nayaindia up assembly election : अखिलेश यादव सिर्फ दलित वोट चाहते
देश | उत्तर प्रदेश| नया इंडिया| up assembly election : अखिलेश यादव सिर्फ दलित वोट चाहते

यूपी विधानसभा चुनाव: भीम आर्मी चीफ ने सपा के साथ गठबंधन से किया इनकार, कहा- अखिलेश यादव सिर्फ दलित वोट चाहते

up assembly election

नई दिल्ली: इस वर्ष पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव होने है। लेकिन चुनाव की गढ़ उत्तरप्रदेश को कहा जा रहा है। सभी चुनावी गतिविधियां उत्तरप्रदेश में ही हो रही है। भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर आजाद ने शनिवार 15 जनवरी, 2022 को आगामी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों के लिए समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन से इनकार किया। आजाद ने दावा किया कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव इस गठबंधन में दलितों को नहीं चाहते और सिर्फ दलित वोट बैंक चाहते हैं। और अगर बात करें बीजेपी की तो यूपी में भाजपा के विधायक पार्टी छोड़ रहे है। सूत्रों का कहना है कि तीन विधायक अब तक पार्टी छोड़ चुके है। और सपा में शामिल हो रहे है। ( up assembly election ) 

also read: पीएम मोदी को ऐलान! देश में हर साल 16 जनवरी को मनाया जाएगा ‘नेशनल स्टार्ट-अप डे’

यादव को केवल दलित वोट बैंक चाहिए

चंद्रशेखर आजाद ने कहा कि सभी चर्चाओं के बाद अंत में मुझे लगा कि अखिलेश यादव इस गठबंधन में दलितों को नहीं चाहते, उन्हें सिर्फ दलित वोट बैंक चाहिए। उन्होंने बहुजन समाज के लोगों को अपमानित किया, मैंने 1 महीने 3 दिन तक कोशिश की लेकिन गठबंधन नहीं हो सका। चंद्रशेखर आजाद ने एक संवाददाता सम्मेलन में इस प्रकार के बयान दिया। सपा, विशेष रूप से, छोटी जाति-आधारित पार्टियों के साथ गठबंधन करके और जाति और सामुदायिक सम्मेलनों का आयोजन करके यूपी में दलितों और सबसे पिछड़ी जातियों को जोड़ने के लिए अपने सामाजिक गठबंधन का विस्तार करने की कोशिश कर रही है।

उत्तर प्रदेश में दलित एक प्रभावशाली जाति समूह ( up assembly election ) 

इससे पहले अखिलेश ने बाबा साहेब वाहिनी का भी गठन किया था और बीआर अंबेडकर की जयंती पर दलित दिवाली मनाई थी। उल्लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश में दलित एक प्रभावशाली जाति समूह हैं और उनकी आबादी लगभग 21.6 प्रतिशत है, जिसमें 66 दलित उपजातियां शामिल हैं। उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव 10 फरवरी से सात चरणों में होने हैं। परिणाम 10 मार्च को घोषित किए जाएंगे। ( up assembly election ) 

Leave a comment

Your email address will not be published.

fourteen − one =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
रिजर्व बैंक ने फिर बढ़ाई ब्याज दर
रिजर्व बैंक ने फिर बढ़ाई ब्याज दर