Another case of dowry in Rajasthan: कहा- मेरे प्राइवेट पार्ट में मिर्ची डालकर...
देश | राजस्थान| नया इंडिया| Another case of dowry in Rajasthan: कहा- मेरे प्राइवेट पार्ट में मिर्ची डालकर...

Rajsthan : मरने के पहले बहू ने वीडियो में खोली ससुराल की पोल, कहा- मेरे प्राइवेट पार्ट में मिर्ची डालकर…

Another case of dowry in Rajasthan:

भीलवाड़ा। Another case of dowry in Rajasthan: दहेज पर कानून बनने कितने सालों के बाद भी घरों में बहुएं प्रताड़ित होती हैं. ऐसा ही एक दिल को दहला देने वाला मामला राजस्थान के भीलवाड़ा से सामने आया है. जानकारी के अनुसार महज 2 महीने पहले हुए एक शादी के बाद से बहू को दहेज के लिए प्रताड़ित किया जाने लगा. कई बार घर वालों ने जाकर ससुराल वालों के सामने मिन्नतें की लेकिन ससुराल वाले फिर भी ₹600000 की मांग करते रहे. महज 2 महीनों में घर की बहू को ससुराल वालों ने इतना परेशान किया कि वह अपनी जान देने को मजबूर हो गई. पीड़िता ने जहर खाकर अपनी जान दे दी. लेकिन जहर खाने के पहले पीड़िता ने एक वीडियो बनाया जिसमें उसने अपने ससुराल वालों की सारी पोल खोल कर रख दी. वीडियो में पिता ने बताया है कि कैसे उसके ससुराल वाले उसके साथ जानवरों जैसा व्यवहार करते थे और कई अमानवीय हरकतें भी करते थे.

Another case of dowry in Rajasthan:

प्राइवेट पार्ट में मिर्ची डाल..

Another case of dowry in Rajasthan:पीड़िता ने अपने ससुराल वालों पर अपनी मौत की सारी जिम्मेवारी दी है. पीड़िता ने अपने ससुराल वालों से तंग आकर जहर खा लिया. जब तक परिवार वालों से अस्पताल तक ले जाए उसकी मौत हो चुकी थी. जहर खाने के पीड़िता ने एक वीडियो बनाया था जिसमें उसने कहा कि मेरी मौत के जिम्मेदार मेरी सास , ननंद और मेरा पति है. वीडियो में पीड़िता ने बताया कि उसके साथ कई बार मारपीट की गई और उसके कपड़े फाड़ दिए जाते थे. पीड़िता का कहना है कि उसको एक कमरे में बंद कर कई बार अमानवीय हरकतें की गई. पीड़िता ने बताया कि उसकी सास और ननद ने उसके प्राइवेट पार्ट में लाल मिर्च डाल कर नमक लगा दिए जिसके कारण वह 2 दिनों तक ठीक से खड़ी भी नहीं हो पा रही थी.

इसे भी पढ़ें – श्रावण 2021 : जानिये..भारत के सबसे बड़े शिवमंदिर के बनने के पीछे की कहानी

Another case of dowry in Rajasthan:

पिता है राजस्थान पुलिस में हेड कांस्टेबल

यहां बता दें कि पीड़िता के पिता भैरू लाल राजस्थान पुलिस में हेड कांस्टेबल के पद पर हैं. उन्होंने बेटी की मौत के बाद कहां की 2 महीनों में 5 बार ससुराल जाकर उन्हें समझाने की कोशिश की थी. लेकिन बार-बार में ₹600000 की मांग करते थे. हेडकॉन्स्टेबल का कहना है कि उन्होंने कभी सपने में भी नहीं सोचा था कि उनकी बेटी इतनी कमजोर निकलेगी और वह आत्महत्या कर लेगी. भीलवाड़ा पुलिस अब इस पूरे मामले की जांच कर रही है. आरोपी परिवार फरार बताया जा रहा है और पुलिस उनको पकड़ने के लिए लगातार छापेमारी कर रही है.

इसे भी पढ़ें- कहते रहे किसी ने नहीं मांगा , फिर आज सरकार के 2 साल पूरे होने पर पद छोड़ते देते हुए भावुक हुए येदियुरप्पा, जानें क्या कहा…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *