nayaindia UP case of conversion : इस्लाम तो अपना लिया था लेकिन शवों को दफनाने...
देश | उत्तर प्रदेश| नया इंडिया| UP case of conversion : इस्लाम तो अपना लिया था लेकिन शवों को दफनाने...

इस्लाम तो अपना लिया था लेकिन शवों को दफनाने के लिए करनी पड़ती थी जद्दोजहद , फिर 18 लोगों ने अपनाया हिंदू धर्म

UP case of conversion :

नई दिल्ली |  UP case of conversion : देश में पिछले कुछ महीनों से धर्मांतरण का मामला जोर-शोर से चल रहा है. उत्तर प्रदेश में धर्मांतरण के आरोप में गिरफ्तार किए गए दो मौलवियों पर हुए खुलासे के बाद देश भर से इस तरह के मामले सामने आ रहे हैं. एक बार फिर से उत्तर प्रदेश के शामली जिले के कांधला से इसी तरह का मामला सामने आया है. बताया गया है कि यहां रहने वाले मोहम्मद राशिद नाम के व्यक्ति ने 13 साल की उम्र में इस्लाम धर्म अपना लिया था. मूल रूप से राशिद एक बंजारा समुदाय से रिश्ता रखता था.

UP case of conversion :

दफनाने के लिए करना पड़ता था जद्दोजहद

UP case of conversion : कई सालों पहले इस्लाम से प्रभावित होकर उसने अपना धर्म बदल लिया. इस्लाम धर्म अपनाने के बाद अब उसे कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. राशिद का कहना है कि उसके परिवार में किसी की मौत हो जाने के बाद उसे बहुत संघर्ष करना पड़ा. राशिद का कहना है कि किसी के भी मौत होने पर दफनाने के लिए जद्दोजहद करना पड़ता था. उसने कहा कि बचपन में वह होली और दिवाली मनाया करता था अब एक बार फिर से वह हिंदू धर्म को अपना लेगा. राशिद अब एक बार फिर से विकास कुमार के नाम से जाना जाने लगेगा.

कुल 18 बंजारों ने अपनाया हिंदू धर्म

UP case of conversion : इस संबंध में जो जानकारी दी गई है उसके अनुसार राशि के साथ की कुल 18 बंजारों ने मुस्लिम धर्म से नाता तोड़ हिंदू धर्म में शामिल हो गए हैं. स्थानीय मंदिर के ट्रस्ट ने समुदाय को इस बात के लिए आश्वस्त किया है कि उनके परिवार वालों के मरने पर अंतिम संस्कार के लिए जमीन मुहैया कराई जाएगी. इसके साथ ही इनकी मदद के लिए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कुछ कार्यकर्ता भी आगे आए हैं. विकास कुमार बन चुके राशिद ने बताया कि उसके पिता इस्लाम में परिवर्तित हो गए थे लेकिन अब वह अपने परिवार की गलती सुधार रहा है.

इसे भी पढ़ें – Mumbai कोरोना के ‘Delta Plus Variant’ से मौत का खुलासा, रिपोर्ट में कई और लोग आए संक्रमित

UP case of conversion :

क्या कहा SDM ने

इस पूरे मामले पर शामली के डीएम जसजीत कौर ने कहा है कि बंजारे समुदाय के कुछ लोगों ने हिंदू धर्म अपनाने की इच्छा जताई है. उन्होंने कहा कि धार्मिक रीति-रिवाजों से उन्होंने स्वेच्छा से धर्मांतरण कर लिया है. लेकिन कानूनी तौर पर अभी धर्मांतरण की पूरी प्रक्रिया नहीं हो सकी है. कौर ने बताया कि जल्द ही उनके द्वारा चयनित किए गए नाम उनके आधार कार्ड और अन्य सरकारी डाक्यूमेंट्स पर चढ़ा दिए जाएंगे.

इसे भी पढ़ें- क्या आपने सुना CM Yogi Aaditynath के ‘ऑपरेशन लंगड़ा’ के बारे में ? यदि नहीं तो पढ़ें रिपोर्ट…

Leave a comment

Your email address will not be published.

six − five =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
मुबंई हवाईअड्डे पर कोकीन बरामद
मुबंई हवाईअड्डे पर कोकीन बरामद