nayaindia New Traffic Rule : ट्रैफिक पुलिस अब नहीं कर सकेगी मनमानी....
ताजा पोस्ट | देश | महाराष्ट्र| नया इंडिया| New Traffic Rule : ट्रैफिक पुलिस अब नहीं कर सकेगी मनमानी....

ट्रैफिक पुलिस अब नहीं कर सकेगी मनमानी, बेवजह चेकिंग करने पर लगी रोक – जानिए क्या है नया आदेश

New Traffic Rule

New Traffic Rule : अक्सर हम ट्रैफिक पुलिस रोड पर अपनी मनमानी करती नजर आती है जिस वजह से बहुत सारा समय ख़राब हो जाता है। इन सबको देखते हुए मुंबईकरों के लिए बड़ी राहत की खबर है। अब ट्रैफिक पुलिस आपको बेवजह रोककर परेशान नहीं कर सकेगी, आपकी गाड़ी की बेवजह चेकिंग भी नहीं कर सकेगी। कमिश्नर ऑफ पुलिस (CP) हेमंत नागराले ने इस बारे में एक सर्कुलर ट्रैफिक डिपार्टमेंट को जारी किया है।

सर्कुलर में कहा गया है कि ट्रैफिक पुलिस वाले गाड़ियों की चेकिंग नहीं करेंगे, खासतौर पर जहां चेक नाका हो, वो सिर्फ ट्रैफिक की मॉनिटरिंग करेंगे और इस पर फोकस करेंगे कि ट्रैफिक सामान्य रूप से चले। वो किसी गाड़ी को तभी रोकेंगे जब उससे ट्रैफिक की रफ्तार पर कोई फर्क पड़ रहा हो।

New Traffic Rule :

चेकिंग से ट्रैफिक पर असर पड़ता है

दरअसल, अक्सर देखा गया है कि ट्रैफिक पुलिस सिर्फ संदेह के आधार पर कहीं भी गाड़ियों को रोककर उनके बूट और गाड़ी के अंदर की जांच करने लग जाते हैं। जिससे उस सड़क पर ट्रैफिक प्रभावित होता है।

इसे भी पढ़े-  सड़कों पर संदिग्ध हालत में घूमती नजर आई महिला, रिवॉल्वर और कारतूस से सबको डराया और फिर….

ट्रैफिक पर निगरानी पहली प्राथमिकता

New Traffic Rule : CP नागराले की ओर से ट्रैफिक डिपार्टमेंट को जारी इस सर्कुलर में सभी यातायात पुलिस को गाड़ियों की जांच करने से रोकने के लिए कहा गया है क्योंकि सड़कों पर ट्रैफिक बढ़ रहा है, उन्हें ट्रैफिक की आवाजाही पर निगरानी रखने को प्राथमिकता देने के लिए भी कहा गया है। सर्कुलर में ये कहा गया है कि अगर मोटर चालक यातायात नियमों का उल्लंघन कर रहे हैं, तो उन्हें यातायात पुलिस मोटर वाहन अधिनियम के प्रावधानों के तहत आरोपित कर सकती है।

New Traffic Rule :

नियम नहीं मानने पर कार्रवाई होगी

New Traffic Rule : उन्हें वाहनों की किसी भी तरह की जांच में शामिल नहीं होना चाहिए। यातायात पुलिस और स्थानीय पुलिसकर्मियों की ओर से संयुक्त नाकाबंदी के दौरान यातायात पुलिस केवल यातायात उल्लंघन के खिलाफ कार्रवाई करेगी और वाहनों की जांच नहीं करेगी। अगर इन निर्देशों को सख्ती से लागू नहीं किया जाता है, तो संबंधित यातायात चौकी के वरिष्ठ निरीक्षक को जिम्मेदार ठहराया जाएगा।

केवल संदेह के आधार पर बूट की जांच नहीं

यातायात पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने साफ किया कि यातायात पुलिस को संदेह के आधार पर वाहनों के बूट की जांच नहीं करनी चाहिए और न ही उन्हें रोकना चाहिए। उन्होंने कहा कि हमारे जवान पहले की तरह यातायात अपराधों के खिलाफ चालान जारी रखेंगे और यातायात उल्लंघन करने वालों को रोकेंगे।

इसे भी पढ़े-  सड़कों पर संदिग्ध हालत में घूमती नजर आई महिला, रिवॉल्वर और कारतूस से सबको डराया और फिर….

Leave a comment

Your email address will not be published.

fifteen − 1 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
दिल्ली-जयपुर राजमार्ग पर लगा भारी जाम
दिल्ली-जयपुर राजमार्ग पर लगा भारी जाम