारावास में था, बाहरी दुनिया से कोई संपर्क नहीं था, मुझे खुद से या जेल की दीवारों से बात करनी थी। मैंने तीन महीने से अधिक समय के बाद पहली बार घड़ी पहनी। उन्होंने कहा कि जेल की कोठरी में तीन माह बिताने के बाद वह आश्चर्यचकित हैं कि कैसे विष्णु दामोदर सावरकर ने 10 साल और बाल गंगाधर लोकमान्य तिलक ने छह साल जेल में बिताए, या आपातकाल के दौरान (पूर्व पीएम) अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) दो साल जेल में रहे।

एक निजी अस्पताल में इलाज के लिए जा रहे राउत ने कहा, जेल की सजा अच्छी नहीं है, मैंने बहुत कुछ सहा है, मेरे परिवार ने भी बहुत कुछ खोया है। किसी को बिना किसी कारण के जेल भेजना गलत है। राउत ने कहा कि उन्हें प्रवर्तन निदेशक (ED) या उन लोगों के खिलाफ कोई शिकायत नहीं है, जिन्होंने उन्हें जेल भेजने की साजिश रची। राउत ने कहा, मैं प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) व गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) से मिलूंगा और उन्हें बताऊंगा कि मैं किस दौर से गुजर रहा हूं। मैं महाराष्ट्र (Maharashtra) के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) से भी राज्य के मुद्दों पर चर्चा करने के लिए उनसे मुलाकात करूंगा। उन्होंने दोहराया कि मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे (Eknath Shinde) और फडणवीस की सरकार ‘असंवैधानिक’ है , लेकिन उन्होंने नई सरकार के कुछ फैसलों का समर्थन किया।

राउत ने कहा, राजनीति के स्तर को खराब करने के मामले में मैं फडणवीस के बयान का स्वागत करता हूं। शिवसेना (यूबीटी) के सांसद ने कहा कि वह आज दोपहर बाद पार्टी अध्यक्ष और पूर्व सीएम उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार (Sharad Pawar) से मुलाकात करेंगे।कांग्रेस पर टिप्पणी करते हुए राउत ने कहा कि अगर उनका स्वास्थ्य अनुमति देगा तो तो वह राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की भारत जोड़ो यात्रा (Bharat Jodo Yatra) में शामिल होंगे। फायरब्रांड नेता ने कहा कि उनकी गिरफ्तारी अवैध थी, यह बात विशेष पीएमएलए कोर्ट ने भी बुधवार को अपने फैसले में कही।

राउत ने गुरुवार को मीडिया से संक्षिप्त बातचीत करते हुए कहा, उनको छोड़ने से देश में एक स्पष्ट सकारात्मक संदेश गया है, न्यायपालिका में मेरा विश्वास बढ़ा है। राउत को पात्रा चॉल पुनर्विकास मामले से कथित धन शोधन मामले में गिरफ्तार किया गया था। अपने फैसले में विशेष न्यायाधीश एमजी देशपांडे ने संजय राउत और उनके करीबी सहयोगी प्रवीण राउत को रिहा करते हुए गिरफ्तारी को अवैध बताते हुए ईडी को फटकार लगाई। (आईएएनएस)

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

7 + 20 =

kishori-yojna
kishori-yojna
ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
आसाराम की सजा बहुत कम है
आसाराम की सजा बहुत कम है