nayaindia Rajasthan Jodhpur Violence : भाजपा प्रदेश में कर रही है माहौल खराब...
ताजा पोस्ट | देश | राजस्थान| नया इंडिया| Rajasthan Jodhpur Violence : भाजपा प्रदेश में कर रही है माहौल खराब...

Rajasthan : फिर बरसे सीएम गहलोत -भाजपा प्रदेश में कर रही है माहौल खराब…

Rajasthan Jodhpur Violence :
Image Source : Gahlot

जयपुर | Rajasthan Jodhpur Violence : राजस्थान में होने वाले विधानसभा चुनावों के पहले एक बार फिर से सांप्रयदायिक हिंसाओं से राज्य जल रहा है. कांग्रेस और भाजपा इन मामलों के पीचे एक दूसरे को जिम्मेवार ठहरा रहे हैं.ऐसे में एक बार फिर से सूबे के सीएम अशोक गहलोत ने भाजपा पर राज्य में माहौल खराब करने की कोशिश करने का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा है कि भाजपा का पूरे मुल्क में टारगेट कोई है, वह राजस्थान है और इसलिए दंगे भड़का रहे हैं. कांग्रेस चिंतन शिविर की तैयारियों का जायजा लेने आज यहां पहुंचे सीएम गहलोत ने हवाई अड्डे पर मीडिया से बातचीत के दौरान उक्त बातें कहीं. उन्होंने कहा कि हिंसा से किसी भी प्रकार का समझौता नहीं किया जाएगा. दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

हाईकमान से मिलते हैं निर्देश

Rajasthan Jodhpur Violence : सीएम हगलोत ने कहा कि भाजपा घबराई हुई हैं. राज्य में नेताओं को हाईकमान से निर्देश मिला है कि राजस्थान सरकार को जितना बदनाम कर सको करो तथा जितनी अस्थिरता कर सको करो. उन्होंने कहा कि राज्य में भाजपा के मुख्यमंत्री के उम्मीदवार बन गये, उनमें प्रतिस्पर्धा है और उन्हें होमवर्क दे दिया गया हैं. इसलिए ये लोग लंबा खींच रहे हैं जबकि करोली में शीघ्र ही शांति हो गई थी लेकिन चला रहे है. मुख्यमंत्री ने कहा कि राजगढ़ की घटना भाजपा की खुद की हुई हैं की जोधपुर की घटना में केन्द्रीय मंत्री और पूर्व मंत्री सब उत्तर गये. उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि इनको मैसेज आते हैं किस प्रकार खिलाफ में प्रचार चलाना है.

इसे भी पढें- Loudspeaker Controversy : राज ठाकरे ने शेयर किया बालासाहेब का पुराना वीडियो, 80 हजार मनसे कार्यकर्ताओं को नोटिस

हमने दंगे होने नहीं दिए

Rajasthan Jodhpur Violence : श्री गहलोत ने कहा कि मैंने पहले ही था कि इनके जे पी नड्डा आग लगाने आये हैं, श्री नड्डा आये और आग लग गई करौली के अंदर, राजगढ़ नगरपालिका में भाजपा का बोर्ड है और 35 में से 34 पार्षद भाजपा के हैं और सड़क चौड़ी करने का प्रस्ताव पास किया गया और बदनाम कांग्रेस को कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि कल जोधपुर में जो कुछ हुआ कोई ऐसा मुद्दा नहीं था कि जहां दंगा भड़कने की स्थिति आए. ये तो हम लोगों ने दंगा कहीं होने नहीं दिया, न करौली में, न राजगढ़ में, न जोधपुर में, इसीलिए कोई कैजुअलिटी नहीं हुई, कोई बड़ी घटना नहीं हुई. वरना आप जानते हो कि जब हिंदू-मुस्लिम के दंगे हुए हैं तो क्या स्थिति बनती है, देश के अंदर क्या-क्या हालात हुए हैं.

इसे भी पढें-RBI Repo Rate : 2018 के बाद पहली बार RBI ने नीतिगत दरें बढ़ाईं, सभी प्रकार के लोन पर पड़ेगा असर…

Leave a comment

Your email address will not be published.

2 × five =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
औरंगाबाद और उस्मानाबाद का नाम बदला
औरंगाबाद और उस्मानाबाद का नाम बदला