• डाउनलोड ऐप
Thursday, May 6, 2021
No menu items!
spot_img

Rajasthan: RU नहीं करेगा छात्रों को प्रमोट, यूजी और पीजी के टाइमटेबल जारी

Must Read

Jaipur: कोरोना वायरस विद्यार्थियों की पढ़ाई खराब करने में कोई कसर नहीं छोड़ रहा है. दो साल से विद्यार्थियों की पढ़ाई लिखाई के नाम पर खाना पूर्ती हो रही है. बच्चों का भविष्य खराब ना हो इसलिए राजस्थान विश्वविद्यालय ने स्टूडेंटस की परीक्षा करवाने का फैसला लिया है. राजस्थान विश्वविद्यालय प्रशासन ने यूजी और पीजी का परीक्षा कार्यक्रम जारी कर दिया है. कोरोना के कारण पिछले साल प्रदेश में यूजी और पीजी सहित अन्य सेमेस्टर में अंतिम वर्ष को छोड़ सभी कक्षा के विद्यार्थियों को प्रमोट किया गया था. इस साल यूजीसी ने सभी राज्यों को दिशा निर्देश जारी किए थे कि 15 जुलाई से पहले उच्च शिक्षा की परीक्षा आयोजित करवाने के बाद 31 जुलाई से पहले परीक्षा परिणाम जारी किया जाए.

करीब 4 लाख परीक्षार्थी परीक्षा में होंगे शामिल

राविवि के प्रशासन ने यूजी और पीजी का परीक्षा कार्यक्रम जारी कर दिया है. 29 अप्रैल से स्वयंपाठी परीक्षार्थियों की परीक्षा की शुरूआत होगी. 10 मई से नियमित विद्यार्थियों की परीक्षा का आयोजन किया जाएगा. परीक्षा को लेकर राविवि प्रशासन ने अपनी तैयारियां भी पूरी कर ली है. इस साल राजस्थान यूनिवर्सिटी के करीब 4 लाख परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल होंगे.

कोरोना संक्रमित छात्र की बाद में दोबारा होगी परीक्षा

राजस्थान विश्वविद्यालय प्रशासन ने परीक्षा को लेकर सभी तैयारिसां पूरी कर ली है. परीक्षा नियंत्रक वीके गुप्ता का कहना है कि यूजीसी के दिशा निर्देशानुसार परीक्षा कार्यक्रम जारी किया गया है. पिछले साल की तुलना में इस साल परीक्षा केन्द्रों की संख्या भी ज्यादा रखी गई है. जहां पहले एक सेंटर पर करीब 1 हजार परीक्षार्थी परीक्षा देते थे तो वहीं अब इनकी संख्या 500 से 600 के बीच रहेगी. इसके साथ ही कोरोना गाइड लाइन के तहत परीक्षा का आयोजन करवाया जाएगा. परीक्षा केन्द्र पर हाथ धोने के लिए पानी और साबुन की व्यवस्था होगी तो वहीं परीक्षार्थी खुद का सेनेटाइजर और पानी की बोटल लाने की छूट रहेगी. इसके साथ ही अगर कोई परीक्षार्थी कोरोना पॉजिटीव होने की वजह से परीक्षा में शामिल नहीं होता है तो उसके लिए बाद में अलग से उचित दस्तावेज प्रस्तुत करने पर परीक्षा का आयोजन किया जाएगा

परीक्षार्थियों ने प्रमोट करने की मांग की है

परीक्षा आयोजन को लेकर अब परीक्षार्थियों में काफी चिंता भी देखने को मिल रही है. पूरे साल पढ़ाई बाधित होने साथ ही प्रोपर ऑनलाइन पढाई नहीं होने के चलते राविवि के विद्यार्थी अब प्रमोट करने की मांग करने लगे हैं. राविवि के विभिन्न विभागों के विद्यार्थियों का कहना है कि ये साल पूरा कोरोना की भेंट चढ़ चुका है।कोरोना के कारण पढ़ाई नहीं हो पायी है। राविवि में कक्षाएं हुई नहीं है। ऑनलाइन पढ़ाई भी राविवि की कारगर साबित नहीं हुई है। विद्यार्थियों के पास सहीं मात्रा में गैजेट्य उपलब्ध नहीं थे। ऐसे में विद्यार्थियों को प्रमोट करने का फैसला लेना चाहिए। क्यूंकि वर्तमान में एक बार फिर से कोरोना का प्रकोप बढ़ रहा है और विद्यार्थियों के स्वास्थ्य हित को ध्यान में रखते हुए सरकार को फैसला लेना चाहिए.

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

LPG Offers: अब रसोई गैस सिलेंडर पर मिलेगी 800 रूपये की छूट..जानें क्या है ऑफर

पेट्रोल-डीजल इस महीने लगातार तीसरे दिन महंगा हुआ है। रसोई गैस भी 809 रुपये प्रति सिलेंडर है। आप पेट्रोल...

More Articles Like This