राजस्थानः 500 बेड के साथ शुरू हुआ जोधपुर संभाग का सबसे बड़ा आईसोलेशन एवं कोविड सेन्टर - Naya India
देश | राजस्थान| नया इंडिया|

राजस्थानः 500 बेड के साथ शुरू हुआ जोधपुर संभाग का सबसे बड़ा आईसोलेशन एवं कोविड सेन्टर

भारत में कोरोना ने अपना आतंक मचा रखा है। राजस्थान में कोरोना के आंकड़े लगातार बढ़ रहे है। इसी बीच राजस्थान से एक राहत की खबर आयी है। कोरोना संक्रमितों  की बढ़ती संख्या और उनके बेहतर उपचार के लिए आबू रोड के किवरली स्थित ब्रह्माकुमारीज संस्थान का मानसरोवर आईसोलेसन तथा कोविड सेन्टर के रूप में पुन: शुरू हो गया। 800 बेड वाले इस विशाल एवं चमचमाते भवन में फिलहाल 500 बेड के साथ शुरूआत हो गयी है। जिसमें आक्सीजन और गम्भीर बीमारी कोरोना ग्रसित लोगों को इलाज हो रहा है। ब्रह्माकुमारीज की इस चमचमाती बिल्डिंग में सारी सुविधायें उपलब्ध है। इस मानसरोवर 6 मंजिला बिल्डिंग में प्रत्येक रूम में रहने की सारी सुविधायें हैं। जिससे मरीजों को कोई परेशानी ना हो।

इसे भी पढ़ें UP News : रेमडेसिविर की कालाबाजारी में लिप्त गिरोह का भंडाफोड़, चार गिरफ्तार, 116 इंजेक्शन बरामद

 ब्रह्माकुमारीज ने इस परिसर को सौंपा सिरोही जिला प्रशासन को

ब्रह्माकुमारीज संस्थान ने जनसेवा में इस मानसरोवर परिसर को सिरोही जिला प्रशासन को सौंप दिया तथा इस कोविड सेन्टर में आने वाले मरीजों एवं चिकित्सकों के स्टाफ को जब तक इलाज चलेगा तब तक तीनों ही टाईम भोजन भी उपलब्ध कराता रहेगा। यह करोना मरीजों के लिए राहत की खबर है। इस इस कोविड सेन्टर में सारी सुविधायें ब्रह्माकुमारीज संस्थान करेगा। परन्तु दवायें, आक्सीजन और चिकित्सकीय सुविधा जिला प्रशासन उपलब्ध करायेगा।इस पूर्व ब्रह्माकुमारीज संस्थान ने तलहटी स्थित प्रेम निवास तथा आत्म दर्शन भवन उपलब्ध कराया था। जिसमें करोना मरीजों की बढ़ती संख्या के कारण 800 बेड वाले मानसरोवर परिसर को जिला प्रशासन को सौंप दिया। कुछ दिन पूर्व ही जिला कलेक्टर भगवती प्रसाद, माउण्ट आबू उपखण्ड अधिकारी अभिषेक सुराणा तथा आबू रोड तहसीलदार ने इसका दौरा कर जायजा भी लिया था। फिर ब्रह्माकुमारीज संस्थान ने इसे जनसेवा के लिए प्रशासन को सौंप दिया।

अभी 74 मरीजों का चल रहा इलाज

फिलहाल इस ब्रह्माकुमारीज संस्था के मानसरोवर कोविड सेन्टर में 74 कोरोना मरीजों का इलाज चल रहा है। जिसमें 50 मरीज आक्सीजन पर तथा 24 सामान्य में भर्ती है तथा अपना इलाज करा रहे हैं। इसके साथ ही लोग करोना से रिकवर होने पर उन्हें डिस्चार्ज भी कर दिया गया है।

4 चिकित्सकों तथा 26 पैरामेडिकल स्टाफ की टीम कर रही ट्रीटमेंट

इस मानसरोवर कोविड सेन्टर में डॉ सलीम खान चिकित्सा प्रभारी तथा सुखविर सिंह वरिष्ठ नर्सिंग कर्मी के साथ 4 चिकित्सक डॉ चन्दन, डॉ अक्षय, डॉ सुनील 24 घंटे अलग अलग शिफ्ट पर अपनी सेवायें दे रहे हैं। इसके साथ ही एक फिजिशियन को भी लगाया गया है। जिससे करोना मरीजों का बेहतर इलाज हो।

पिछले एक वर्ष तक चला था आईसोलेसन केन्द्र

गौरतलब है कि पिछले मार्च में ही इस नवनिर्मित बिल्डिंग को करोना मरीजों के इलाज के लिए दे दिया गया था। जिसमें बड़ी संख्या में करोना मरीजों ने इलाज कराया था। जिसमें शानदार 99 प्रतिशत रिकवरी रेट था। अभी पुन: करोना मरीजों का इलाज होगा। कोरोना मरीजों की इलाज के लिए यह शानदार स्थान है। पिछले वर्ष भी ब्रह्माकुमारीज संस्थान ने दिया था। अब पुन: संकट की घड़ी में जिला प्रशासन के आग्रह पर संस्थान ने पहल की है। यह बहुत अच्छा है। यहॉं इलाज कर लोग जल्दी अच्छे हो जायेगें। ऐसी उम्मीद है। बाकी भोजन आदि की सारी व्यवस्था ब्रह्माकुमारीज संस्थान कर रहा है।

इसे भी पढ़ें Corona crisis के बीच केंद्र सरकार का बड़ा ऐलान, मई-जून में जरूरतमंद परिवारों को मिलेगा मुफ्त अनाज

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
असली जीवन के मुन्ना भाई, यूपीटीईटी कदाचार के आरोप में 10 में से प्रॉक्सी उम्मीदवार गिरफ्तार
असली जीवन के मुन्ना भाई, यूपीटीईटी कदाचार के आरोप में 10 में से प्रॉक्सी उम्मीदवार गिरफ्तार