nayaindia Self-immolation on invoice : नये बुलेट का 16 हजार रुपये का चालान, आत्मदाह ...
kishori-yojna
देश | उत्तर प्रदेश| नया इंडिया| Self-immolation on invoice : नये बुलेट का 16 हजार रुपये का चालान, आत्मदाह ...

Uttar Pradesh : नये बुलेट का 16 हजार रुपये का चालान काटने पर परिवार ने किया आत्मदाह का प्रयास, पुलिस ने सबको…

Self-immolation on invoice :

मेरठ | Self-immolation on invoice : देशभर में कोरोना संक्रमण में कमी आने के बाद से एक बार फिर से सड़कों पर ट्रैफिक पुलिस हाई अलर्ट पर है. लेकेिन उत्तर प्रदेश के मेरठ से एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है. बताया जा रहा है कि एक मोटरसाइकिल का चालान कटने पर एक युवक ने परिवार के साथ आत्मदाह का प्रयास किया. पुलिस ने मामले में युवक समेत तीन लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. मामले की जानकारी देते हुए सिविल लाइन थाना प्रभारी रमेश चन्द्र शर्मा ने बताया कि सोमवार को साकेत चौराहे पर पुलिस ने गंगानगर मवाना रोड लाल पार्क निवासी रोहित की बुलेट का 16 हजार रुपये का चालान किया. इसके विरोध में रोहित को साथ लेकर उसकी मां मुकेश देवी और पिता अशोक कुमार मंगलवार को ट्रैफिक एसपी कार्यालय पहुंचे. विरोध के दौरान उन्होंने हंगामा करना शुरू कर दिया.

Self-immolation on invoice :

क्या कहा ट्रैफिक एसपी ने

Self-immolation on invoice : ट्रैफिक एसपी ने बताया कि तीनों ने यहां चालान को लेकर विरोध जताया और हंगामा किया. इसके बाद परिवार कमिश्नरी चौराहे पहुंचा और ज्वलनशील पदार्थ डालकर आत्मदाह का प्रयास किया. जिन्हें पुलिस ने स्थानीस लोगों की मदद से बचाया. इसके बाद परिवार के तीलों लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. उन्होंने बताया कि तीनों को आत्महत्या करने के प्रयास व पुलिस कार्य में बाधा डालने व हमलावर होने के आरोप में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया.

इसे भी पढें – ‘वो’ एक नहीं ‘दो’ थे जिन्होंने Virat Kohli की कप्तानी की BCCI से की थी शिकायत…

क्या कहना था परिवार का

Self-immolation on invoice: गिरफ्तारी से पूर्व पीड़ित परिवार ने बताया कि उनकी तबीयत खराब थी और बेटा दवा लेने गया था. इसी दौरान पुलिस ने चालान कर दिया. इसके साथ ही साथ ही बाइक जब्त कर ली. उनका कहना है कि हमने बेटे को एक-एक रूपये जोड़कर बुलेट खरीद कर दी थी. अभी कोरोना काल में ऐसे ही पैसे नहीं भर पा रहे हैं तो चालान के 16 हजार कैसे भरेंगे. इसलिए हमने आत्महत्या करने की सोची. सिविल लाइन के क्षेत्राधिकारी देवेश सिंह ने बताया कि धमाकों की आवाज निकलने के चलते युवक की बुलेट बाइक का चालान काटा गया था. उन्होंने युवक के परिवार द्वारा लगाए गए आरोपों का खंडन किया है.

इसे भी पढें –दिल्ली सरकार का देशभक्ति पाठ्यक्रम क्या है और यह छात्रों में ‘देशभक्ति’ कैसे पैदा करेगा?

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fourteen − 11 =

kishori-yojna
kishori-yojna
ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
टिकाऊ भविष्य का बजट: मोदी
टिकाऊ भविष्य का बजट: मोदी
पार्टी का बना रहे प्लान तो यह स्पेशल फ्रेंच रेसिपी करें ट्राई ब्रेकफास्ट में आज ही बनाएं कुछ दिलचस्प, ट्राई करे चॉकलेट ओट्स नाश्ता इस तरह से बनाएं गुड़ इमली की चटनी मरुभूमि जैसलमेर में घूमने की ऐतिहासिक जगहें Mouni Roy ने दिखाया बोल्ड अंदाज, फैन्स खो बैठे अपने होश