ताजा पोस्ट | देश | पते की बात | लाइफ स्टाइल

Corona safety: ऐसे घर पर ही कर लें फेफड़ों की जांच, WHO  व ICMR ने भी की है पुष्टि

New Delhi: देशभर में  फैले कोरोना के मामलों को देख अब लोग घर से बाहर नहीं जाना चाह रहे हैं. ऐसे में लोग घर पर ऑक्सीमीटर से ऑक्सीजन की जांच कर रहे हैं. लेकिन इसके बाध भी कई लोग संतुष्त नहीं हो पा रहे हैं. अब विशेषज्ञों ने कोरोना के मरीज को होम आइसोलेशन में रहते हुए ऑक्सीजन लेवल की मॉनिटरिंग करने की सलाह दी है. विशेषज्ञ डॉक्टरों का कहना है कि सामान्य अवस्था में ऑक्सीजन लेवल की माप सही से नहीं हो पाती है. ऑक्सीजन की सही माप का पता छह मिनट चलने के बाद ही लगाया जा सकता है. दरअसल, कई लोग बिना वजह के भी सीटी स्कैन (Hrct Test) करवा रहे हैं. दिल्ली एम्स के डायरेक्टर डॉ रणदीप गुलेरिया ने इससे कैंसर के होने का खतरा बताया है. एम्स डायरेक्टर डॉ गुलेरिया  ने कहा कि 1 सीटी स्कैन 300 से 400 एक्स-रे (X-Ray) के बराबर होता है. अत: बिना डॉक्टरी से सलाह लिए और जरूरत के बिना ही सीटी स्कैन करवाने से कैंसर का खतरा बढ़ जाता है (Cancer Risk Increases).

6 मिनट पैदल चल पता करें ऑक्सीजन लेवल  

कोरोना से उत्पन्न हालातों को देखते हुए डॉक्टरों का कहना है कि  6 मिनट पैदल चलने के बाद ऑक्सीमीटर से जांच करें. अगर ऑक्सीजन का लेवल 95 के ऊपर है, तो यह मानना चाहिए कि आपका फेफड़ा सही रूप से काम कर रहा है. फेफड़ा को ऑक्सीजन मिल रहा है. जिनका ऑक्सीजन लेवल 95 के नीचे यानी 92 तक आ जाता है, तो उन्हें तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए. यह अलार्म है कि आपके फेफड़ा को बाहर से ऑक्सीजन देने की जरूरत है.बुजुर्ग छह मिनट तक तेज नहीं चल सकते हैं. इसलिए उनका समय तीन मिनट निर्धारित किया गया है. बुजुर्गों को तीन मिनट चलने के बाद पल्स ऑक्सीमीटर से ऑक्सीजन की जांच करनी चाहिए. अगर ऑक्सीजन का स्तर 94 से कम आता है, तो यह खतरे की घंटी है.

ऐसे बढ़ा सकते हैं ऑक्सीजन का स्तर

बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच अब मरीजों को ऑक्सीजन देना सरकार के लिए परेशानी का सबब बना हुआ है.  अगर किसी मरीज को फेफड़ों में दिक्कत है और ऑक्सीजन लेवल को बढ़ाना है, तो घर पर ही कुछ उपाय कर सकते हैं. ऐसे रोगियों को कम से कम एक से दो घंटे पेट के बल लेटना चाहिए. ऐसा करने से फेफड़ों को आराम मिलता है व ऑक्सीजन के स्तर में सुधार होता है. होम आइसोलेशन में रहने वाले वैसे संक्रमित जिनके पास ऑक्सीमीटर नहीं है, तो वे भी ऑक्सीजन लेवल का अनुमान लगा सकते हैं. विशेषज्ञों का कहना है कि अगर 50 मीटर की दूरी को कोई व्यक्ति 15 से 17 चक्कर लगा लेता है और सांस फूलने की समस्या व धड़कन तेज होने की समस्या नहीं आती है, तो समझना चाहिए कि उनका फेफड़ा सही है. ऑक्सीजन की दिक्कत नहीं है.

इसे भी पढें- Rajasthan COVID 19 Update : सख्त पाबंदियां भी नहीं तोड़ पा रही कोरोना की चेन, आज सामने आए 17987 नए केस, 160 लोगों की गई जान

WHO व ICMR ने भी की है पुष्टि

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) व इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) ने भी इसकी पुष्टि की है. ICMR ने गाइडलाइन जारी कर कहा है कि बैठ कर ऑक्सीजन लेवल का सही पता नहीं चलता है. ऐसे में छह मिनट तेज चलने के बाद ऑक्सीजन लेवल की जांच ही सही तरीका है. इस विषय पर डॉ निशिथ कुमार( फेफड़ा रोग विशेषज्ञ) ने कहा कि कोरोना संक्रमण में फेफड़ा को बचाना सबसे अहम होता है. ऑक्सीजन लेवल की मॉनिटरिंग करके हम फेफड़ा की स्थिति का आकलन कर सकते हैं. छह मिनट चलने के बाद ही ऑक्सीजन का सही रिजल्ट आता है. तेज चलें और अगर आपका ऑक्सीजन लेवल 95 से ऊपर है तो ठीक है. फेफड़ा के फैलाव का व्यायाम कर आप ऑक्सीजन लेवल को बढ़ा कर 98 से 99 तक ला सकते हैं.

इसे भी पढें- Good News: केंद्र सरकार की इस नयी गाइडलाइन से मिलेगी आम लोगों को राहत, आपको भी जानकर होगी खुशी 

Latest News

जो भी नागरिक वैक्सीन नहीं लगवाएगा वह भारत जा सकता है- फिलीपिंस के राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते की धमकी
इन दिनों फिलीपिंस के राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते ( philipines president about corona vaccine )आए दिन चर्चा में बने रहते है। कुछ दिन…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Naya India
कोविड-19 अपडेटस | विदेश

जो भी नागरिक वैक्सीन नहीं लगवाएगा वह भारत जा सकता है- फिलीपिंस के राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते की धमकी

philipines

इन दिनों फिलीपिंस के राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते ( philipines president about corona vaccine )आए दिन चर्चा में बने रहते है। कुछ दिन पहले राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते ने कहा था कि यदि कोई कोरोना वैक्सीन नहीं लगवाएगा तो उसे जेल में डाल दिया जाएगा। एक बार फिर राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते मे कोरोना वैक्सीन को लेकर अजीब वयान दे डाला है। फिलीपींस के राष्‍ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते ने राष्ट्र को संबोधित करते हुए कहा कि इस समय देश एक बड़े संकट का सामना कर रहा है। अगर आपमें से कोई वैक्‍सीन नहीं लगवाएगा तो मैं आपको गिरफ्तार करवा दूंगा। इस बार राष्ट्रपति ने बारत को लेकर बड़ा बयान दिया है। खबर पढ़कर ऐसा लग रहा है कि वे भारत को लेकर अपने देश के नागरियों को धमकी दे रहे है।

President Rodrigo Duterte

also read: अब एशिया के दो सबसे अमीर लोगों में शामिल हुए अडानी , मुकेश अंबानी की बादशाहत को भी खतरा

क्या कहा राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते ने ( philipines president about corona vaccine )

राष्‍ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते ने पहले से रिकॉर्ड किए गए उनके सार्वजनिक भाषण में कहा कि जो लोग वैक्सीनेशन के इच्छुक नहीं हैं। उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा। इसके बावजूद अगर कोई वैक्‍सीन नहीं लगवाना चाहता तो वह भारत या अमेरिका जा सकता है। कोरोना वैक्सीन लगवाने से हम कोरोना को हरा सकते है। वैक्सीन लगवाने में कोई खतरा नहीं है। इसलिए आप सभी निडर होकर वैक्सीन लगवाएं। रोड्रिगो दुतेर्ते ने राष्ट्र को संबोधित कर रहे थे और उन्होनें कहा कि इस समय देश कोरोना महामारी जैसे बड़े संकट का सामना कर रहा है। देश में राष्‍ट्रीय आपातकाल की हालत बनी हुई है। आप लोग मुझे गलत मत समझिएगा लेकिन अगर आपमें से कोई वैक्‍सीन नहीं लगवाएगा तो मैं आपको गिरफ्तार करवा दूंगा। उन्‍होंने कहा कि हम पहले से ही कोरोना महामारी से जूझ रहे हैं और आप हमारे बोझ को और बढ़ा रहे हैं। तो आप सभी फिलिपिनो सुन रहे हैं। सावधान रहें, सतर्क रहें। और बड़ी संख्या में सभी लोग कोरोना वैक्सीन लगवाएं। दुतर्ते ने अपने यहां के नागरिकों को धमकी देते हुए कहा कि उन्‍हें जबरदस्‍ती ताकत का इस्‍तेमाल करने के लिए मजबूर न करें। उन्‍होंने साफ तौर पर कहा कि जो लोग वैक्‍सीन नहीं लेना चाहते वह फिलीपींस छोड़ सकते हैं।

corona

फिलीपिंस में कोरोना के मामले

राष्ट्रपति ने कहा है कि कहा कि जो लोग मेरी धमकियों के बाद भी वैक्‍सीन नहीं लगवाना चाहते वह भारत या अमेरिका जा सकते हैं। जब तक आप यहां हैं तब तक एक ऐसे इंसान की तरह हैं जो वायरस फैला सकता है। समझदारी इसी में है कि स्वंय ही टीका लगवा लें। इससे पहले दुतर्ते ने कहा था कि, वह उन मूर्खों के कारण गुस्‍से में आ रहे है जो कोरोना वैक्‍सीन ( philipines president about corona vaccine ) नहीं लगवा रहे हैं। फिलीपींस के स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि देश ने बुधवार को 4,353 नए कोरोना केस दर्ज किए हैं। वहीं फिलीपींस में कुल मामलों की संख्या 1,372,232 है जबकि अब तक 23 हजार लोगों की मौत कोरोना वायरस के कारण हुई है। बता दें कि दक्षिण पूर्व एशियाई देश की आबादी लगभग 11 करोड़ है।

covid

राष्ट्रपति के विवादित बयान

इससे पहले भी फिलीपिंस के राष्‍ट्रपति ने कोरोना वायरस के दौरान लगाए गए लॉकडाउन को लेकर विवादित बयान दिया था। राष्‍ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते (philipines president about corona vaccine ) को ऐसे बयान देते हुए देखा जा चुका है। राष्ट्रपति ने कहा था कि जो भी नागरिक लॉकडाउन का उल्लंघन करेगा उसे गोली मार दी जाएगी। इसके बाद देश में लॉकडाउन का उल्‍लंघन करने वाले कई लोगों को गोली मार देने की कथित घटना सामने आई थी। इसके बाद राष्ट्रपति ने वैक्सीन ना लगवाने वालों को जेल भेजने का आदेश दिया था। आए दिन राष्ट्रपति ऐसे बयान देते हुए नज़र आते है।

Latest News

aaजो भी नागरिक वैक्सीन नहीं लगवाएगा वह भारत जा सकता है- फिलीपिंस के राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते की धमकी
इन दिनों फिलीपिंस के राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते ( philipines president about corona vaccine )आए दिन चर्चा में बने रहते है। कुछ दिन…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *