• डाउनलोड ऐप
Thursday, May 13, 2021
No menu items!
spot_img

Ghaziabad : कोरोना संक्रमितों की मदद कर रही दीपाली त्यागी, मुफ्त में खिला रही खाना

Must Read

गाजियाबाद | देशभर में कोरोना संक्रमण (Corona infection) ने विकराल रूप ले लिया है। इस बीच लोग महामारी की चपेट में आने के चलते अस्पतालों (Hospitals) में भर्ती हैं तो वहीं कई मरीज अपने घर में ही होम आइसोलेशन में हैं। ऐसे में गाजियाबाद की रहने वाली दीपाली होम आइसोलेशन (home isolation) में रह रहे संक्रमित मरीजों (infected patients) के दो वक्त का खाना उनके घर तक पहुंचा रही हैं।

गाजियाबाद (Ghaziabad) के गोविंदपुरम निवासी दीपाली त्यागी (Deepali Tyagi) ने संक्रमित मरीजों ((infected patients)) के खाने का जिम्मा उठा लिया है, दीपाली एक निजी इंजीनियरिंग कॉलेज में बतौर एचआर की पोस्ट पर काम करती हैं। कॉलेज बंद होने के चलते उन्होंने लोगों की सेवा करने की सोची।

इसे भी पढ़ें – WhatsApp ने लॉच किया नया फीचर, भेजने के साथ-साथ सुन भी सकते है वॉइस मैसेज

दीपाली (Deepali) सभी संक्रमित मरीजों के लिए अपने घर पर ही खाना बनाती हैं, क्योंकि उनके मुताबिक, मरीजों (patients) को जितना पौष्टिक खाना मिलेगा, उतना बहतर है। होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों के लिए दोपहर और रात का भोजन बना उन्हें फूड पैकेट्स में रख उनके घर तक पहुंचाया जाता है। इसके लिए वो किसी तरह का कोई पैसा नहीं लेतीं।

दीपाली त्यागी (Deepali Tyagi) ने बताया, कोरोना महामारी के दौरान कॉलेज बंद हुए, जिसके बाद मैंने लोगों की सेवा करने की इच्छा जताई। मेरे पति ने इस काम मे मेरा सहयोग दिया। हमने संक्रमित मरीजों के घर (home) तक खाना पहुंचाने की मुहिम शुरू की। इस मुहिम की शुरुआत में कम लोगों ने खाना आर्डर किया, लेकिन जैसे-जैसे अन्य लोगों तक जानकारी पहुंची तो अब हमने उनके घरों तक खाना भेजना शुरू कर दिया है।

शुरुआत में करीब 20 लोगों ने खाना लिया, वहीं अब मेरे पास करीब 50 से अधिक लोगों को खाना पहुचाने की जिम्मेदारी है। इसमें मेरे पति भी मेरा पूरा सहयोग दे रहे हैं। संक्रमित मरीज सोशल मीडिया के माध्यम से दीपाली से संपर्क कर सुबह 11:30 बजे तक खाने का ऑर्डर देते हैं तो वहीं शाम 6 बजे खाने का ऑर्डर लिया जाता है।

इसे भी पढ़ें – Rajasthan : बेटे की मौत की खबर सुन बाप ने भी छोड़ दी दुनिया, पिता-पुत्र की अर्थी देख रो पड़ा हर कोई

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

साभार - ऐसे भी जाने सत्य

Latest News

क्या खुद को फांसी पर लटका ले?

बेंगलुरू। देश की अलग अलग उच्च अदालतों और सर्वोच्च अदालत की ओर से कोरोना वायरस की महामारी और टीकाकरण...

More Articles Like This