Maharashtra Politics : गृह मंत्री अनिल देशमुख के इस्तीफे के बाद अब BJP ने की सीएम के त्यागपत्र की मांग - Naya India
देश | महाराष्ट्र| नया इंडिया|

Maharashtra Politics : गृह मंत्री अनिल देशमुख के इस्तीफे के बाद अब BJP ने की सीएम के त्यागपत्र की मांग

महाराष्ट्र में आया सियासी तूफान थमने का नाम नहीं ले रहा है. गृह मंत्री अनिल देशमुख के इस्तीफे के बाद से महाराष्ट्र सरकार के सामने ये संकट आ गया है. ये पूरा मामला है मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह की याचिका से शुरु हुआ था लेकिन अब बात सीएम का इस्तीफा मांगे जाने पर आ गयी है. BJP के नेता इस मुद्दे पर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से जवाब मांग रहे हैं. इसके साथ ही सीएम की चुप्पी पर सवाल खड़े कर रहे हैं. इस बाबत केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने भी शिवसेना पर हमला करते हुए कहा कि CBI जांच का आदेश दिए जाने के बाद अब उद्धव ठाकरे ने लोगों का विश्वास खो दिया है. ठाकरे को नैतिक मुल्यों को ध्यान में रखते हुए अपने पद का त्याग दे देना चाहिए.

इसे भी पढ़ें Bihar Board 10th Result 2021: बिहार 10वीं का रिजल्ट जारी, चार छात्रों ने संयुक्त रूप से किया टॉप

कुछ भी कहने से बचते दिखे शिवसेना, कांग्रेस और NCP के नेता

इस मामले में शरद पवार से पूछने पर उन्होंने कहा कि अभी उनके लिए भी कुछ कहना आसान नहीं है. लेकिन एक सवाल के जवाब में शरद पवार ने कहा कि किसी भी मंत्री के बारे में फैसला लेने के अधिकार सीएम का होता है. इतना कहकर आगे बढ़ते हुए पवार ने कहा कि वे इस बारे में उद्धव ठाकरे से बात करने के बाद ही कुछ कह सकेंगे. वहीं कांग्रेस और शिवसेना ने कहा कि उम्मीद है कि अनिल देशमुख के बारे में कोई भी फैसला सरकार में मौजूद पार्टियों की बैठक के बाद ही होगी.

उद्धव की चुप्पी पर उठाए सवाल

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि देशमुख ने अपना इस्तीफा देते हुए कहा है कि वे नैतिक आधार पर पद से त्यागपत्र दे रहे हैं. ऐसे में जब राज्य के गृह मंत्री को नैतिक आधार का ध्यान है तो फिर क्या राज्य के मुख्यमंत्री को नैतिक आधारों और मुल्यों की कोई परवाह नहीं है. उन्होंने कहा कि इस पूरे प्रकरण में उद्धव ठाकरे की चुप्पी कई तरह के सवाल उठाती है. रविशंकर प्रसाद ने कहा कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे शासन करने के नैतिक अधिकार से अब वंचित हो गए हैं।

इसे भी पढ़ें IIT ने गिरफ्तार छात्र को किया निलंबित, नशीला पदार्थ मिलाकर की थी छेड़खानी

उद्धव ठाकरे ने बचाने की हुई कोशिशें- अठावले

इस पूरे प्रकरण पर BJP के साथ ही उसकी समर्थक पार्टियां लगातार शिवसेना और सीएम उद्धव ठाकरे को घेरने का प्रयास कर रही है. इस पर केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने कहा कि महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख को इस्तीफा देना उनकी मजबूरी बन गई थी. उन्हें NCP और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे द्वारा बचाने की कोशिश कर रहे थे. लेकिन इसके बाद भी उन्हें सच के बाहर आने लगातार डर सता रहा था. शरद पवार ने अनिल देशमुख को इस्तीफा देनी की इजाज़त दे दी है, यह अच्छी बात है.

इसे भी पढ़ें नक्सल हमलाः नक्सल हमले में शहीद हुआ बेटा,मां अभी तक इस बात से बेखबर…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
बूथ विस्तारक: 10 दिन-10 घंटे देकर 100 घंटे का योगदान
बूथ विस्तारक: 10 दिन-10 घंटे देकर 100 घंटे का योगदान