nayaindia Poison given to son in milk : प्रेमी के साथ मिलकर अपने 3 साल के बेटे को दूध में...
kishori-yojna
देश| नया इंडिया| Poison given to son in milk : प्रेमी के साथ मिलकर अपने 3 साल के बेटे को दूध में...

कलंकित हुई ममता : प्रेमी के साथ मिलकर अपने 3 साल के बेटे को दूध में जहर डालकर दिया…

अहमदाबाद | Poison given to son in milk : गुजरात से मां की ममता को कलंकित करने वाला मामला सामने आया है. जानकारी के अनुसार जब मां के अवैध संबंध में बेटा रोड़ा बन रहा था तो इस कुमाता ने दूध में जहर डालकर अपने ही बच्चे की हत्या कर दी. अपने 3 साल के बेटे को मारने के लिए आरोपी मां ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर जो साजिश रची वह सच में हैरान करने वाली है. अपनी प्लानिंग में हत्यारी मां पूरी तरह से कामयाबी हो गई थी.  पोस्टमार्टम रिपोर्ट से इस बात का खुलासा हो गया कि बच्चे की मौत का कारण तेज बुखार नहीं बल्कि जहर था. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पाया गया कि मरने के कुछ देर पहले ही बच्चे ने दूध और बिस्किट खाए थे जिसमें जहर मिला हुआ था.

Poison given to son in milk :

तेज बुखार होने पर की प्लानिंग

Poison given to son in milk : बताया जा रहा है कि 26 साल की ज्योति का पालनपुर में रहने वाले भूपेंद्र परमार के साथ अवैध संबंध था. बेटे को बुखार आने के बाद हत्यारिन मां ने अपने ही बेटे की जान लेने की योजना बना ली. बेटे को लेकर आरोपी मां यह कहकर साथ ले गई कि वह उसे डॉक्टर को दिखाने लेकर जा रही है. घर वालों को भी साथ पर कोई शक नहीं हुआ क्योंकि 2 दिनों से बेटे को तेज बुखार था. लेकिन डॉक्टर को ना दिखा कर मां ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर उसे दूध में जहर मिला कर दे दिया. इसके बाद वह उसे लेकर घर आ गई. घरवालों को यह बताया कि इंजेक्शन लगी है और वह भी सो रहा है. कुछ देर बाद जब घर वालों ने उसे उठाने की कोशिश की तो वह नहीं उठा. घरवाले उसे अफरा-तफरी में लेकर अस्पताल भाग गए. जहां कुछ देर के इलाज के बाद उसकी मौत हो गई.

इसे भी पढ़ें – Afghanistan सरकार पर मंडरा रहा Talibani खतरा! काबुल के नजदीक पहुचें लड़ाके, मार गिराया ईरानी मिलिट्री ड्रोन

Poison given to son in milk :

अस्पताल की रिपोर्ट में हुआ खुलासा

बच्चे को अस्पताल ले जाने पर डॉक्टर समझ गए कि तेज बुखार का कारण जहर है. हालांकि इलाज के दौरान डॉक्टरों ने परिवार वालों को कुछ नहीं बताया. लेकिन बच्चे की मौत के बाद अस्पताल के डॉक्टरों ने बच्चे का पोस्टमार्टम करने की अनुमति मांगी. उन्होंने बताया कि उन्हें लगता है कि बच्चे की मौत अप्राकृतिक रूप से हुई है. इसके बाद से हत्यारी मां के मन में डर समा गया था. 3 दिनों बाद बच्चे के पोस्टमार्टम की रिपोर्ट आ गई जिसमें इस बात की पुष्टि हो गई कि बच्चे की मौत जहर देने से हुई थी. बाद में पुलिस ने आरोपी मां के साथ उसके प्रेमी को भी गिरफ्तार कर लिया.

इसे भी पढ़ें- सुरक्षाबलों को 15 August से पहले बड़ी सफलता, कुलगाम में पाकिस्तानी आतंकी उस्मान ढेर, हमले की रच रहा था साजिश

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 + 1 =

kishori-yojna
kishori-yojna
ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
रोजगार और आर्थिक स्थिरता पर केंद्रित बजट
रोजगार और आर्थिक स्थिरता पर केंद्रित बजट