nayaindia Republic Day Delhi Weather : परेड के दौरान 'जोश रहा हाई'...
ताजा पोस्ट | देश| नया इंडिया| Republic Day Delhi Weather : परेड के दौरान 'जोश रहा हाई'...

Republic Day पर राजधानी में पारा गिरा, लेकिन परेड के दौरान ‘जोश रहा हाई’…

Republic Day 2022 :

नई दिल्ली | Republic Day Delhi Weather : देश के 73वें गणतंत्र दिवस के मौके पर देश का राजधानी में काफी ठंड का अनुभव किय़ा गया. इस दौरान दिल्ली में न्यूनतम तापमान 5.8 डिग्री सेल्सियस रहा. हालांकि पहले ही मौसम विभाग ने सर्दी रहने का पूर्वानुमान व्यक्त कर दिया था. इसके बाद भी जवानों के जोश में कोई कमी नहीं देखी गई औऱ परेड की शुरूआत काफी उत्साह के साथ किया गया. भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के अनुसार, उत्तरी मैदानी इलाकों में उत्तर-पश्चिमी ठंडी हवाएं चलने के कारण शहर में देर रात तापमान 5.8 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया था.

Republic Day Delhi Weather :

मंगलवार था सबसे ठंडा दिन

Republic Day Delhi Weather : मौसम विभाग के अनुसार, दिल्ली में अधिकतम तापमान के 14 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने का अनुमान है. दृश्यता 1,000 से 1,500 मीटर के बीच रही. बता दें कि दिल्ली में मंगलवार को जनवरी का सबसे ठंडा दिन था. इस दिन अधिकतम तापमान सामान्य से 10 डिग्री कम 12.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. इससे पहले, तीन जनवरी 2013 को अधिकतम तापमान 9.8 डिग्री सेल्सियस रहा था.

इसे भी पढें- आज यूपी के जाट नेताओं से मुलाकात करेंगे भाजपा के बाजीगर अमित शाह, अब यहां भी खिलाएंगे कमल!

इस बार जनवरी में पड़ी जोरदार ठंड

Republic Day Delhi Weather : IMD के अनुसार, दिन में न्यूनतम तापमान के 10 डिग्री सेल्सियस से कम होने और अधिकतम तापमान के सामान्य से कम से कम 4.5 डिग्री सेल्सियस कम होने पर उस दिन को ठंडा दिन माना जाता है. ‘स्काईमेट वेदर’ (मौसम विज्ञान एवं जलवायु परिवर्तन) के उपाध्यक्ष महेश पलावत के बताया कि दिल्ली में इस साल जनवरी में सात पश्चिमी विक्षोभ का प्रभाव देखने को मिला. जबकि सामान्य तौर पर एक महीने में ऐसा तीन से चार बार होता है.

इसे भी पढें-यूपी में शराब पार्टी पड़ी महंगी! रायबरेली में शराब ने छीनी 4 लोगों की जिंदगी, कई अस्पताल में गंभीर

Leave a comment

Your email address will not be published.

17 − sixteen =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
क्षत्रपों के साथ ही कांग्रेस भी खत्म!
क्षत्रपों के साथ ही कांग्रेस भी खत्म!