उत्तर पूर्वी दिल्ली के दंगे विपक्ष की सोची समझी साजिश: गोयल

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री विजय गोयल ने उत्तर पूर्वी दिल्ली में बड़े पैमाने पर हिंसक घटनाओं को विपक्ष की सोची समझी साजिश बताते हुए दोष भाजपा के मत्थे मढ़ने का आरोप लगाया है। गोयल ने बुधवार को हिंसक घटनाओं में पुलिस हेड कांस्टेबल रतनलाल और अन्य सभी लोगों की मौत पर दु:ख जताया और राजधानी के लोगों से अफवाहों से बचने और शांति बनाए रखने की अपील की।

उन्होंने कहा कि गृह मंत्री अमित शाह लगातार स्थिति पर निगाह रखे हुए हैं और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल को जिम्मेदारी सौंपी है। डोभाल लगातार स्थिति का मुआयना और राजनीतिक दलों तथा दिल्ली पुलिस के अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे हैं। भाजपा सांसद ने कहा कि अर्धसैनिक बल और दिल्ली पुलिस की कोशिशों से शांति हुई है किंतु स्थिति अभी नाजुक है। उन्होंने सभी से आपसी भाईचारा बनाए रखने और किसी के बहकावे में नहीं आने की अपील की।

यह खबर भी पढ़ें:- निराश नहीं हताश हैं गोयल

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा हिंसा विपक्ष की काफी सोची समझी साजिश है। नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) को लेकर हिंसा भड़काने की बराबर कोशिश की जा रही थी। उच्चतम न्यायालय ने शाहीन बाग का धरना खत्म करने के लिए मध्यस्थता की बात कही तब विपक्षी पार्टियों ने जाफराबाद और मौजपुर में हिंसा फैलाने का कोशिश की और एक समुदाय-विशेष को उकसा कर हिंदुओं का नाम खराब किया जा रहा है और दोष भाजपा के मत्थे मढ़ने का प्रयास हो रहा है।

उन्होंने कहा कि बड़े आश्चर्य की बात है कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल हाथ पर हाथ धरे बैठे हैं जो कहते थे ‘मैं केवल आम आदमी पार्टी का नहीं बल्कि पूरी दिल्ली का मुख्यमंत्री हूं।’ उन्होंने कहा दिल्लीवाले हमेशा से ही गंगा-जमुनी तहजीब में भरोसा रखते आए हैं किंतु अब कुछ अराजक तत्वों की सोची समझी साजिश के चलते दंगे हो रहे हैं, हिंसा भड़कायी जा रही है और लोगों को गुमराह किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares