nayaindia कोरोना के बढ़ते मामलों को देखकर कुंभ के शाही स्नानों में ज्यादा भीड़ आने की संभावना नहीं -अधिकारी - Naya India
देश | उत्तराखंड| नया इंडिया|

कोरोना के बढ़ते मामलों को देखकर कुंभ के शाही स्नानों में ज्यादा भीड़ आने की संभावना नहीं -अधिकारी

कोविड-19 के मामलों में लगातार इजाफा हो रहा है. दूसरी ओर देवभूमि उतराखंड के हरिद्वार में कुंभ का मेला चल रहा है. अधिकारियों का कहना है कि कुंभ में होने वाले मुख्य स्नान में ज्यादा भीड़ होने की उम्मीद नहीं की जा रही है. कुंभ में इस बार तीन शाही स्नानों का आयोजन किया जाएगा. ये शाही स्नान 12,14 और 27 अप्रैल को आयोजित होंगे.  अधिकारियों ने उम्मीद जताई है कि अब तक के मेले को देखकर नहीं लगता है कि शाही स्नान के दिन ज्यादा लोग पहुंचेंगे.  हालांकि, अधिकारियों का कहना है कि किसी भी तरह की स्थिति से निपटने के लिए पर्याप्त व्यवस्थाएं कर ली गयी हैं. अगर ज्यादा भीड़ आ भी गई तो सभी व्यवस्थाएं पर्याप्त रूप से उपलब्ध है.

इसे भी पढ़ें Corona Update : मध्यप्रदेश के सभी शहरों में लगाया Weekend Lockdown, जानें क्या हैं नियम

670 हेक्टेयर में लगा है कुंभ का मेला

हरिद्वार से लेकर देवप्रयाग तक 670 हेक्टेयर से ज्यादा क्षेत्र में कुंभ का मेला लगा हुआ है. इस पर नज़र रखने के लिए चप्पे-चप्पे पर 12000 पुलिस और 400 अर्धसैनिक बल तैनात हैं, जो कानून और व्यवस्था के साथ ही कोविड प्रोटोकॉल का पालन सुनिश्चित करवाएंगे. महाकुंभ मेले के पुलिस महानिरीक्षक संजय गुंज्याल ने कहा कि पुलिस व्यवस्था का एटलस तो अधिकतम भीड़ के लिए ही तैयार किया जाता है. इसलिए हम किसी भी स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार हैं. लेकिन कोरोना संक्रमण के दोबारा तेजी से बढ़ने तथा उससे बचाव के लिए लागू दिशा-निर्देशों के कारण हमें बड़े स्नान पर्वों पर ज्यादा भीड़ आने की उम्मीद नहीं है.

कोरोना के काऱण 1 माह ही चलेगा यह मेला

कुंभ का मेला जनवरी से लेकर अप्रैल तक आयोजित किया जाता है. लेकिन इस बार कोरोना के प्रकोप को देखते हुए कुंभ का मेला एक माह के लिए ही आयोजित किया जा रहा है. उत्तराखंड में पिछले कई दिनों से रोजाना 500 ते करीब कोरोना के मामले सामने आ रहे हैं. इसी को देखते हुए सरकार की ओर से जारी की गई एडवाइजरी में  कुंभ में आने वालों को 72 घंटे पहले की कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट दिखाना जरूरी बतााया गया है.  महाकुंभ मेले के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी अर्जुन सेंगर ने बताया कि मेले में 12 प्रयोगशालाएं लगातार नमूनों की जांच कर रही हैं जबकि 550 बिस्तरों वाला कोविड अस्पताल भी तैयार है.

इसे भी पढ़ें न्यूजीलैंड ने लगाई भारतीय यात्रियों की एंट्री पर रोक

Leave a comment

Your email address will not be published.

2 × 2 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
विस्थापित कर्मचारियों की गैर-हाज़िरी है सिरदर्दी
विस्थापित कर्मचारियों की गैर-हाज़िरी है सिरदर्दी