कार की छत तोड़ घुसा पत्थर, दर्दनाक मौत

बैतूल (मध्य प्रदेश)। सड़क पर बेफ्रिक होकर गाड़ी चला रहे युवक को पता नहीं होगा कि इस तरह भी मौत से उसका सामना हो सकता है। बैतूल जिले में एक स्टोन क्रेशर की खदान में सोमवार को किए गए विस्फोट का एक पत्थर हवा में उछलते हुए पास से ही गुजर रही एक कार में घुस गया जिससे उसमें सवार बैंक प्रबंधक की मौत हो गई।

यह हादसा बैतूल जिला मुख्यालय से लगभग 20 किलोमीटर दूर बैतूल-नागपुर फोरलेन पर ग्राम एनस में अपराह्र करीब एक बजे हुआ। बैतूल जिले के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रामस्नेही मिश्रा ने बताया, ‘‘फोरलेन से कुछ दूरी पर अल्वी स्टोन क्रेशर की खदान में विस्फोट के दौरान एक बड़ा पत्थर हवा में उछलकर आया और फोरलेन से गुजर रही कार की छत पर गिर गया। पत्थर छत को फाड़ते हुए सीधे कार चला रहे अशोक पंवार (45) के सिर में जा लगा। इस हादसे में पंवार की मौके पर ही मौत हो गई। वह होशंगाबाद के निवासी थे और एक बैंक में प्रबंधक थे।’’ उन्होंने कहा कि हादसे के दौरान इस कार में तीन लोग थे। कार में बैठे अन्य दो लोगों को मामूली चोट आई है।

उन्होंने बताया कि हादसे के वक्त ये लोग अपनी कार से बैतूल से मुलताई जा रहे थे।मिश्रा ने बताया कि कार चालक को पत्थर लगने के बाद साथ में बैठे जितेंद्र ने कार को संभाला और कार को सड़क के नीचे उतार दिया था। कार पलटी नहीं वरना कार में बैठे और लोगों के साथ भी बड़ा हादसा हो सकता था। उन्होंने कहा कि इस संबंध में पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और विस्तृत जांच जारी है।

वहीं, घटना के संबंध में बैतूल कलेक्टर तेजस्वी एस नायक ने मुलताई एसडीएम को जांच के आदेश दे दिए हैं और क्रेशर को सील कर दिया गया है।इसी बीच, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस (एसडीओपी) अनिल कुमार शुक्ला ने बताया कि यह जांच का विषय है कि स्टोन क्रेशर में दिन में विस्फोट कैसे किया गया, जब खदान फोरलेन के करीब है तो खदान में विस्फोट के समय सुरक्षा के इतजाम क्यों नहीं थे एवं खदान में विस्फोट के पत्थर फोरलेन पर आकर कैसे गिर रहे है? उन्होंने कहा कि इसमें स्टोन क्रेशर की बड़ी लापरवाही सामने आ रही है। इस पूरे मामले में मुलताई पुलिस जांच कर रही है।शुक्ला ने बताया कि इस मामले में स्टोन क्रेशर के संचालक से अनुमति सहित समस्त दस्तावेज मांगे गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares