nayaindia RIP Attorney General Soli Sorabjee : कोरोना ने छीनी एक और जिंदगी, अटॉर्नी जनरल सोली सोराबजी का कोरोना से निधन - Naya India
देश| नया इंडिया|

RIP Attorney General Soli Sorabjee : कोरोना ने छीनी एक और जिंदगी, अटॉर्नी जनरल सोली सोराबजी का कोरोना से निधन

कोरोना से आये दिन मौतों आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है। अब भारत के पूर्व अटॉर्नी जनरल सोली सोराबजी का निधन हो गया है। वरिष्ठ वकील, पूर्व अटॉर्नी जनरल और पद्म विभूषण सोली सोराबजी का निधन कोरोना से संक्रमित होने के बाद आज सुबह निधन हो गया है। सोली सोराबजी कोरोना संक्रमित थे और आज सुबह सोली सोराबजी कोरोना से जंग में हार गये। उनके परिवार ने यह जानकारी दी।  पूर्व अटॉर्नी जनरल ने 91 साल की उम्र में आखिरी सांस ली। बता दें कि सोली सोराबजी पहली बार साल 1989 से 1990 तक देश के अटॉर्नी जनरल रहे। इसके बाद फिर साल 1998 से 2004 तक उन्होंने यह जिम्मेदारी संभाली।

इसे भी पढ़ें कोरोना वायरस को मात देकर घर लौटे कांग्रेस नेता आनंद शर्मा, ट्वीट कर दी जानकारी

अटॉर्नी जनरल सोली सोराबजी का जीवन परिचय

जान लें कि पूर्व अटॉर्नी जनरल सोली सोराबजी का जन्म साल 1930 में तत्कालीन बॉम्बे में हुआ था। सोराबजी ने साल 1953 में बॉम्बे हाई कोर्ट में प्रैक्टिस शुरू की थी। फिर साल 1971 में सोराबजी सुप्रीम कोर्ट के सीनियर काउंसिल बन गए। इसके बाद 2 बार सोराबजी देश के अटॉर्नी जनरल बने। सोली सोराबजी की पहचान देश के बड़े मानवाधिकार वकील में होती है। यूनाइटेड नेशन ने 1997 में उन्हें नाइजरिया में विशेष दूत बनाकर भेजा था, ताकि वहां के मानवाधिकार के हालत के बारे में पता चल सके। इसके बाद, वह 1998 से 2004 तक मानव अधिकारों के संवर्धन और संरक्षण पर UN-Sub Commission के सदस्य और बाद में अध्यक्ष बने। सोली सोराबजी अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के बड़े पक्षधर रहे थे। उन्होंने भारत के सर्वोच्च न्यायालय में कई ऐतिहासिक मामलों में प्रेस की स्वतंत्रता का बचाव किया है और प्रकाशनों पर सेंसरशिप आदेशों और प्रतिबंधों को रद्द करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।  मार्च 2002 में उन्हें दूसरे सबसे बड़े नागरिक पुरस्कार पद्म विभूषण पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।

भारत में कोरोना का आतंक

देश में कोरोना वायरस की वजह से हालात लगातार बिगड़ रहे हैं। बीते 24 घंटे में देश में कोरोना के नए 3,86,452 केस सामने आए, जबकि 3,498 लोगों की मौत हो गई। हालांकि 2,97,540 संक्रमित मरीज इस दौरान कोरोना से रिकवर भी हुए है। बता दें कि देशभर में अब तक कोरोना के कुल 1,87,62,976 मामले सामने आ चुके हैं, जबकि मौतों का आंकड़ा 2,08,330 तक पहुंच गया है। हालांकि 1,53,84,418 लोग कोरोना से रिकवर भी हुए हैं। देश में इस वक्त कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या 31,70,228 है। वहीं 15,22,45,179 लोगों को अब तक कोरोना की वैक्सीन लगाई जा चुकी है। स्वास्थ्य मंत्रालय लगातार जनता को चेता रही है। पता नहीं ये मौतों को आंकड़ा कब रूकेगा। अगर अब भी जनता सचेत नहीं हुई तो परिणाम और भी भयावह होंगे।

इसे भी पढ़ें बड़ी सफलता! उत्तराखंड के कोटद्वार में Fake Remedesivir Injection बनाने की कंपनी का भंडाफोड़, होंगे कई खुलासे

Leave a comment

Your email address will not be published.

six + seven =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
राजस्थान में आज भी इन जिलों में बरसेंगे बादल, अगले दो दिन ओर रह सकता है चक्रवाती सर्कुलेशन का असर
राजस्थान में आज भी इन जिलों में बरसेंगे बादल, अगले दो दिन ओर रह सकता है चक्रवाती सर्कुलेशन का असर