खौफनाक..कोविड संक्रमित के अंतिम संस्कार में शामिल हुए 150 लोग, 21 के लिए अंतिम बन गया यह अंतिम संस्कार

Must Read

राजस्थान में जहां कोरोना नये आंकड़े बनाने में कसर नहीं छोड़ रहा है वहीं राजस्थान की जनता भी लापरवाही करने में कोई कसर नहीं छोड़ रही है। राजस्थान के सीकर जिले से ऐसी ही एक लापरवाही का मामला सामने आया है। सीकर के गांव में एक व्यक्ति की कोरोना से मौत हो गई और मृत व्यक्ति को कोरोना गाइडलाइन का पालन किए बिना दफना दिया गया। अंतिम संस्कार में 150 लोगों ने भाग लिया। इनमें 21 लोगों की अभी तक मौत हो चुकी है। राजस्थान में कोरोना बेकाबू होता जा रहा है। एक दिन में करीब 17,000 मामले दर्ज हो रहे है। राजस्थान सरकार ने 24 मई तक का लॉकडाउन लगाया हुआ है। सरकार के अनुसार कोरोना की चेन तोड़ने के लिए लॉकडाउन आवश्यक है।

इसे भी पढ़ें राहत! कोरोना वायरस से जंग लड़ने में शामिल हुई एक और दवा, सरकार ने दे दी मंजूरी

शव को प्लास्टिक की थैली से बाहर निकाला गया

हालांकि अधिकारियों ने कहा कि 15 अप्रैल से 5 मई के बीच कोरोना वायरस से केवल चार मौतें हुई हैं। अधिकारियों के अनुसार, एक कोरोना संक्रमित व्यक्ति के शव को 21 अप्रैल को खीरवा गांव लाया गया था और लगभग 150 लोगों ने उसके अंतिम संस्कार में भाग लिया था।  उसे कोरोनो वायरस प्रोटोकॉल का पालन किए बिना दफन किया गया था। उन्होंने कहा कि शव को प्लास्टिक की थैली से बाहर निकाला गया और कई लोगों ने उसे दफनाने के दौरान छुआ।

पुलिस द्वारा मामले की जांच की जा रही है

लक्ष्मणगढ़ के एसडीओ कुलराज मीणा ने शनिवार को पीटीआई को बताया कि 21 मौतों में से कोविड-19 की वजह से केवल 3-4 मौतें हुई हैं।मरने वालों में अधिकांश वृद्ध लोग हैं। हमने 147 परिवारों के सदस्यों के सैंपल लिए हैं। इनकी जांच इसलिए की जा रही है ताकि यह पता चल सके कि यहां सामुदायिक संक्रमण तो नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि प्रशासन ने गांव में स्वच्छता अभियान चलाया है. ग्रामीणों को समस्या की गंभीरता के बारे में समझाया गया है और अब वे सहयोग कर रहे हैं। सीकर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी अजय चौधरी ने कहा कि स्थानीय अधिकारियों से एक रिपोर्ट मांगी गई है जिसके बाद वह इस मामले पर कोई टिप्पणी कर पाएंगे।

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष डोटासरा ने ट्वीट कर दी जानकारी

खीरवा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा के विधानसभा क्षेत्र में आता है। उन्होंने संक्रमित व्यक्ति के शव को दफनाने के बाद हुई मौतों की जानकारी पहले सोशल मीडिया पर साझा की थी, लेकिन बाद में उसे हटा दिया। उन्होंने ट्वीट किया था कि गहरे दुख के साथ मुझे यह कहना पड़ रहा है कि 20 से अधिक लोग अपनी जान गंवा चुके हैं और कई लोग संक्रमित हैं। राजस्थान में कोरोना अपना भयावह रूप दिखा रहा है। इस बार कोरोना गांवों में फैल गया है। जो बेहद खतरनाक और चिंतित कर देने वाला है। पहली लहर में गांवों में इतना असर नहीं हुआ था। लेकिन इस बार गांवों में ज्यादा मौते हो रही है।

राजस्थान में कोरोना का आतंक

राजस्थान में कोरोना वायरस बेकाबू हो रहा है। एक दिन में करीब 17,000 मामले दर्ज हो रहे है। और कोरोना रोज मौत के नये आंकड़े दर्ज हो रहा है। राजस्थान सरकार ने कोरोना की चेन को तोड़ने को लिए लॉकडाउन लगा रखा है। सरकार जनता से अपील कर रही है कि बिना काम कोई भी घर से बाहर ना जाएं। कोरोना के प्रति सतर्क और सावधान रहें।

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

साभार - ऐसे भी जानें सत्य

Latest News

सरकार व संगठन में अदला-बदली की चर्चा

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के विस्तार की चर्चाओं के साथ इस बात की भी चर्चा शुरू हो गई...

More Articles Like This