nayaindia Sonu Sood Helping Student : छात्र-छात्राओं की मदद के लिए आगे आए सूद...
ताजा पोस्ट | देश | मनोरंजन | बॉलीवुड| नया इंडिया| Sonu Sood Helping Student : छात्र-छात्राओं की मदद के लिए आगे आए सूद...

Sonu Sood Helping : कोरोना महामारी के बादअब यूक्रेन में फंसे छात्र-छात्राओं की मदद के लिए आगे आए सूद…

Sonu Sood Ukraine
Image Source : Instagram

नई दिल्ली | Sonu Sood Helping Student : बॉलीवुड अभिनेता और समाजसेवी सोनू सूद कोरोना महामारी के दौर में एक बड़ा चेहरा बन कर सामने आए थे. ताजा जानकारी मिली है कि सोनू सूद कि संस्था सूद चैरिटेबल ट्रस्ट यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्रों की मदद के लिए भी आगे आ गई है. इस बात की जानकारी खुद सोनू सूद ने दी है उन्होंने कहा है कि यूक्रेन की भारतीय एंबेसी से संपर्क कर भारतीय छात्रों की मदद करने की पहल शुरू कर दी गई है. सोनू सूद ने यूपी में फंसे छात्र छात्राओं से अपील की है कि वो युद्ध स्थल के आसपास जहां भी हैं वहीं रहें कि उन्हें सुरक्षित निकाला जा सके. उन्होंने कहा है कि यदि वे एक साथ झुंड बना कर रहे तो यह भारतीय एंबेसी के लिए आसान होगा कि उनसे संपर्क एक साथ स्थापित हो सके.

 

View this post on Instagram

 

A post shared by ETimes (@etimes)

फिर से मसीहा बनकर रहे मदद

Sonu Sood Helping Student : कोरोना महामारी की दूसरी लहर के दौरान चर्चा में आए सोनू सूद एक बार फिर से मसीहा बनकर यूक्रेन में फंसे छात्र-छात्राओं की मदद के लिए कूद पड़े हैं. वहां से लौटे कई छात्रों ने कहा है कि किस तरह युद्ध के हालात में सोनू सूद की टीम ने उनकी मदद की. खुद बॉलीवुड अभिनेता ने सोशल मीडिया में एक वीडियो पोस्ट कर कहा कि यूपी में फंसे हमारे विद्यार्थियों के लिए ये मुश्किल वाला समय है. ऐसे में यह मेरे लिए अब तक का सबसे मुश्किल असाइनमेंट है.

इसे भी पढ़ें- Ukraine Russia War : वॉर की स्थिति में भारतीय ही नहीं, पाकिस्तानी भी हाथों में ले रहे हैं तिरंगा…

प्रताड़ना और दर्द की कहानियां…

Sonu Sood Helping Student : बता दें कि पंजाब के कई लोगों ने यूक्रेन में प्रताड़ना ओं की कहानियां शेयर की हैं. तलवाड़ा की रहने वाली अनिका ने बताया कि वो पिछले 7 दिनों से यूक्रेन के खारकिव मेडिकल कॉलेज के हॉस्टल के बंकर में फंसी हुई थी. 14 किलोमीटर पैदल चलकर अपने साथियों के साथ रेलवे स्टेशन पहुंची तो यकीन के अधिकारियों ने उन्हें धक्के मार कर वहां से भगा दिया. कड़ाके की ठंड उनकी हालत और खराब हो गई और दोबारा 30 किलोमीटर पैदल चलने के बाद उन्हें एक बंकर में शरण लेना पड़ा. इसी तरह गर्भवती भारतीय महिला के साथ भी प्रताड़ना की खबरें मीडिया में सुर्खियां बटोर रही हैं.

इसे भी पढ़ें- CSK को बड़ा झटका, दीपक चाहर IPL 2022 से बाहर

Leave a comment

Your email address will not be published.

fifteen − one =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
मोदी ने पुतिन से की बातचीत
मोदी ने पुतिन से की बातचीत