महाराष्ट्र में शुरू हुआ महाकर्फ्यू - Naya India
देश | महाराष्ट्र | समाचार मुख्य| नया इंडिया|

महाराष्ट्र में शुरू हुआ महाकर्फ्यू

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस से सर्वाधिक संक्रमित महाराष्ट्र में बुधवार को रात आठ बजे से लॉकडाउन की तरह का कर्फ्यू चालू हो गया है। एक मई की सुबह सात बजे तक यह महाकर्फ्यू लगा रहेगा। इसे लॉकडाउन नहीं कहा जा रहा है लेकिन इस दौरान लगाई गई पाबंदियां लॉकडाउन की तरह ही हैं। इसे ब्रेक द चेन का नाम दिया गया है। ध्यान रहे महाराष्ट्र में एक दिन में 60 हजार से ज्यादा केसेज आ रहे हैं। महाराष्ट्र अगर देश होता तो हर दिन मिलने वाले संक्रमितों की संख्या के लिहाज यह चौथे नंबर पर होता। दुनिया में मिल रहे कोरोना मरीजों में आठ फीसदी मरीज अकेले महाराष्ट्र में मिल रहे हैं।

मध्य प्रदेश में भी कोरोना से हालत बहुत बिगड़ गए हैं। लगभग हर शहर के अस्पताल बेड और ऑक्सीजन की कमी से जूझ रहे हैं। राज्य के 52 में से 23 जिलों में लॉकडाउन लागू कर दिया गया है। बढ़ते कोरोना संक्रमण के चलते 10वीं-12वीं की बोर्ड परीक्षाएं एक महीने टाल दी गई हैं। ये परीक्षाएं 30 अप्रैल से शुरू होनी थी। इस बीच राज्य में ऑक्सीजन संकट को लेकर भोपाल के मिंटो हॉल के सामने कांग्रेस के जीतू पटवारी सहित तीन विधायक धरने पर बैठे। राज्य में छह हजार के करीब नए केसेज आ रहे हैं और 40 के करीब लोगों की मौत हो रही है। हालांकि मीडिया खबरों में बताया जा रहा है कि मरने वालों की संख्या इससे कहीं ज्यादा है।

उधर राजस्थान में एक दिन में मिलने वाले मरीजों की संख्या 13 दिन में चार गुना बढ़ गई है। पहली लहर के मुकाबले ये रफ्तार करीब ढाई गुना ज्यादा है। पहली लहर के पीक पर एक नवंबर 2020 को एक दिन में 1,754 केस मिले थे और 24 नवंबर को यह संख्या 3,314 पहुंच गई थी। इस साल एक अप्रैल को 24 घंटे में 1,350 नए केस मिले और 13 अप्रैल को यह संख्या 5,528 हो गई यानी नए केस मिलने की रफ्तार चार गुना बढ़ गई।

छत्तीसगढ़ में हालात और खराब हैं। राज्य के कोरोना सेल के मीडिया प्रभारी डॉ. सुभाष पांडे की कोरोना से मौत हो गई है। दूसरी बार पॉजिटिव पाए जाने के बाद उन्हें रायपुर एम्स में भर्ती किया गया था, जहां बुधवार सुबह उनकी मौत हो गई। प्रदेश में एक दिन में 15 हजार से ज्यादा संक्रमित मिल रहे हैं। मंगलवार को राजधानी रायपुर में 58 और पूरे प्रदेश में 156 लोगों की मौत हुई। यह अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है। राज्य में कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या एक लाख के पार पहुंच गई है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
शराबबंदी पर सख्ती मतलब वसूली बढ़ाना
शराबबंदी पर सख्ती मतलब वसूली बढ़ाना