nayaindia ये तो हद है: लालू यादव की सुरक्षा में तैनात जवान अस्पताल के तकिये-गद्दे लेकर भागे, अस्पलाल प्रबंधन ने लिखा एसएसपी को पत्र - Naya India
ताजा पोस्ट | देश | राजरंग| नया इंडिया|

ये तो हद है: लालू यादव की सुरक्षा में तैनात जवान अस्पताल के तकिये-गद्दे लेकर भागे, अस्पलाल प्रबंधन ने लिखा एसएसपी को पत्र

Ranchi: बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री (Chief Minister)और पूर्व केंद्रीय मंत्री लालू प्रसाद यादव(LaluPrasad Yadav)  हमेशा ही चर्चाओं में बने रहते हैं. लेकिन अभी लालू प्रसाद यादव ने कुछ भी नहीं किया. लालू यादव तो अपने इलाज के लिए दिल्ली के एम्स (AIMS) में भर्ती हैं. दिल्ली जाने के पहले लालू का इलाज रांची के रिम्स में चल रहा था. जहां अचानक से उनकी तबियत में गड़बड़ी आने के बाद इलाज के लिए उन्हें दिल्ली  ले जाया गया. लेकिन इसके बाद रिम्स में लालू की सुरक्षा में तैनात जवानों ने जो किया वो लोगों वो लोगों को आश्चर्य में डालने वाला है. रिम्स( RIMS)  में सुरक्षा में लगे जवानों के पास लालू के दिल्ली जाने के बाद कोई काम नहीं बचा था. जिस कारण उन्हें वहां से कहीं और ड्यूटी पर भेज दिया गया. लेकिन जब ये जवान रिम्स से गये तो अपने साथ ही रिम्स प्रबंधन से लिये गये  तकिये-गद्दे तक अपने साथ ले गये. जिसके बाद से ये बवाल हो गया.

इसे भी पढ़ें-Good News: रेलवे की इस पहल से लोगों को मिलेगी राहत, आसान हो जाएंगे ये काम

अस्पताल प्रंबधन ने एसएसपी को लिखा पत्र

सुरक्षा में तैनात जवानों की इस करतूत के बाद रिम्स प्रबंधन भी एक्शन मोड में आ गया. इसके बाद  रिम्स अस्पताल (RIMS) की ओर से रांची एसएसपी (SSP Ranchi) को पत्र लिखा है.  इस पत्र में रिम्स प्रबंधन की ओर से कहा गया है कि जवानों को साथ ले गये तकिये और गद्दे वापस करने चाहिए. इस सबंधं में रिम्स की ओर से कहा गया है कि ये पब्लिक प्रोपर्टी है, इसे इस तरह से ले जाना सही नहीं है. इसके साथ ही पत्र में एसएसपी से  तकिया-गद्दा वापस कराने की मांग की गयी है.

इसे भी पढ़ें-  ओपिनियन पोल में एक बार फिर ममता को कमान, भाजपा के वोट प्रतिशत में कमी

चारा घोटाला मामले में सजा काट रहे हैं लालू

बता देें कि राजद सुप्रिमो को अबतक बेल नहीं मिल सकी है. वे चारा घोटाला (Fodder Scam, Chara Ghotala) के चार मामलों में  सजा काट रहे हैं. लेकिन उनके स्वास्थ्य में आयी गड़बड़ी के कारण उन्हें रांची के रिम्स(RIMS) में भर्ती किया गया था. जहां लालू का इलाज लंबे समय से चल रहा था.  लेकिन बीते महीने उनकी स्थिति को देखते हुए इलाज के लिए दिल्ली के एम्स(AIMS) भेज दिया गया. हालांकि लालू का नाम अभी बिहार चुनाव के दौरान भी सामने आया था जब उनका एक कथित कॉल(CALL) वायरल हो रहा था जिसमें वे एक नेता को प्रलोभन देते हुए सुनाई दे रहे थे.

इसे भी पढ़ें- एक्सप्रेस वे बनने से आयेगी औद्योगिक क्रांति : योगी

एसएसपी ने जवानों को दिया 24 घंटे का अल्टीमेटम

इस पूरे मामले की जानकारी मिलने के बाद रांची एसएसपी ने लालू की सुरक्षा में तैनात जवानों को 24 घंटे का अल्टीमेटम दे दिया. साथ ही उन्होंने कहा कि उन जवानों को इसके लिए सजा भी दी जाएगी क्योंकि इस तरहे के काम से लोगों के सामने पुलिस के छवि खराब होती है.  बता दें कि अस्पताल प्रबंधन(Hospital Authority) की ओर से कहा गया है कि जवानों से कई बार संपर्क साद कर तकिया और गद्दे वापस मांगे गये थे लेकिन इसके बाद भी उनपर कोई फर्क नहीं पड़ा.

इसे भी पढ़ें- बॉलीवुड में कमबैक करेगी उर्मिला मातोंडकर

Leave a comment

Your email address will not be published.

three × 2 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
जनजातीय नवरात्र परंपरा
जनजातीय नवरात्र परंपरा