nayaindia Nawab Malik Admit Hospital : जेजे अस्पताल में भर्ती हुए नवाब मलिक...
kishori-yojna
ताजा पोस्ट | देश| नया इंडिया| Nawab Malik Admit Hospital : जेजे अस्पताल में भर्ती हुए नवाब मलिक...

Nawab Malik Case : पेट दर्द की शिकाय़त के बाद जेजे अस्पताल में भर्ती हुए नवाब मलिक…

Nawb Malik Case
Photo Source- Hindustan Times

मुंबई | Nawab Malik Admit Hospital : महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक कि अचानक तबीयत खराब होने के बाद उन्हें मुंबई के जेजे अस्पताल में भर्ती किया गया. दी गई जानकारी के अनुसार नवाब मलिक के पेट में तेज दर्द की शिकायत हुई थी जिसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया. हालांकि अब तक डॉक्टरों के द्वारा उनकी तबीयत को लेकर कोई अपडेट साझा नहीं की गई है. इसलिए इसके लिए अभी इंतजार करना होगा. यहां बता दें कि पिछले दिनों महाराष्ट्र सरकार के मंत्री नवाब मलिक खासा चर्चा में रहे हैं. ईडी कार्यालय में पूछताछ के बाद उन्हें 3 मार्च तक के लिए पुलिस कस्टडी में भेजा गया है. उनके ऊपर मनी लॉन्ड्रिंग के तहत केस दर्ज किया गया है.

अंडरवर्ल्ड के साथ कनेक्शन

Nawab Malik Admit Hospital : नवाब मलिक पर आरोप है कि उनके अंडरवर्ल्ड के डॉन के साथ कनेक्शन हैं. आरोप लगाए गए हैं कि नवाब मलिक ने दाऊद इब्राहिम और उनकी बहन हसीना पारकर के साथ कुर्ला स्थित गोवा वाला कंपाउंड में 3 एकड़ जमीन की खरीदारी की थी. यह भी आरोप लगाया गया है कि करोड़ों की जमीन नवाब मलिक ने मात्र ₹5500000 में खरीदी थी जिसकी कीमत 300 करोड़ के आसपास है. इसी मामले में पहले ED दफ्तर में उन्हें पूछताछ के लिए बुलाया गया था जिसके बाद उन्हें वही गिरफ्तार कर लिया गया. नवाब मलिक की गिरफ्तारी के विरोध में महाराष्ट्र सरकार के मंत्रियों ने सचिवालय में धरना देते हुए विरोध प्रदर्शन भी किया था.

इसे भी पढ़ें – Ukraine Russia War : तमिलनाडु सरकार ने की पहल, फंसे हुए छात्रों और नागरिकों की वापसी का उठाएगी खर्च…

नहीं कर रहा है जांच में मदद

Nawab Malik Admit Hospital : सूत्रों से जो जानकारी मिली है उसके अनुसार नवाब मलिक जांच में मदद नहीं कर रहे हैं. बताया तो यहां तक गया कि नवाब मलिक ईडी के अफसरों को ही डरा रहे हैं. बताया गया है कि इस मामले में नवाब मालिक के बेटे फराज को भी शामिल किया जाना है क्योंकि इस डील में उनका भी नाम है. इस सेल डीड में 55 लाख रुपए देने के बाद हसीना पारकर के दक्षिण मुंबई स्थित घर पर उन्होंने हस्ताक्षर भी किए थे. यह मामला 1999 से 2003 के बीच का है.

इसे भी पढ़ें-दिल्ली में दिखे देशभक्ति के रंग, राष्ट्रीय युद्ध स्मारक की तीसरी वर्षगांठ पर…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fourteen + 4 =

kishori-yojna
kishori-yojna
ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
खेलो इंडिया में होगा खिलाड़ियों का जमावड़ा
खेलो इंडिया में होगा खिलाड़ियों का जमावड़ा