राजस्थान : राजस्थान राज्य में फिल्म टूरिज्म बढ़ाने के लिए अभिनेता आमिर खान से विचार विमर्श - Naya India
देश | राजस्थान| नया इंडिया|

राजस्थान : राजस्थान राज्य में फिल्म टूरिज्म बढ़ाने के लिए अभिनेता आमिर खान से विचार विमर्श

राजस्थान टूरिस्ट प्लेस के साथ-साथ शूटिंग का भी केंद्र है.  यहां पर हॉलीवुड और बॉलीवुड दोनों की शुटिंग की जाती है. यहां की ऐतिहासिक धरोहर पर्यटकों का तो मन मोह लेती है. फिल्म निर्माताओं को भी यहां की संस्कृति खींच लाती है. राजस्थान के जयपुर में शुद्ध देसी रोमांस की शूटिंग हुई है. आमिर ने हाल ही में अपनी फिल्म लालसिंह चड्ढा की शूटिंग भी राजस्थान में की है।

राज्य में फिल्म उद्योग के इन अवसरों को धरातल पर लाने के लिए राजस्थान फाउण्डेशन के आयुक्त  धीरज श्रीवास्तव द्वारा बॉलीवुड सेलिब्रिटी आमिर खान से वर्चुअल माध्यम से संवाद किया. इस कार्यक्रम में राज्य सरकार द्वारा प्रस्तावित फिल्म सिटी व फिल्म पॉलिसी के लिए सुझाव मांगे गये.  इसके अलावा राजस्थान में फिल्म ट्यूरिज्म व राजस्थान के स्थानीय कलाकारों को बढ़ावा देने एवं बॉलीवुड कलाकारों को यहां होने वाली परेशानियों को दूर करने हेतु भी सुझाव मांगे गये.  बॉलीवुड और हॉलीवुड के कलाकार राजस्थान की परम्परा,खान-पान,संस्कृति का आनंद उठाते हैं. राजस्थान में मेहमान को भगवान का दर्जा दिया जाता है. प्रत्येक मेहमान को  आदर-सत्कार से नवाजा जाता है कि वो बार-बार यहां आना पसंद करते हैं.

इसे भी पढ़ें Rajasthan by-election 2021 : वीकेंड कर्फ्यू के बीच दोहरी जिम्मेवारी , 3 सीटों से लिए मतदान कल

 कलाकारों को होने वाली समस्या को दूर कराने का  दिलाया विश्वास

आयुक्त धीरज श्रीवास्तव ने प्रस्तावित फिल्म पॉलिसी एवं राज्य सरकार द्वारा राज्य में फिल्म उद्योग को बढ़ावा देने हेतु किए जा रहे प्रयासों से उन्हें अवगत करवाया.  फिल्म प्रोड्यूसर व कलाकारों को राज्य में होने वाली समस्याओं को दूर करने का आश्वासन दिया.  साथ ही राज्य के स्थानीय कलाकारों की बॉलीवुड में भागीदारी दिलाने को अनुरोध किया.  सुविधाओं और असुविधाओं के बारे में भी जानकारी प्राप्त की.]

आमिर खान ने दिए ये सुझाव

अभिनेता आमिर खान ने बताया कि वह राजस्थान के आतिथ्य सत्कार से हमेशा प्रभावित रहे हैं.  यहां की रॉयल संस्कृति हमेशा उनको लुभाती है. आमिर खान ने राज्य में फिल्म टूरिज्म को बढ़ावा देने हेतु काफी महत्वपूर्ण सुझाव दिए जिनमें फिल्म निर्माताओं के लिए सिंगल विंडो सल्यूशन प्रमुख है. राज्य सरकार द्वारा जारी ड्राफ्ट फिल्म पॉलिसी की सराहना करते हुए इसे फिल्म प्रोड्यूसर्स गिल्ड में रखने का प्रस्ताव दिया. उन्होंने राज्य सरकार के नवाचारों से रूबरू करवाने एवं सुझावों के लिए व्यक्तिगत वार्तालाप के लिए आयुक्त, राजस्थान फाउंडेशन का आभार व्यक्त किया.

इसे भी पढ़ें Ramadan 2021 : कोरोना के साये के बीच रमजान का पहला जुमा, घरों पर ही इबादत की अपील

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow