nayaindia Visa Scam Case : कार्ति चिदंबरम के करीबी भास्कर रमन को CBI ने किया.........
देश| नया इंडिया| Visa Scam Case : कार्ति चिदंबरम के करीबी भास्कर रमन को CBI ने किया.........

Visa Scam Case : कार्ति चिदंबरम के करीबी भास्कर रमन को CBI ने किया गिरफ्तार…

Visa Scam Case karti chidambaram
Source : Source : CNBC TV18

नई दिल्ली | Visa Scam Case : कांग्रेस नेता कार्ति चिदंबरम की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. CBI ने कार्ति पी चिदंबरम के करीबी और सहयोगी एस भास्कर रमन को गिरफ्तार कर लिया है. कल CBI की टीम ने कार्ति पी चिदंबरम के कई ठिकानो पर छापेमारी की थी जिसके बाद देर रात को CBI ने वीज़ा घोटाला मामले में कार्ति चिदंबरम के करीबी सहयोगी एस भास्कर रमन को गिरफ्तार कर लिया. जानकारी के अनुसार ये मामला भी वीज़ा घोटाले से जुड़ा हुआ है . CBI की टीम नें देर रात भास्कर से पूछताछ की, उसके बाद रमन को गिरफ्तार कर लिया. CBI ने 11 साल पहले लगे एक आरोप की जांच को लेकर कार्ति चिदंबरम के खिलाफ मामला दर्ज किया. उन पर आरोप था कि उन्होंने 263 चीनी नागरिकों को बिजली कंपनी के लिए वीजा दिलाने में मदद की थी.

वपी चिदंबरम के घर पर भी छापेमारी…

Visa Scam Case : वीजा दिलाने के मामले को लेकर कार्ति चिदंबरम के खिलाफ FIR दर्ज की गई और फिर जांच के लिए CBI की टीम ने दिल्ली और चेन्नई के कई शहरों के 10 ठिकानों पर एक साथ छापेमारी की थी. कार्ति चिदंबरम पिता पी चिदंबरम के घर पर भी छापेमारी की गई. उन पर आरोप ये था की 2011 में चीनी नागरिकों को वीजा दिलवाने के लिए 50 लाख रुपये की रिश्वत लेकर उनकी मदद की थी. उस वक्त पी चिदंबरम केंद्रीय गृह मंत्री थे और इसी का फायदा कार्ति चिदंबरम ने उठाया था.

Visa Scam Case karti chidambaram
Source : Thetrendy News

CBI को ऐसे मिला सबूत

Visa Scam Case : CBI ने बताया कि कार्ति चिदंबरम के खिलाफ ये साक्ष्य तब मिले जब वह आईएनएक्स मीडिया मामले की पड़ताल कर रहे थे. इसके बाद उन्होने जांच पड़ताल शुरू कर दी. CBI अधिकारियों ने बताया कि जुलाई-अगस्त 2011 में तलवंडी साबो बिजली प्रोजेक्ट के लिए चीन के 263 नागरिकों को वीजा दिलवाया जिसके चलते कार्ति को 50 लाख रुपये की रिश्वत मिली थी. जांच में CBI को भास्कररमन के कंप्यूर की हार्ड ड्राइव में 50 लाख रुपये के संदिग्ध लेन-देन के कुछ सबूत मिले. CBI ने मामले को दर्ज कर इस पर अपना एक्शन लिया.

इसे भी पढें- चिंतन शिविर के बाद फिर बढ़ी कांग्रेस की चिंता, अब हार्दिक पटेल ने दिया इस्तीफा…

क्या बोले प्रवक्ता आरसी जोशी

Visa Scam Case : CBI के प्रवक्ता आरसी जोशी ने बताया कि प्रोजेक्ट अपने निर्धारित समय से पीछे चल रहा था. ऐसे में कंपनी पर जुर्माना लगने वाला था. कार्ति चिदंबरम ने जुर्माने से बचने के लिए अपनी कंपनी में अधिक से अधिक चीनी लोगों को लाने की कोशिश कर रही थी. आरोप है कि उन्हें और भी अधिक वीजा की आवश्यकता थी.गृह मंत्रालय द्वारा निर्धारित अधिकतम सीमा से वीजा लाने के लिए उन्होने 50 लाख रुपये की रिश्वत मांगी थी.

इसे भी पढें- ज्ञानवापी पर बोले ओवैसी- निचली अदालत के आदेशों पर रोक लगाएगी हाईकोर्ट… 

Leave a comment

Your email address will not be published.

nineteen − 12 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
फिर याद आया, वह काला दिन!
फिर याद आया, वह काला दिन!