nayaindia Vande Bharat train big gift for Sikh community वंदे भारत ट्रेन सिख समुदाय के लिए बड़ी सौगात
kishori-yojna
देश | पंजाब| नया इंडिया| Vande Bharat train big gift for Sikh community वंदे भारत ट्रेन सिख समुदाय के लिए बड़ी सौगात

वंदे भारत ट्रेन सिख समुदाय के लिए बड़ी सौगात

अमृतसर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) द्वारा आज आनंदपुर साहिब के लिए चलाई गई वंदे भारत ट्रेन (Vande Bharat Train) को सिख समुदाय के लिए बड़ी सौगात बताते हुए भाजपा नेता सरचांद सिंह ख्याला (Sarchand Singh Khyala) ने कहा कि इस ट्रेन के चलने से उत्तर भारत (India) के धार्मिक स्थलों का दौरा करने वाले तीर्थयात्रियों और पर्यटन उद्योग का विस्तार होगा। प्रो सरचंद सिंह ख्याला ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के नेतृत्व में भारत अतीत की चुनौतियों से सफलतापूर्वक पार करते हुए मजबूत और तेज गति से आगे बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि भारत द्वारा उच्च स्तर पर परिवहन के बुनियादी ढांचे को विकसित करके बनाई गई आधुनिक परिवहन प्रणाली ने दुनिया का ध्यान आकर्षित किया है। उन्होंने कहा कि वंदे भारत ट्रेन से लोगों का सफर आसान होगा।

दिल्ली और वैष्णो देवी माता, कटरा के बीच आधुनिक सुरक्षा सुविधाओं और सुपर-फास्ट सेवाओं के साथ एक सेमी-हाई स्पीड आरामदायक वंदे भारत ट्रेन पहले ही शुरू की जा चुकी है। अब दिल्ली और ऊना के बीच चलने से हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) की माता ज्वालाजी और माता चिंतापूर्णी के भक्तों को भी इसका लाभ मिलेगा। भाजपा नेता ने कहा कि वंदे भारत ट्रेन सिखों के बड़े धार्मिक स्थल तख्त केसगढ़ साहिब, आनंदपुर साहिब में रुकेगी, जिससे विभिन्न देशों के तीर्थयात्री, व्यापारी वर्ग और पर्यटक इस ट्रेन से गुरु नगर पहुंच सकेंगे। उन्होंने प्रधानमंत्री से वंदे भारत ट्रेन के दायरे को सिखों के पांच तख्तों अकाल तख्त अमृतसर, तख्त दमदमा साहिब तलवंडी साबो, तख्त पटना साहिब बिहार और तख्त हजूर साहिब नांदेड़ तक बढ़ाने की अपील की है। (वार्ता)

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

11 + four =

kishori-yojna
kishori-yojna
ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
कनाडा में हिंदू मंदिर में तोड़फोड़, पहले ऑस्ट्रेलिया में मंदिर बनाए गए थे निशाना
कनाडा में हिंदू मंदिर में तोड़फोड़, पहले ऑस्ट्रेलिया में मंदिर बनाए गए थे निशाना