nayaindia CM Yogi attacked the opposition : सपा ने किया बच्चों के साथ भेदभाव
देश | उत्तर प्रदेश| नया इंडिया| CM Yogi attacked the opposition : सपा ने किया बच्चों के साथ भेदभाव

मुख्यमंत्री योगी ने 458.66 करोड़ रुपये की छात्रवृत्ति हस्तांतरित करते हुए किया विपक्ष पर हमला, कहा – सपा ने किया एससी/एसटी बच्चों के साथ भेदभाव

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को समाजवादी पार्टी पर तीखा हमला करते हुए खुलासा किया कि अखिलेश सरकार के तहत एससी/एसटी बच्चों की छात्रवृत्ति रोक दी गई थी। पिछली सरकार बच्चों को छात्रवृत्ति प्रदान करने से पहले भेदभाव करती थी। उन्होंने विशेष रूप से अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति समुदाय के बच्चों को छात्रवृत्ति प्रदान करना बंद कर दिया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 12,17,631 छात्रों को 458.66 करोड़ रुपये की छात्रवृत्ति ऑनलाइन हस्तांतरित करते हुए कहा। कार्यक्रम के दौरान सीएम योगी ने समाजवादी पार्टी की दलित विरोधी मानसिकता पर प्रकाश डाला। जब हम 2017 में सत्ता में आए, तो हमें पता चला कि 2016-17 में केवल एससी, एसटी बच्चों की छात्रवृत्ति रोक दी गई थी। हमारी सरकार ने तुरंत छात्रों की छात्रवृत्ति बहाल कर दी। ( CM Yogi attacked the opposition)

also read: राष्ट्रपति आज विकलांगों के सशक्तिकरण की दिशा में उत्कृष्ट कार्य के लिए प्रदान करेंगे राष्ट्रीय पुरस्कार

2 अक्टूबर को 57 लाख छात्रों को छात्रवृत्ति की किश्त भेजी

मुख्यमंत्री ने सपा प्रमुख पर हमला बोलते हुए कहा कि पिछली सरकारों ने बच्चों के जीवन और भविष्य के साथ उनके राजनीतिक हितों की पूर्ति के लिए खिलवाड़ किया। सीएम ने कहा कि पिछले साढ़े चार साल में हमारी सरकार ने 40 लाख से ज्यादा बच्चों को पहले स्कॉलरशिप से जोड़ा है। सीएम योगी ने विभिन्न जिलों के छात्रों से बातचीत करते हुए उन्हें बधाई दी और कहा कि कोविड-19 महामारी के कारण बड़ी संख्या में स्कूल-कॉलेज, पॉलीटेक्निक अपने सत्र शुरू नहीं कर सके। छात्रों के देर से प्रवेश के कारण छात्रवृत्ति विभिन्न किश्तों में भेजी जा रही है। राज्य सरकार ने 2 अक्टूबर को भी करीब 57 लाख छात्रों को छात्रवृत्ति की किस्त भेजी थी।

छात्रों को पाठ्यक्रम सामग्री खरीदने में परेशानी ना हो

साथ ही मुख्यमंत्री ने राज्य के विभिन्न शिक्षण संस्थानों में 30 दिसंबर तक प्रवेश प्रक्रिया पूरी कर पात्र छात्रों के खातों में छात्रवृत्ति राशि भेजने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि छात्रों को फीस की प्रतिपूर्ति या अपने लिए किसी भी प्रकार की पाठ्यक्रम सामग्री खरीदने में किसी प्रकार की परेशानी नहीं होनी चाहिए। इसके अलावा सीएम योगी ने कॉलेज के छात्रों को टैबलेट और स्मार्टफोन प्रदान करने की भी घोषणा की। उन्होंने कहा कि सरकार विभिन्न विश्वविद्यालयों, इंजीनियरिंग संस्थानों, पॉलिटेक्निक, आईटीआई, नर्सिंग, पैरामेडिकल और स्नातक और स्नातकोत्तर स्तर के विभिन्न अन्य पाठ्यक्रमों में छात्रों को स्मार्टफोन और टैबलेट के वितरण के लिए एक कार्य योजना पर काम कर रही है।

पिछली सरकारें बच्चों की जान से खेलती थीं

इस मौके पर सीएम योगी ने कहा कि यह सबसे बड़ा भेदभाव है कि अखिलेश सरकार ने एसटी, एससी समुदाय के बच्चों की स्कॉलरशिप रोक दी। सीएम योगी ने कहा कि यह उन तत्वों द्वारा सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं को सीधे तौर पर बाधित करने का घोर उदाहरण है, जिन्होंने राजनीतिक संघर्ष और प्रतिद्वंद्विता में बच्चों के जीवन से खिलवाड़ किया

छात्रों को मिल रहे हैं आगे बढ़ने के अवसर ( CM Yogi attacked the opposition )

सीएम योगी ने कहा कि अभ्युदय कोचिंग के तहत बड़ी संख्या में बच्चों ने विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं में स्थान हासिल किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार राज्य में ही छात्रों को समान और अपार अवसर प्रदान करने के लिए काम कर रही है, जिसके परिणामस्वरूप कई छात्रों ने अभ्युदय कोचिंग के लिए दाखिला लिया है, जिन्होंने प्रतियोगी परीक्षाओं में शानदार परिणाम हासिल किए हैं। अभ्युदय योजना के बारे में बात करते हुए सीएम योगी ने कहा कि सभी 75 जिलों में इसे आगे बढ़ाने की जरूरत है। राज्य की प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए छात्रों को तैयार करने के लिए शिक्षा को प्रौद्योगिकी से जोड़ने की आवश्यकता है। अभ्युदय योजना को हर बच्चे की जरूरतों को पूरा करना चाहिए। ( CM Yogi attacked the opposition)

Leave a comment

Your email address will not be published.

sixteen − seven =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
चोरों ने वापस की अष्ट धातु की 14 मूर्तियां, चिट्ठी में लिखा- हमें डरावने सपने आते थे…
चोरों ने वापस की अष्ट धातु की 14 मूर्तियां, चिट्ठी में लिखा- हमें डरावने सपने आते थे…