Corona update : Ramdasivir का प्रोडक्शन तीन गुना बढ़ा, आयरलैंड से मेडिकल उपकरण की दूसरी खेप पहुंची भारत - Naya India
ताजा पोस्ट | देश| नया इंडिया|

Corona update : Ramdasivir का प्रोडक्शन तीन गुना बढ़ा, आयरलैंड से मेडिकल उपकरण की दूसरी खेप पहुंची भारत

New Delhi : देश में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर का कहर बढ़ने की वजह से प्रतिदिन लाखों लोग इसकी चपेट में आ रहे हैं. वहीं कोरोना के गंभीर मरीजों के इलाज में इस्तेमाल होनेवाली दवा रेमडेसिविर की मांग बहुत ज्यादा बढ़ गयी है. कई असामाजिक तत्व इसकी कालाबाजारी भी कर रहे हैं. इसकी वजह से देश में रेमडेसिविर भारी किल्लत जारी है. इस स्थिति से निजात दिलाने के लिए रासायनिक और उर्वरक राज्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने मंगलवार को घोषणा की है कि देश में रेमडेसिविर का उत्पादन तेजी से हो रहा है. भारत ने रेमडेसिविर की उत्पादन क्षमता तीन गुना तक बढ़ा दी है और जल्द ही बढ़ती मांग को पूरा करने में सक्षम होगा.

 

365 वेंटिलेटर के साथ आयरलैंड की दूसरी खेप पहुंची

आयरलैंड से जरूरी मेडिकल उपकरण की दूसरी खेप आज भारत पहुंच गयी. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने ट्वीट कर यह जानकारी दी. उन्होंने लिखा है कि आयरलैंड के साथ हमारे संबंध औऱ मजबूत हुए. इस खेप में दो ऑक्सीजन जेनरेटर, 548 ऑक्जीन कॉन्संट्रेटर, 365 वेंटिलेटर और अन्य जरूरी सामान हैं. उन्होंने यूरोपीय यूनियन के सदस्य देश आयरलैंड के प्रति आभार जताया है. उन्होंने कहा कि इस मदद से हमारी ऑक्सीजन की जरूरतों को पूरा करने में मदद मिलेगी. ज्ञात हो कि भारत में कोरोना की दूसरी लहर से तबाही के बाद से ही विदेशों से लगातार मदद मिल रही है. इस काम में भारतीय वायुसेना और नौसेना भी लगी हुई है.

इसे भी पढें- Corona Vacination: अमेरिका में अब  12 से 15 साल के किशोरों को टीका देने की तैयारी, फाइजर को मिल सकती है मंजूरी

लगातार बढ़ रहा है संक्रमण

देश में कोरोना से लगातार हो रही मौतों से अब भारत सबसे ज्यादा मौतों वाले देशों में मैक्सिको को पछाड़कर तीसरे नंबर पर आ गया है. मौतों के मामले में अमेरिका पहले नंबर पर है. यहां 5.92 लाख और ब्राजील में 4.07 लाख मौतें हो चुकी हैं. और चैथे नंबर पर पहुंचे मैक्सिको में अब तक 2.17 लाख मौतें हो चुकी हैं.

इसे भी पढें- Corona Alert: कोरोना के तीसरी लहर की हुई भविष्यवाणी, 18 साल से कम उम्र वाले होंगे सबसे ज्यादा प्रभावित

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
नसीहतों की कार्यसमिति
नसीहतों की कार्यसमिति