nayaindia अमित शाह रैली के माध्यम से सीएए विरोधियों को देंगे जवाब - Naya India
kishori-yojna
देश | उत्तर प्रदेश | समाचार मुख्य| नया इंडिया|

अमित शाह रैली के माध्यम से सीएए विरोधियों को देंगे जवाब

लखनऊ। केंद्रीय गृहमंत्री व वरिष्ठ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेता अमित शाह नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के समर्थन में आज प्रदेश की राजधानी लखनऊ के बंगला बाजार स्थित रामकथा पार्क में रैली को संबोधित कर सीएए विरोधियों को करारा जवाब देंगे। भाजपा के अवध क्षेत्र की इस रैली में क्षेत्र के सभी 16 जिलों से लगभग एक लाख लोगों के आने का अनुमान है।

करीब एक घंटे तक चलने वाली इस रैली से पहले अमित शाह 50 शरणार्थियों से मिलेंगे। शाह इस दौरान इन शरणार्थियों पर हो रहे अत्याचारों के बारे में भी बताएंगे जिसके कारण इन्हें पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से भागना पड़ा। शरणार्थी इस अधिनियम को लेकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और गृहमंत्री शाह का आभार प्रकट करेंगे। रैली के जरिये अमित शाह सीएए को लेकर विपक्षी दलों की हाय-तौबा से पर्दा हटाएंगे।

भाजपा के प्रदेश मीडिया प्रभारी मनीश दीक्षित ने बताया कि सीएए को लेकर विपक्षी दलों के दुष्प्रचार के खिलाफ भाजपा की प्रदेश में यह तीसरी रैली होगी। इसमें गृह मंत्री अमित शाह के अलावा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य व डॉ. दिनेश शर्मा संबोधित करेंगे। अवध क्षेत्र के सभी भाजपा नेता, सांसद, विधायक और कार्यकर्ता इस रैली में भाग लेंगे।

इसे भी पढ़ें :- केजरीवाल को टक्कर देंगे सुनील यादव

सीएए पर भाजपा द्वारा चलाए जा रहे जनजागरण अभियान के तहत यह तीसरी जनसभा है। इससे पहले भाजपा सीएए के समर्थन में 18 जनवरी को वाराणसी और 19 जनवरी को गोरखपुर में रैली आयोजित कर चुकी है। लखनऊ रैली के बाद 22 जनवरी को मेरठ और कानपुर में क्षेत्रीय रैलियां होंगी। मेरठ की रैली को केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह तो कानपुर की रैली को केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर संबोधित करेंगे।

वहीं 23 जनवरी को आगरा में होने वाली क्षेत्रीय रैली में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा मुख्य वक्ता होंगे। उधर राजधानी के घंटाघर पार्क में मुस्लिम महिलाएं सीएए के विरोध में धरना दे रही हैं। लिहाजा सीएए के समर्थन में अपनी रैली को धार देने और विरोधियों को बेनकाब करने के लिए भाजपा ने मुकम्मल व्यवस्था की है। विपक्षी दलों को चिढ़ाने के लिए रैली में सीएए से लाभांवित होने वाले शरणार्थी भी होंगे, जिनमें से कुछ अमित शाह का अभिनंदन भी करेंगे।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

six − four =

kishori-yojna
kishori-yojna
ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
राम के बाद अब मानस पर राजनीति
राम के बाद अब मानस पर राजनीति