nayaindia Rajasthan Ashok Gehlot Bharat Jacaro Yatra पायलट का ‘भारत जोड़ो यात्रा’ सफल बनाने पर ध्यान, मतभेद विपक्ष की देन
kishori-yojna
ताजा पोस्ट | देश | राजस्थान| नया इंडिया| Rajasthan Ashok Gehlot Bharat Jacaro Yatra पायलट का ‘भारत जोड़ो यात्रा’ सफल बनाने पर ध्यान, मतभेद विपक्ष की देन

पायलट का ‘भारत जोड़ो यात्रा’ सफल बनाने पर ध्यान, मतभेद विपक्ष की देन

नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सचिन पायलट (Sachin Pilot) ने राजस्थान (Rajasthan) के हालिया घटनाक्रमों का ‘भारत जोड़ो यात्रा’ (Bharat Jacaro Yatra) पर असर होने की धारणा को खारिज करते हुए रविवार को कहा कि पार्टी की प्रदेश इकाई पूरी तरह एकजुट है तथा फिलहाल इस बात पर ध्यान है कि प्रदेश में यात्रा को दूसरे राज्यों की तुलना में ज्यादा सफल बनाया जाए।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) के साथ अपने मतभेदों पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के तंज को लेकर पलटवार करते हुए पायलट ने कहा कि यह सब उस दल की तरफ से हो रहा है जहां मुख्यमंत्री पद के कम से कम एक दर्जन दावेदार हैं। उन्होंने कहा, भाजपा में बहुत ज्यादा गुटबाजी है। वे पिछले चार वर्षों में राजस्थान में अच्छे विपक्ष की भूमिका भी नहीं निभा पाए हैं।

राजस्थान में कांग्रेस की अंदरूनी कलह का असर ‘भारत जोड़ो यात्रा’ पर होने से जुड़ी चिंताओं के बारे में पूछे जाने पर पायलट ने कहा, ‘जहां तक राहुल गांधी जी की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ का सवाल है तो इसको लेकर पार्टी में पूरी तरह एकजुटता है और हम इसे सफल बनाने के लिए मिलकर काम कर रहे हैं।’ उन्होंने कहा, ‘इसमें किसी व्यक्ति- ए, बी या सी का सवाल नहीं है। पार्टी के रूप में हमने सरकार बनाने के लिए बहुत मेहनत की है और राहुल जी की यात्रा अगले 12 महीनों के भीतर होने वाले चुनाव की दिशा में हमारे प्रयासों को मजबूत करेगी।’

कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल के हालिया जयपुर दौरे के संदर्भ में पायलट ने कहा कि यात्रा के कई पहलुओं को लेकर लंबी चर्चा हुई और इसको लेकर बातचीत हुई कि कैसे कार्यकर्ताओं को लामबंद करना है तथा लाखों लोग यात्रा में शामिल होंगे। उन्होंने जोर दिया कि यात्रा के संदर्भ में किसी भी तरह की चिंता का कोई सवाल नहीं उठता।

पायलट ने कहा, ‘कुछ कहानियां गढ़ने की कोशिश हो सकती है, लोग विवाद पैदा करने करने की कोशिश कर सकते हैं, लेकिन पार्टी पूरी तरह एकजुट है। हम यह सुनिश्चित करेंगे कि राजस्थान में यात्रा दूसरे राज्यों से ज्यादा सफल हो।’ यह पूछे जाने पर कि क्या गहलोत द्वारा उन्हें ‘गद्दार’ कहे जाने वाले बयान की छाया इस यात्रा पर पड़ सकती है, पायलट ने कहा, मुझे लगता है कि इस समय सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण चीज है कि यात्रा राजस्थान में सफलतापूर्वक संपन्न हो।

इस सवाल पर कि क्या इस यात्रा से राजस्थान में कांग्रेस एकजुट होगी, उन्होंने कहा, ‘मैं अपनी तरफ से और अन्य लोगों की तरफ से भी यह कहता हूं कि फिलहाल हमारी प्राथमिकता अगला विधानसभा चुनाव जीतने की है। राजस्थान में हर पांच साल में सरकार बदलती है। इस चलन को बदलना है। इसके लिए हम मिलकर काम करेंगे।’ उन्होंने कहा कि 2013 के विधानसभा चुनाव में अशोक गहलोत की अगुवाई वाली सरकार के समय कांग्रेस 200 सदस्यीय विधानसभा में 21 सीट पर सिमट गई थी और फिर वहां से पार्टी ने मेहनत की तथा 2018 में बहुमत हासिल किया। पायलट ने कहा कि कांग्रेस को उम्मीद है कि ‘भारत जोड़ो यात्रा’ से राजस्थान में उसे फायदा होगा तथा यह यात्रा ऐतिहासिक होगी। (भाषा)

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twelve − 1 =

kishori-yojna
kishori-yojna
ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
ओएलएक्स पर ठगी करने वाले छात्र मथुरा से गिरफ्तार
ओएलएक्स पर ठगी करने वाले छात्र मथुरा से गिरफ्तार