Rajasthan: नोटों की होली जलाने वाले तहसीलदार के लिए पूर्व मंत्री बोले भरतसिंह यह रेयर आफ रेयरेस्ट मामला, बर्खास्त कर दो

Must Read

RAJASTHAN-CONGRESS-MLA_JPEG

जयपुर | अशोक गहलोत सरकार में भ्रष्टाचार के खिलाफ लगातार सक्रिय कांग्रेस के विधायक और पूर्व मंत्री भरतसिंह कुन्दनपुर (Bharat Singh Kundanpur) ने एक बार अपने सदर को पत्र लिखा है। सिंह ने पिण्डवाड़ा तहसीलदार कल्पेश कुमार जैन (Pindwara Tehsildar Kalpesh Kumar Jain) द्वारा रिश्वत लेते पकड़े जाने पर लाखों रुपए चूल्हे पर फूंक दिए जाने को रेयर आफ रेयरेस्ट बताते हुए उसे तत्काल प्रभाव से सेवा से बर्खास्त (Terminate from Service) करने की मांग की है।

Must Read : Rajasthan में भ्रष्टाचार : बाहर ACB खड़ी थी, तहसीलदार और उसकी पत्नी ने गैस चूल्हे पर फूंक दिए बीस लाख रुपए, Video Viral

कोटा जिले के सांगोद से कांग्रेस विधायक (Sangod Congress MLA) व पूर्व मंत्री भरत सिंह ने एक बार फिर अपनी सरकार के मुखिया को पत्र लिखा है। इस बार भी उन्होंने रिश्वत के आरोपी, भ्रष्ट अधिकारी को बर्खास्त करने की मांग की है। मुख्यमंत्री के नाम लिखे पत्र में भरत सिंह ने चूल्हे पर नोटों की गड्डियां चलाने वाले तहसीलदार कल्पेश जैन को एसीबी द्वारा पकड़े जाने पर बर्खास्त करने की मांग की हैं।

भरतसिंह ने सरकार अनुच्छेद 311 का इस्तेमाल कर इस अधिकारी को बिना नोटिस, सुनवाई और प्रक्रिया के तहसीलदार को बर्खास्त करने की मांग की है। आपको याद रहे कि पुलिस अधिकारी कैलाश चन्द बोहरा का रिश्वत में अस्मत मांगने वाला मामला राज्य सरकार ने रेयर ऑफ रेयरेस्ट बताते हुए उन्हें बर्खास्त करने की प्रक्रिया शुरू की थी। यही प्रावधान कल्पेश जैन पर लागू करने की मांग कांग्रेस विधायक ने की है।


पत्र में भरत सिंह ने लिखा कि नोटों को नष्ट करना अपराध है, और तहसीलदार कल्पेश जैन ने तो कल्पना से कहीं ज्यादा 20 लाख नोटों को अपने बचाव में जलाकर नष्ट कर दिया। संविधान के अनुच्छेद 311 (Article 311) के तहत कल्पेश जैन को बगैर सुनवाई और नोटिस की प्रक्रिया के बर्खास्त किया जाए। चूल्हे नोटों की 15-20 लाख की गड्डियां जलाने का यह सम्भवत, देश में पहला प्रकरण होगा। यह मामला ‘रेयर ऑफ रेयरेस्ट’ है,व देश में ऐसी आज तक दूसरी मिसाल नहीं, जहां 20 लाख नोटों को भ्रष्ट अधिकारी ने रसोई गैस के चूल्हे पर जलाए हो। ऐसा पहली बार नहीं है जब भरत सिंह ने भ्रष्ट अधिकारियों को बर्खास्त करने की मांग उठाई हो। इससे पहले भी वो कई बार पत्र लिखकर भ्रष्ट अधिकारियों को हटाने की मांग कर चुके हैं।
विधानसभा में लगातार सक्रिय

भरतसिंह लगातार भ्रष्टाचार को लेकर सक्रिय रहे हैं। उन्होंने पुलिस के अफसरों द्वारा भ्रष्टाचार फैलाए जाने के खिलाफ भी मामला उठाया था और कहा था कि भ्रष्ट अफसरों को न तो सरकार बचाए और न ही किसी तरह का क्षमादान दे। उन्हें ढंग की पोस्टिंग देना तो बहुत ही गलत है।

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

साभार - ऐसे भी जानें सत्य

Latest News

Monsoon का आज UP में प्रवेश! दिल्ली-राजस्थान समेत कई राज्यों में बारिश की संभावना, मुंबई में दो दिन मूसलाधार का अलर्ट

नई दिल्ली | Monsoon 2021 Latest Update: उत्तर प्रदेश के लोगों के लिए सुखद खबर है कि राज्य में मानसून...

More Articles Like This