UP's New Population Policy :  304 में से 152 विधायकों के हैं 3 या ज्यादा बच्चे..
देश | उत्तर प्रदेश | ताजा पोस्ट| नया इंडिया| UP's New Population Policy :  304 में से 152 विधायकों के हैं 3 या ज्यादा बच्चे..

ये तो हद है ! नई जनसंख्या नीति लाने वाले UP के CM योगी आदित्यनाथ के आधे से ज्यादा विधायकों के हैं 3 या उससे ज्यादा बच्चे…

लखनऊ । UP’s New Population Policy : दो दिनों पहले ही उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नई जनसंख्या नीति का विमोचन किया था. नई जनसंख्या नीति को लेकर पक्ष विपक्ष में जमकर राजनीति भी शुरू हो गई है. लेकिन आज हम बढ़ती जनसंख्या पर राजनीति नहीं लेकिन उत्तर प्रदेश सरकार में विधायकों के बच्चों की संख्या की बात करने जा रहे हैं. योगी आदित्यनाथ ने जिस नई जनसंख्या नीति का विमोचन किया था उसमें दो बच्चों की बात को जोर शोर से कहा गया है. इसके साथ ही बच्चा होने पर कई तरह की सरकारी सुविधाएं और अन्य लाभ देने की बात भी कही गई है. लेकिन क्या आपको पता है कि उत्तर प्रदेश सरकार ने भाजपा के आधे से ज्यादा विधायकों के 3 या उससे अधिक बच्चे हैं. 3 से अधिक बच्चों वाले भाजपा विधायकों की संख्या मौजूदा सरकार में 50% से ज्यादा है. सबसे बड़े मजे की बात यह है कि यदि भारतीय जनता पार्टी 2021 में इस विधेयक को पास कर देती है और विधानसभा चुनावों के लिए लागू कर देती है तो खुद भाजपा के 50% विधायक चुनाव लड़ने के लिए अयोग्य हो जाएंगे.

304 में से 152 विधायकों के हैं 3 या इससे ज्यादा बच्चे

UP’s New Population Policy :  यदि आपको भी हमारी बात पर विश्वास न हो तो आप खुद उत्तर प्रदेश विधानसभा की वेबसाइट पर जाकर आंकड़े चेक कर सकते हैं. इस वेबसाइट पर कुल 397 विधायकों की प्रोफाइल आपको दिखाई देगी. इनमें से 304 विधायक भारतीय जनता पार्टी के हैं. इन विधायकों में 152 ऐसे हैं जिनके बच्चों की संख्या 3 या उससे अधिक है. भोजपुरी और हिंदी फिल्म के अभिनेता गोरखपुर से लोकसभा सांसद रवि किशन के भी 4 बच्चे हैं. ऐसे में भारतीय जनता पार्टी को नई जनसंख्या नीति को लागू करने से पहले खुद में सोचना पड़ेगा.

इसे भी पढ़ें- देश में फिर बढ़े कोरोना मरीज, केरल में एक ही दिन में मिले 14 हजार 539 नए संक्रमित

जमकर हो रही है राजनीति

राम मंदिर का मसला सुलझने के बाद उत्तर प्रदेश में जनसंख्या पर राजनीति शुरू हो गई है. उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि 4 सालों का योगी सरकार ने कोई काम नहीं किया और अब जानबूझकर ऐसे कानूनों को बनाने की तैयारी कर रही है जिसे विवाद उत्पन्न हो. उन्होंने कहा कि भाजपा हमेशा से ही चुनाव के पहले इस तरह का काम करती है. वहीं मायावती ने भी नई जनसंख्या नीति पर योगी सरकार को घेरा और कहा कि मुख्य मुद्दों से भटकाने के लिए राज्य सरकार अंतिम समय में लोगों को गुमराह कर रही है.

इसे भी पढ़ें- Pulwama में सुरक्षाबलों ने ढेर किया पाकिस्तानी लश्कर कमांडर, दो और आतंकी मारे गए

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
बिजली संशोधन बिल पर विवाद
बिजली संशोधन बिल पर विवाद