Hindu orphan raised by Muslim family : हिंदू रीति-रिवाजों से उसका विवाह
देश| नया इंडिया| Hindu orphan raised by Muslim family : हिंदू रीति-रिवाजों से उसका विवाह

अखंडता में एकता : मुस्लिम परिवार ने दिखायी मानवता, दशकों से अनाथ को बेटी की तरह पालने के बाद हिंदू रीति-रिवाजों से कराई शादी

Strange Marriage In UP :

विजयपुर | Hindu orphan raised by Muslim family : राजनीतिक और धार्मिक मतभेदों के बीच कई बार ऐसे मामले सामने आते हैं जो समाज के लिए प्रेरणादायक हैं. ऐसा ही एक मामला कर्नाटक के विजयपुर से सामने आया है. यहां रहने वाले एक मुस्लिम परिवार ने 18 साल की हिंदू युवती को ना सिर्फ अच्छी परवरिश दी बल्कि शादी की उम्र होने पर हिंदू रीति-रिवाजों से उसका विवाह भी कराया. इस खबर के सामने आने के बाद विजयपुर में यह परिवार किसी सेलिब्रिटी से कम नहीं आंका जा रहा. सोशल मीडिया में भी लोग इस परिवार की खुलकर तारीफ कर रहे हैं. बताया जा रहा है कि युवती अनाथ थी और पिछले एक दशक से इस परिवार के साथ ही रह रही थी.

Hindu orphan raised by Muslim family :

धर्म परिवर्तन के लिए कभी नहीं कहा

Hindu orphan raised by Muslim family : अनाथ बच्ची को पिता का प्यार देने वाले महबूब बताते हैं कि वह हमारे घर की ही बेटी है. महबूब का कहना है कि उसे हमने बचपन से अपनी बेटी की तरह ही प्यार किया है. हालांकि उसका जन्म एक हिंदू परिवार में हुआ था इसीलिए हमने कभी भी उसे मुस्लिम धर्म अपनाने के लिए कुछ नहीं कहा. यही कारण है कि वह हमारे घर में रहते हुए भी अपने तौर तरीके उसे पूजा पाठ करती रही. मेरे घर वालों को और हमें इस चीज से कभी भी कोई परेशानी नहीं थी क्योंकि वह हमारी बेटी ही है. भावुक होते हुए महबूब कहते हैं कि मेरी बेटी के कारण ही मेरे घर पर ईद और दीवाली दोनों मना करती थी.

इसे भी पढ़ें- सावन विशेष : कहीं आप भी को नहीं चढ़ाते भगवान शिव पर ये 6 चीजें, करना पड़ सकता है गुस्से का सामना…

Hindu orphan raised by Muslim family :

बिना दहेज संपन्न कराया विवाह

महबूब ने कहा कि उन्हें दहेज लेने या देने से सख्त नफरत है. महबूब कहते हैं कि हमने अपने बेटे की शादी में भी ₹1 का भी दहेज नहीं लिया. ऐसे में मेरी इच्छा थी कि मेरी बेटी की शादी जहां भी हो वहां उसकी पूछ हो ना कि उसके पैसों की. उन्होंने कहा कि अल्लाह का शुक्र है कि हमें ऐसा परिवार मिल गया जिसे दहेज में दिलचस्पी नहीं थी और वह हमारी बेटी को अपनी बेटी की तरह ही रखेंगे. वहीं 10 साल तक गैरों के बीच अपनों की तरह रहती हुई युवती ने कहा कि मेरे पिता मुझसे बहुत प्यार करते हैं. भावुक होते हुए बेटी ने कहा कि यदि मेरे अपने मां-बाप भी होते तो शायद मुझे इतना प्यार नहीं मिलता.

इसे भी पढ़ें- हंस मत देना ! किसी को नहीं बख्शता था ये चोर, शादी के लिए लड़की देखने गये तो चुरा लिया लड़की का मोबाइल…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow