nayaindia Navjot Singh Sidhu Resigns: सिद्धू ने मचाई Punjab की राजनीति में उथल-पुथल
ताजा पोस्ट | देश | पंजाब | राजरंग| नया इंडिया| Navjot Singh Sidhu Resigns: सिद्धू ने मचाई Punjab की राजनीति में उथल-पुथल

Sidhu Resigns: सिद्धू ने फिर मचाई Punjab की राजनीति में उथल-पुथल, पूर्व CM कैप्टन बोले- मैंने चेताया था, सिद्धू स्थिर व्यक्ति नहीं हैं…

चंडीगढ़ | Navjot Singh Sidhu Resigns: पंजाब की राजनीति में एक बार फिर से उथल-पुथल मच गई है। नवजोत सिंह सिद्धू ने मंगलवार को कांग्रेस की पंजाब इकाई के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देकर कांग्रेस पार्टी को फिर से हिला दिया है। पहले उनकी ही नाराजगी के चलते पंजाब के पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह को सीएम पद से इस्तीफा देना पड़ा था, तब पंजाब को एक नए सीएम चरणसिंह चन्नी मिले। लेकिन उसके बाद भी नवजोत सिंह सिद्धू की नाराजगी कम नहीं हुई और अब उन्होंने खुद ही पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष पद से अपना इस्तीफा दे दिया है। जिसके बाद अब उन्हें मनाने की खबरें सामने आने लगी हैं। वहीं, पूर्व सीएम कैप्टन ने भी उन पर कटाक्ष के तीर छोड़ें हैं। सिद्धू ने इसी साल जुलाई में पार्टी की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष का पद संभाला था।

Punjab Political Drama

कैप्टन बोले- सिद्धू स्थिर व्यक्ति नहीं हैं…
पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा है कि, उन्होंने पहले ही नवजोत सिंह सिद्धू को अध्यक्ष बनाए जाने को लेकर पार्टी को चेताया था। सिद्धू के इस्तीफे के बाद कैप्टन ने ट्वीट कर कहा कि, ‘मैंने पहले ही कहा था। वह स्थिर व्यक्ति नहीं हैं और पंजाब जैसे सीमा के इलाके के लिए सही भी नहीं हैं।

आपको बताना चाहेंगे की पंजाब में आज मंगलवार को ही सीमए चन्नी की कैबिनेट के मंत्रियों में विभाग का बंटवारा किया गया हैं और आज ही फिर से सियासी उथल-पुथल की घटना हो गई है। सिद्धू के इस कदम पर आप पार्टी ने भी उन पर निशाना साधा है। आम आदमी पार्टी के नेता सौरभ भारद्वाज ने कहा कि इससे यह पता चलता है कि सिद्धू दलित विरोधी हैं, एक गरीब मां के बेटे का मुख्यमंत्री बनना बर्दाश्त नहीं कर सके।

ये भी पढ़ें :- Rajasthan में पहली बार 18 घंटे में कोर्ट में पेश किया चालान, नाबालिग की रेप से जुड़ा है मामला

इसलिए दिया इस्तीफा!
Navjot Singh Sidhu Resigns: खबरों की माने तो सिद्धू के इस्तीफा देने का मुख्य कारण चन्नी कैबिनेट में शामिल किए गए मंत्रियों और उनके विभागों के बंटवारे को लेकर है। साथ ही ये बात भी सामने आ रही है कि, पंजाब के एडवोकेट जनरल पद पर की गई नियुक्ति को लेकर सिद्धू खुश नहीं है। हालांकि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को लिखे पत्र में सिद्धू ने कहा है कि, ‘किसी भी व्यक्ति के व्यक्तित्व में गिरावट समझौते से शुरू होती है, मैं पंजाब के भविष्य और पंजाब के कल्याण के एजेंडे को लेकर कोई समझौता नहीं कर सकता हूं। लेकिन कांग्रेस की सेवा करना जारी रखूंगा।

ये भी पढ़ें :- #Sidhu के बाद #Archna करने लगा Trend, देखें लोगों ने कैसे लिए मजे…

भाजपा ने कहा- ‘स्टूडेंट्स’ आने से पहले ही ‘गुरू’ चला गया…
आपको बता दें कि, कन्हैया कुमार और जिग्नेश मेवाणी ने आज राहुल गांधी की मौजूदगी में कांग्रेस का हाथ थामा हैं। लेकिन सिद्धू के इस्तीफे के बाद उनपर और कांग्रेस पार्टी पर चारों से तंज कसे जा रहे हैं। ऐसे में भाजपा के प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि ‘स्टूडेंट्स’ के आने से पहले ही ‘गुरू’ चला गया।

सीएम ‘चन्नी’ बोले- अभी जानकारी नहीं…
पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष पद से नवजोत सिंह सिद्धू के इस्तीफे पर सीएम चरणजीत सिंह चन्नी ने कहा कि, अभी उन्हें इसके बारे में जानकारी नहीं है। अगर ऐसा है और सिद्धू नाराज हैं तो उनसे बात की जाएगी। सिद्धू हमारे अध्यक्ष हैं और मुझसे उनकी कोई नाराजगी नहीं है।

Leave a comment

Your email address will not be published.

7 − 7 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
झारखंड सरकार की सोशल मीडिया में सक्रियता
झारखंड सरकार की सोशल मीडिया में सक्रियता