कोरोना के भय से लोगों ने बनाई मांसाहार से दूरी

देवरिया। चीन में फैले कोरोना वायरस की दहशत से जहां पूरी दुनिया बचाव के उपाय को ढूंढ रही है, वहीं उत्तर प्रदेश के देवरिया में लोग इससे बचने के लिये मांसाहार से दूरी बना रहे हैं जिससे मांस-मछली के कारोबार पर असर पड़ रहा है।

कोरोना के दहशत का आलम यह है कि यहां लोग मुर्गा, बकरे का गोश्त और मछली से दूरी बनाने लगे हैं। देवरिया में कभी 180 रूपया किलो बिकने वाला मुर्गे का गोश्त अब 100 से 120 रूपये किलो बिक रहा है लेकिन इसके बाद भी दुकानों पर इसके खरीदार ब मुश्किल ही मिल रहे हैं।

इससे मटन, चिकन और बिरयानी बेचने वालों का धंधा चौपट हो रहा है। यहां मांसाहार ग्राहकों की संख्या में लगातार कमी देखी जा रही है।
गौरतलब है कि चीन में जनवरी माह में कोरोना की चपेट में हजारों लोग आ चुके हैं तथा करीब एक हजार लोगों की मृत्यु इससे हो चुकी है।

सोशल मीडिया पर यह खबर भी फैल रही है कि मांस के सेवन से यह वायरस फैला है। सोशल मीडिया पर लोगों को गोश्त, मुर्गा का मीट और मछली खाने से परहेज करने की सलाह दी जा रही है।

जागरूक लोगों का कहना है कि शहर, गांव ,हाट बाजारों में मुर्गा, बकरे के गोश्त कारोबारी और मछली बाजार में कोरोना के दहशत के कारण इनकी बिक्री में 30 से 35 फीसदी तक कमी आई है। जनवरी और फरवरी माह में मछली की मांग काफी बढ़ जाती है। लेकिन लोग ताजी मछलियाँ भी लेने से परहेज करने लगे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares