nayaindia Rajasthan Yojana Bhavan 2.31 crore one kg gold recovered योजना भवन के अलमारी से 2.31 करोड़ रुपए और एक किलो सोना बरामद, मचा हड़कंप
सर्वजन पेंशन योजना
राजस्थान

योजना भवन के अलमारी से 2.31 करोड़ रुपए और एक किलो सोना बरामद, मचा हड़कंप

ByNI Desk,
Share

जयपुर। राजस्थान के जयपुर में सरकार के योजना भवन के तहखाने में एक अलमारी से 2.31 करोड़ रुपये से अधिक की नकदी और एक किलो सोना बरामद किया गया है। पुलिस ने इस संबंध में योजना भवन के सात कर्मचारियों को हिरासत में लिया है जिनकी तहखाने (बेसमेंट) तक पहुंच थी और वहां के सीसीटीवी फुटेज भी खंगाले जा रहे हैं।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक, इस अलमारी में रखे सूटकेस में 2000 और 500 रुपये के नोट थे। यह जब्ती शुक्रवार को उस समय की गई जब भारतीय रिजर्व बैंक ने 2000 रुपये के नोटों को चलन से वापस लेने की घोषणा की।

विपक्षी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने इस मुद्दे को लेकर कांग्रेस सरकार पर निशाना साधा है। अधिकारियों के अनुसार, पूरे मामले की जानकारी मुख्यमंत्री को दी गई, जिसके बाद मुख्य सचिव उषा शर्मा, पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) उमेश मिश्रा और जयपुर के पुलिस आयुक्‍त आनंद श्रीवास्तव ने शुक्रवार देर रात सचिवालय में संयुक्त प्रेस वार्ता की।

श्रीवास्‍तव ने कहा, ‘जिस तहखाने से नकदी और सोना मिला है, वहां ई-फाइलिंग परियोजना के तहत फाइलों को स्कैन और उनका डिजीटलीकरण किया जा रहा है। दो अलमारी में ताला लगा था, उनकी चाभी नहीं मिली। जब चाभियां नहीं मिलीं तो आज उन आलमारी के ताले तोड़े गए।’ उन्होंने कहा, एक अलमारी में फाइलें मिलीं जबकि दूसरी अलमारी में एक सूटकेस मिला। जब इसे खोला गया तो यह नोटों और सोने से भरा था। इसके बाद कर्मचारियों ने अशोक नगर थाने को सूचना दी।’ उन्होंने कहा कि नकदी की गिनती की गई, जो 2.31 करोड़ रुपये और सोने का वजन एक किलो था। उन्होंने कहा कि सात कर्मचारियों को हिरासत में लिया गया है और उनसे पूछताछ की जा रही है। पूरे मामले की जांच शुरू हो गई है।

पुलिस आयुक्‍त ने जल्द ही पूरे मामले का खुलासा करने का दावा किया है। उन्होंने बताया कि जिस अलमारी से नकदी और सोना बरामद हुआ है वह कई महीनों से बंद पड़ी थी। पुलिस उन कर्मचारियों से पूछताछ करेगी जिनकी तहखाने में अलमारियों तक पहुंच है। उन्‍होंने कहा, ‘पैसा किसका है, कैसे आया, इसकी जांच की जा रही है। सीसीटीवी फुटेज खंगाले जा रहे हैं।’

योजना भवन (Yojana Bhavan) में करोड़ों रुपये की नकदी मिलने की घटना को लेकर अब भाजपा ने सरकार पर निशाना साधा है। नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने ट्वीट किया कि आखिरकार सचिवालय के पास भ्रष्टाचार की जड़ मिल गई है।

राठौर ने कहा, ‘भ्रष्टाचार की गंगोत्री आखिरकार सचिवालय तक पहुंच ही गई। राजस्थान सचिवालय जहां मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी बैठकर शासन चलाते हैं, वहां करोड़ों की नकदी और सोना बरामद होना इस बात का प्रमाण है कि गहलोत सरकार भ्रष्टाचार के संरक्षणदाता की भूमिका में है।’ उन्‍होंने कहा, ‘दो हजार रुपये के नोट को चलन से बाहर करने का बयान देने वाले मुख्यमंत्री जी आप केवल इतना बता दीजिए कि आपका सचिवालय दो हजार के अनगिनत नोटों को क्यों उगल रहा है ? योजना भवन के सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग में किन उद्देश्यों को पूरा करने के लिए करोड़ों रुपए छिपाकर रखे गए?’ (भाषा)

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

11 − three =

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें