शर्म करो आप जनप्रतनिधि हो कोई मसखरे नहीं! सांसद ने कहा-गोमूत्र से भागेगा कोरोना,  मेरठ के एक नेता ने शंख और हवन कर बस्ती में घुमाया - Naya India
देश | उत्तर प्रदेश | ताजा पोस्ट | मध्य प्रदेश| नया इंडिया|

शर्म करो आप जनप्रतनिधि हो कोई मसखरे नहीं! सांसद ने कहा-गोमूत्र से भागेगा कोरोना,  मेरठ के एक नेता ने शंख और हवन कर बस्ती में घुमाया

New Delhi: देश में कोरोना की दूसरी लहर के कारण जो हालात बने हैं इससे शायद ही किसी को मजाक सूझ सकता है. लेकिन कोरोना के इस प्रकोप के बाद भी कुछ नेताओं की बड़बोली खत्म होने का नाम नहीं ले रही है. जीं हां हम बात कर रहे हैं भाजपा के कुछ ऐसे नेताओं की जो लगातार अजीब बयान देकर सुर्खयां बटोरने की कोशिश में लगे हुए हैं. ऐसा ही एक बयान एक बार फिर से भाजपा सासंद सासंद साध्वी प्रज्ञा ने कहा है कि गौमूत्र पीने से कोरोना का खतरा नहीं रहता है. साध्वी इतना ही कहकर नहीं रूकी साध्वी ने कहा कि उनकी कैंसर भी इसे से ठीक हो गया. साध्वी के इस बयान के बाद से सोशल मीडिया में तरह-तरह के मीम्स वायरल होने लगे. सोशल मीडिया में कुछ लोगों ने सांसद महोदया के इस बयान को आड़े हाथों ले लिया और जमकर अपनी भड़ास निकाल दी.

शंख का ध्वनी और हवन के धुंए से भागेगा कोरोना

मेरठ शंख की ध्वनि और हवन के धुएं से कोरोना संक्रमण को खत्म करने की तैयारी की जा रही है. मेरठ के एक भाजपा नेता ने हनुमान चालीसा का पाठ करके हवन का धुआं मलिन बस्ती में घुमाया. इसके साथ ही दावा किया कि शंख की ध्वनि से वायुमंडल में फैला वायरस खत्म हो जाएगा. भाजपा नेता गोपाल शर्मा ने खुद ही हवन सामग्री का धुआं मलिन बस्ती में घुमाते हुए अपना वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल किया है..गोपाल शर्मा का मानना है कि शंख की ध्वनि और हवन के धुएं से वायुमंडल में ऑक्सीजन का संचार बढ़ेगा. जिसके चलते वायुमंडल में फैला वायरस भी खत्म हो जाएगा और लोगों को कोरोना संक्रमण से मुक्ति भी मिलेगी. मेरठ में हवन सामग्री के धुएं के सहारे कोरोना संक्रमण पर काबू पाने का यह अनोखा तरीका भाजपा के नेता गोपाल शर्मा ने ईजाद किया है.

इसे भी पढें- कोरोना ने किसी को नहीं बख्शा : दिल्ली विश्वविद्यालय के 30 से ज्यादा शिक्षकों की कोरोना से मौत

पार्टी के लिए भी परेशानी बनते हैं ऐसे बयान

कोरोना के कारण देश भर में हालात कुछ ऐसे ही है कि केंद्र सरकार भीा काफी दबाव में है. सरकार के दबाव के पीछे का कारण भी ये है कि लगातार हो रही मौतें और बढ़ते संक्रमण के कारणअब भारत सरकार की कार्य शैली पर सवाल खड़े हो रहे हैं. ऐसे में विपक्ष भीा लगतार सरकार पर हमलावर है. ऐसे में अब भाजपा के ही नेताओं के ऐसे बयान निश्चय ही सरकार की परेशानियां बढ़ाने वाले हैं. इसके साथ ही पार्टी के नेताओं द्वारा दिये जे रहे ऐसे बयान इन हालातों में किसी भी सूरत में पार्टी के आलाकमानों को रास नहीम आएगा.

इसे भी पढें- CM Tirath singh Rawat के नाक के नीचे से अस्पताल प्रबंधन ने छिपाए 65 संक्रमित मौतों के आंकड़ें

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *