अपने विधायक का इलाज भी नहीं करवा पा रही यूपी सरकार ! बेटे ने सोशल मीडिया में निकाली भड़ास

Must Read

New Delhi: लगता है कोरोना के कहर ने एक बार फिर आम और खास का फर्क मिटा दिया है . यहीं कारण है कि देश के कई बड़े और जाने माने नेता कोरोना और व्यवस्था के सामने घुटने टेक दे रहे हैं. ताजा मामला यूपी से है.  विधायक  केसर सिंह 12 अप्रैल को कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे. इसके बाद उन्हें शहर के ही एक प्राइवेट मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था.  दो दिन इलाज के बाद वे होम आइसोलेट हो गए लेकिन ऑक्सीजन का स्तर गिर जाने के बाद उन्हें दोबारा मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया. इसी बीच विधायक के बेटे में यूपी की सरकार पर लापरवाही का आरोप लगाया है. विधायक के बेट  विशाल का कहना है कि  लगातार सेहत बिगड़ने के बाद डॉक्टरों ने उन्हें हायर सेंटर ले जाने को कहा था. लेकिन उनकी कोशिशों के बाद भी वे अपने पिता को किसी  अच्छे अस्पताल में भर्ती नहीं कर पाए. जिसके बाद इसलके गुस्सा सोशल मीडिया पर छलका.

क्या कहा विधायक के बेटे ने 

विधायक के बेटे विशाल ने सोशल मीडिया पर जमकर अपनी भड़ास निकाली. विशाल ने कहा कि   क्या यही है यूपी सरकार. सरकार जब अप अपने ही कोरोना संक्रमित विधायक का इलाज नहीं करवा पा रही है तो आम जनता का क्या हाल हो रहा होगा. विशाल ने कहा कि  मैंने कई बार मुख्यमंत्री कार्यालय फोन किया मगर क्या मजाल है जो फोन उठा लिया जाता.  इस मामले ने  BJP में नीचे से ऊपर तक हलचल मचा दी है.  राज्य सरकार के इसका संज्ञान लेने के बाद रविवार को विधायक को नोएडा के यथार्थ अस्पताल ले जाया गया.

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से मिला संदेश

फेसबुक पर पोस्ट करने के बाद BJP विधायक के परिवार को  स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से एक संदेश मिला जिसमें विधायक के परिवार को नोएडा के यथार्थ अस्पताल में भर्ती कराने को कहा गया .  जिसके बाद विधायक का परिवार दोपहर के वक्त उन्हें लेकर आनन-फानन नोएडा रवाना हो गया.  बेटे विशाल ने बताया कि उन लोगों ने तमाम व्हाट्सएप ग्रुप में मैंने मदद मांगी. लेकिन किसी ने भी मदद नहीं की. उन्होंने कहा कि पिता की खराब हालत को देखते हुए  मैंने फेसबुक पर पोस्ट की.

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

साभार - ऐसे भी जानें सत्य

Latest News

शुगर की दवा मेटफॉर्मिन करेगी कोरोना संक्रमितों की सहायता- शोध

delhi: कोरोना वायरस ने पिछले डेढ़ साल से आतंक मचा रखा है। एक शोध में कोरोना सबसे पहले फेफडों...

More Articles Like This