अदालत के फैसले का सम्मान, शांति बनाए रखने की अपील: पाटिल

मंडी। हिमाचल प्रदेश कांग्रेस मामलों की प्रभारी रजनी पाटिल ने अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर कहा है कि पार्टी इसका सम्मान करती है। पाटिल ने लोगों से भाईचारा कायम रखते हुए आपस में सामंजस्य और सौहार्दपूर्ण माहौल बनाए रखने की अपील की। उन्होंने कहा कि भारत ने हमेशा ही पूरे विश्व को शांति और भाईचारे का संदेश दिया है।

इसलिये हम सभी का दायित्व है कि संविधान में निहित धर्मनिरपेक्ष मूल्यों का पालन करते हुए आपस में एकता, प्रेम, सद्भाव एवं भाईचारा बनाए रखें। देश की खराब अर्थव्यवस्था और केंद्र सरकार की नीतियों एवं कार्यक्रमों के खिलाफ पार्टी के यहां धरना प्रदर्शन कार्यक्रमों के सिलसिले में यहां पहुंची पाटिल ने केंद्र और प्रदेश की भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकारों पर जमकर गुस्सा उतारा।

मंडी और सुंदरनगर में आयोजित पार्टी के धरना-प्रदर्शन में उन्होंने दावा किया भाजपा की न तो कोई विचारधारा और न ही कोई सिद्धांत हैं। उन्होंने कहा कि जिस परिवार का इतिहास बलिदानों का रहा है और पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी और राजीव गांधी जी के बलिदान के बाद उनके परिवार को मिली एसपीजी सुरक्षा हटाना यह दिखाता है कि केंद्र सरकार गांधी परिवार से कितनी खौफज़दा है।

उन्होंने आरोप लगाया कि राज्य में भाजपा सरकार निवेशक सम्मेलन की आड़ में अपना कमीशन देख रही है। बेहतर होता कि सरकार निवेश के वजाय उद्योगपतियों की समस्याएं और चिंताएं दूर करती। उन्होंने चिंता जाहिर करते हुए कहा कि देश में महंगाई बढ़ती जा रही है और रसोई बजट प्याज ने बिगाड़ दिया है। अर्थव्यवस्था सबसे बुरे दौर से गुजर रही है। उन्होंने कहा कि राज्य में जिला स्तर पर किए जा रहे धरना-प्रदर्शनों का उद्देश्य जनता को भाजपा सरकारों की कथित जन विरोधी नीतियों से अवगत कराना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares