nayaindia Asaduddin Owaisi Firing Case: ‘ओवैसी’ पर गोलीबारी करने वाले हमलावर गिरफ्तार
देश | उत्तर प्रदेश | ताजा पोस्ट| नया इंडिया| Asaduddin Owaisi Firing Case: ‘ओवैसी’ पर गोलीबारी करने वाले हमलावर गिरफ्तार

‘ओवैसी’ पर गोलीबारी करने वाले हमलावर गिरफ्तार, पुलिस के सामने किए चौंकाने वाले खुलासेे

लखनऊ | Asaduddin Owaisi Firing Case: उत्तर प्रदेश पुलिस ने AIMIM  प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी की कार पर गोलीबारी करने वाले दो आरोपियों को धर दबोचा है। जिसके बाद दोनों आरोपियों ने पूछताछ में पुलिस के सामने चौंकाने वाले खुलासे किए हैं। बता दें कि, असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) के काफिले पर कल गुरुवार को हापुड़ के पिलखवा में छिजारसी टोल प्लाजा पर फायरिंग की घटना सामने आई थी। जिसका खुलासा उन्होंने खुद किया था। इस गोलीबारी में ओवैसी बाल-बाल बच गए थे।

ये भी पढ़ें:- पंजाब सीएम चेहरे को लेकर सिद्धू का निशाना, कहा- इशारे पर नाचने वाला सीएम चाहते हैं ऊपर बैठे लोग

murd

ओवैसी के बयानों से थे आहत
Asaduddin Owaisi Firing Case: असदुद्दीन ओवैसी पर हुई फायरिंग को यूपी पुलिस ने गंभीरता से लेते हुए तत्परता दिखाई और इस मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। इस संबंध में पुलिस ने बताया कि, गोली चलाने के आरोपी सचिन और शुभम को गिरफ्तार कर लिया गया है। उन्होंने चैंकाने वाला खुलासा करते हुए बताया कि असदुद्दीन ओवैसी ने वर्ष 2013-14 में राम मंदिर को लेकर बयान दिया था, जिससे वे आहत थे। जिसके चलते उन्होंने ओवैसी के काफिले पर फायरिंग की।

UP Election Owaisi Speech

आरोपियों के पास से अवैध तमंचा बरामद
फायरिंग के आरोप में गिरफ्तार किए गए आरोपियों में सचिन गौतमबुद्ध नगर और शुभम सहारनपुर का रहने वाला है। पुलिस ने सचिन के पास से 9 एमएम का अवैध तमंचा बरामद किया है। बता दें कि, खुद पर हुए हमले के बाद ओवैसी ने इस फायरिंग की घटना की जांच कराने की मांग केन्द्र सरकार और यूपी राज्य सरकार से करते हुए कहा था कि, ये कैसे हो सकता है कि, एक सांसद पर 4 राउंड फायरिंग की जाती है।

ये भी पढ़ें:- देश में 24 घंटे में कोरोना से 1072 लोगों की मौत, नए मामलों में कुछ राहत, दर्ज हुए 1.49 लाख केस

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fifteen + 6 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
एम्स का सर्वर हैक होना मामूली बात नहीं है
एम्स का सर्वर हैक होना मामूली बात नहीं है