Bengal Politics : आज नहीं लौटेंगे पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़, एक बार फिर कर सकते हैं अमित शाह से मुलाकात - Naya India
ताजा पोस्ट | देश | पश्चिम बंगाल| नया इंडिया|

Bengal Politics : आज नहीं लौटेंगे पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़, एक बार फिर कर सकते हैं अमित शाह से मुलाकात

नई दिल्ली | पश्चिम बंगाल में विधान सभा चुनाव के खत्म होने के बाद भी विवाद खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है. बता दें कि पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ फिलहाल दिल्ली में हैं. दिल्ली दौरे के दौरान उन्होंने अमित शाह से मुलाकात की थी. बताया जा रहा था कि आज दोपहर तक धनखड़ वापस बंगाल लौट सकते हैं. लेकिन अर मिल रही जानकारी के अनुसार धनखड़ आज भी दिल्ली में ही रूकने वाले हैं. सूत्रों से मिल रही जानकारी के अनुसार राज्यपाल जगदीप धनखड़ एक बार फिर से गृह मंत्री अमित शाह से मिल सकते हैं. माना जा रहा है कि दोबारा से मुलाकात करने के पीछे कारण
राज्य में कानून एवं व्यवस्था की स्थिति पर चर्चा करना ही होगा.

गुरूवार को भी की थी अमित शाह से मुलाकात

बता दें कि राज्यपाल घनखड़ ने बृहस्पतिवार को भी गृह मंत्री से मुलाकात की थी. दोनों की मुलाकात के बाद मीडिया में ये खबर भी प्रसारित की गई थी कि बंगाल में कानून व्यवस्था के हालातों पर गृह मंत्री और बंगाल के राज्यपाल की मुलाकात हुई थी. उस समय भी कहा जा रहा था कि बंगाल चुनाव के दौरान हिंसा की घटनाओं के काऱण इन दोनों ने मुलाकात की है. हालांकि मुलाकात के बाद दोनों में से किसी ने भी मीडिया के सामने कुछ नहीं कहा था.

इसे भी पढें-  Mamta Banerjee को नंदीग्राम सीट हारने का अब भी है मलाल, 46 दिन बाद पहुंची हाईकोर्ट

BJP विधायकों ने दी थी याचिका

पश्चिम बंगाल के राज्यपाल धनखड़ मंगलवार को देश की राजधानी दिल्ली पहुंचे थे. राज्यपाल के दिल्ली रवाना होने के पहले भाजपा के विधायकों के प्रतिनिधिमंडल ने राज्य में कथित तौर पर कानून एवं व्यवस्था बिगड़ने को लेकर उन्हें एक याचिका दी थी. इसके बाद राज्यपाल धनखड़ ने इस संबंध में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को भी एक पत्र लिखा था और उन पर राज्य में चुनाव के बाद हिंसा पर चुप्पी साधने और प्रभावित लोगों के पुनर्वास के लिए कदम नहीं उठाने का आरोप लगाया था.

इसे भी पढें – WildLife : चंबल नदी से आ रही है बड़ी खबर, राष्ट्रीय चंबल सेंचुरी के अफसरों ने कहा- पहले कभी नहीं हुआ ऐसा

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *