Engineering daughter committed suicide: मैं Fee नहीं भर सकती, कर्ज ....
देश| नया इंडिया| Engineering daughter committed suicide: मैं Fee नहीं भर सकती, कर्ज ....

मैं Fee नहीं भर सकती, मेरे पिता पर कर्ज बढता जा रहा है… बोलकर, इंजीनियर बेटी ने कर ली आत्महत्या

Engineering daughter committed suicide:

तेलंगाना | Engineering daughter committed suicide: कोरोना के कारण देश के कई परिवारों की आर्थिक स्थिति खराब हो गई है. लगातार चले लॉकडाउन और बेरोजगारी के कारण कई परिवार अब टूटने लगे हैं. ऐसा ही एक मामला तेलंगाना से सामने आया है. यहां पढ़ाई करने वाली एक छात्रा में अपनी जान इसलिए दे दी ताकि उसके परिवार पर और कर्ज का बोझ ना पड़े. आत्महत्या करने के पहले छात्रों ने एक वीडियो बनाया जिसमें उसने अपने आत्महत्या करने का कारण भी बताया. वीडियो में छात्रा यह कहती हुई दिखाई दे रही है कि वह नहीं चाहती कि उसका परिवार उसकी पढ़ाई के लिए और संघर्ष करे.

Engineering daughter committed suicide:

मैं पढ़ाई नहीं कर सकती, मैं मर जाऊंगी..

Engineering daughter committed suicide: आत्महत्या के पहले बनाए गए इस वीडियो में छात्रा यह कहती हुई सुनाई दे रही है कि मैं पढ़ाई नहीं कर सकती, मैं मर जाऊंगी मैं आप सब को और परेशान नहीं कर सकती. इसके साथ ही छात्र यह भी कह रही है कि पिता के ऊपर लगातार कर्ज बढ़ता जा रहे हैं. बता दें कि छात्रा पिछले कुछ दिनों से अपने कॉलेज की फीस को लेकर परेशान थी. इसके साथ ही वह अपने परिवार को अपनी पढ़ाई के लिए संघर्ष करते हुए देख रही थी. इन्हीं सब कारणों से परेशान होकर छात्रा ने आत्महत्या कर ली.

इसे भी पढ़ें-  उत्तरप्रदेश के इस गांव की अनोखी परंपरा, शवों का अंतिम संस्कार पुरुष नहीं महिलाओं के हाथों होता है जानें क्यों..

Engineering daughter committed suicide:

सिक्योरिटी गार्ड का काम करते हैं पिता

Engineering daughter committed suicide:इस पूरे मामले में जानकारी देते हुए तेलंगाना के वानापार्थी में स्थित मधुपुर थाना के सब इंस्पेक्टर ने बताया कि आत्महत्या करने वाली छात्रा के पिता सिक्योरिटी गार्ड हैं. उन्होंने बताया कि घर का खर्चा कोरोना के कारण नहीं चल पा रहा था. जिस कारण छात्रा की मां एक दिहाड़ी मजदूर के रूप में काम किया करती थी. पुलिस ने बताया कि इंजीनियरिंग के सेकंड ईयर में पढ़ने वाली छात्रा मैं जब अपने परिवार को कॉलेज की फीस के बारे में जानकारी दी तो घर वाले परेशान हो गए. किसी तरह कर्ज लेकर मां बाप ने फीस तो चुका दी लेकिन आर्थिक स्थिति से परेशान होकर बेटी ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली.

इसे भी पढ़ें- संसद के बाहर भी गरमाया ‘पेगासस’ का मुद्दा, कमलनाथ ने कहा- ‘राष्ट्रीय सुरक्षा’ के लिए नहीं, बल्कि ‘अपनी सरकार की सुरक्षा’ के लिए लायसेंस खरीदा

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *