nayaindia Increasing industrial investment UP यूपी के छोटे शहरों में बढ़ता औद्योगिक निवेश!
kishori-yojna
देश | उत्तर प्रदेश| नया इंडिया| Increasing industrial investment UP यूपी के छोटे शहरों में बढ़ता औद्योगिक निवेश!

यूपी के छोटे शहरों में बढ़ता औद्योगिक निवेश!

लखनऊ । देश और विदेश के बड़े निवेशक उत्तर प्रदेश (यूपी) के छोटे शहरों में अपनी फैक्ट्री लगाने में रूचि दिखाने लगा गए हैं। योगी सरकार की औद्योगिक नीतियों में दी गई रियायतों और निवेश के लिए आगे आने वाले निवेशकों की निवेश संबंधी हर दिक्कत का नौकरशाही द्वारा तत्काल समाधान करने के चलते यह बदलाव हुआ है। इस वजह से नोएडा और यूपी के बड़े शहरों की अपेक्षा बड़े निवेशक मथुरा, चित्रकूट, प्रयागराज, संडीला जैसे कई छोटे शहरों में अपना उद्यम स्थापित कर रहे हैं।

बीते दो सालों में सात हजार करोड़ रुपए से अधिक का औद्योगिक निवेश यूपी के छोटे शहरों में हुआ है. यहीं नहीं चार हजार से अधिक का निवेश तो पिछले छह माह में छोटे शहरों में यूपी राज्य औद्योगिक प्राधिकरण (यूपीसीडा) की भूमि पर हुआ है।

यूपीसीडा के सीओ मयूर महेश्वरी के अनुसार राज्य के छोटे शहरों में बड़े निवेशकों को यूपीसीडा द्वारा उपलब्ध कराई भूमि पर पेप्सी, ब्रिटिश पेंट्स, बर्जर पेंट्स, आईटीसी लिमिटेड और वेब्ले स्कॉट सरीखी बड़ी कंपनियों ने अपनी फैक्ट्री लगाई है। लड्डू के लिए प्रसिद्ध संडीला में टो वेब्ले स्कॉट का निर्माण भी होने लगा है। यूपीसीडा के आंकड़े बताते हैं कि बीते छह माह में अमेठी में 700 करोड़ रुपए, रायबरेली में 150 करोड़ रुपए, मथुरा में 571 करोड़ रुपए, संभल में 500 करोड़ रुपए, वाराणसी में 475 करोड़ रुपए, चित्रकूट में 468 करोड़ रुपए, हरदोई में 200 करोड़ रुपए, हमीरपुर में 250 करोड़ रुपए, पीलीभीत में 1100 करोड़ रुपए और देवरिया में 185 करोड़ रुपए का औद्योगिक निवेश हुआ है।

यूपी सरकार की मंशा है कि राज्य के पूर्वांचल, बुंदेलखंड और मध्यांचल क्षेत्र में औद्योगिक निवेश को बढ़ावा दिया जाए। इस मंशा की पूर्ति के लिए यूपीसीडा छोटे शहरों में लैंडबैंक बढ़ाने और वहां फैक्ट्री स्थापित करने के लिए सुविधाएं विकसित करने में जुटा है। जिसके तहत यूपीसीडा ने बरेली, हाथरस, आगरा, मथुरा, फर्रुखाबाद, औरैया, कन्नौज, उन्नाव, हरदोई, संडीला, चित्रकूट, प्रयागराज, रायबरेली, अमेठी और पीलीभीत में औद्योगिक निवेश के लिए 12 हजार एकड़ से अधिक लैंडबैंक तैयार किया है। और जिलों बंद पड़ी इकाइयों का अधिग्रहण कर औद्योगिक निवेश के लिए लैंडबैंक तैयार करने का प्रयास किया जा रहा है। इसके तहत प्रतापगढ़ में ऑटो ट्रैक्टर लिमिटेड की 98 एकड़ भूमि, बीपीसीएल की 231 एकड़ भूमि और रायबरेली में वेस्पा कार कंपनी की 89 एकड़ भूमि का यूपीसीडा ने अधिग्रहण किया है। जिसे निदेशकों को उद्यम स्थापित करने के लिए दिया जाएगा।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

one × 4 =

kishori-yojna
kishori-yojna
ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
मायावती की संत रविदास जयंती पर सत्तारूढ़ दलों को नसीहत
मायावती की संत रविदास जयंती पर सत्तारूढ़ दलों को नसीहत