• डाउनलोड ऐप
Friday, May 14, 2021
No menu items!
spot_img

सीआईएसएफ की फायरिंग में चार की मौत

Must Read

सिलिगुड़ी। पश्चिम बंगाल में चौथे चरण के मतदान के दौरान केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल यानी सीआईएसएफ की फायरिंग में चार लोगों की मौत हो गई है। शनिवार को चौथे चरण के मतदान के दौरान कूचबिहार इलाके में दो मतदान केंद्रों पर हिंसा हुई, जिनमें पांच लोगों की मौत हुई। सबसे पहले एक मतदान केंद्र के बाहर बम फेंकने की घटना हुई और गोलीबारी भी हुई, जिसमें वोट डालने पहुंचे एक युवक की मौत हो गई। इसके बाद एक दूसरे मतदान केंद्र पर कुछ लोगों ने कथित तौर पर सीआईएसएफ के जवानों पर हमला कर दिया। सीआईएसएफ का कहना है कि जवानों ने आत्मरक्षा में गोली चलाई, जिसमें चार लोगों की मौत हो गई।

कूचबिहार के सीतलकुची में बूथ नंबर 126 पर भीड़ ने कथित तौर पर सीआईएसएफ के जवानों पर धावा बोल दिया। आत्मरक्षा के लिए सीआईएसएफ ने गोली चलाई, जिसमें चार लोगों की मौत हो गई। मरने वाले सभी चार लोग तृणमूल कांग्रेस से जुड़े हैं। इस सीआईएसएफ की गोलीबारी में चार लोग घायल भी हुए हैं। इस मामले में तृणमूल कांग्रेस चुनाव आयोग पहुंची है और कार्रवाई की मांग की है। दूसरी ओर भाजपा के एक प्रतिनिधिमंडल ने भी चुनाव आयोग से शिकायत की है।

इस बीच चुनाव आयोग ने सख्त रवैया अपनाते हुए विशेष पर्यवेक्षकों की एक अंतरिम रिपोर्ट के आधार पर कूच बिहार के सीतलकुची विधानसभा क्षेत्र के मतदान केंद्र संख्या 126 पर मतदान स्थगित करने के आदेश दिए। आयोग ने मुख्य चुनाव अधिकारी से भी विस्तृत रिपोर्ट मांगी है। बहरहाल, बाद में फायरिंग की घटना पर सीआईएसएफ ने बयान जारी किया। इसमें कहा गया है कि बूथ संख्या 126 के पास सीआईएसएफ की टीम पर उपद्रवियों ने हमला किया। इस दौरान हाथापाई में एक बच्चा नीचे गिर गया और उपद्रवियों ने क्यूआरटी के वाहन को नुकसान पहुंचाना शुरू कर दिया और टीम पर हमला किया।

सीआईएसएफ के बयान में कहा गया है कि जवानों ने आत्मरक्षा में और भीड़ को हटाने के लिए छह राउंड हवाई फायर किए। जवानों ने उपद्रवियों को शांत करने की कोशिश की, लेकिन भीड़ ने मतदान केंद्र में दूसरे मतदानकर्मियों की पिटाई कर दी। यह भी कहा गया है कि कुछ उपद्रवियों ने वहां तैनात जवानों के हथियार छीनने की कोशिश की। इसके बाद ही आत्मरक्षा में उपद्रवियों की भीड़ पर सात राउंड गोलियां चलाईं। इस गोलीबारी में कुछ लोग घायल हो गए, जिन्होंने बाद में दम तोड़ दिया।

ममता ने कहा, यह शाह की साजिश

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष ममता बनर्जी कूचबिहार की सीतलकुची में केंद्रीय सुरक्षा बलों की फायरिंग में चार लोगों के मारे जाने की घटना को साजिश बताते हुए कहा है कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने उसकी साजिश रची है। उन्होंने दावा किया कि केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल यानी सीआईएसएफ के जवानों में वोट डालने के लिए लाइन में लगे लोगों पर फायरिंग की और चार लोगों को मार डाला। उन्होंने दावा किया कि वे काफी पहले से इस तरह की हिंसा की आशंका जता रही हैं।

ममता बनर्जी ने हिंगलगंज में एक चुनावी सभा में गृह मंत्री अमित शाह से इस बात का जवाब देने को कहा कि राज्य विधानसभा के चौथे चरण के मतदान के दौरान कूचबिहार जिले के सीतलकुची में केंद्रीय बलों की गोलीबारी में लोगों की जानें क्यों गईं। उन्होंने केंद्रीय सुरक्षा बलों पर आम लोगों के ऊपर अत्याचार करने का आरोप लगाया और कहा कि यह देख कर उन्हें काफी समय से ऐसा कुछ होने की आशंका थी। मुख्यमंत्री ने इस पर भी हैरानी जताई कि इसे आत्मरक्षा में गोली चलाना कहा जा रहा है।

ममता बनर्जी ने कहा- सीआईएसएफ ने मतदान के लिए कतार में खड़े लोगों पर गोलीबारी की और सीतलकुची में चार लोगों को मार दिया। मुझे इस बात की लंबे समय से आशंका थी कि बल इस प्रकार की कार्रवाई करेंगे। भाजपा जानती है कि उसने लोगों का जनाधार खो दिया है, इसलिए वह लोगों को मारने की साजिश रच रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि यह अमित शाह की रची साजिश का हिस्सा था। ममता लोगो से शांति की अपील करते हुए कहा- मैं सभी से शांत रहने और शांतिपूर्ण रूप से मतदान करने की अपील करूंगी। उन्हें हरा कर मौत का बदला लें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस चुनाव में मारे गए लोगों की संख्या तीन साल पहले हुए पंचायत चुनाव से कहीं अधिक है। उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग को इस घटना को लेकर लोगों को सफाई देनी चाहिए। उन्होंने कहा- हम प्रशासन के प्रभारी नहीं हैं। आयोग प्रशासन का प्रभारी है। ममता ने कहा- उन्होंने वरिष्ठ आईपीएस सुरजीत कर पुरकायस्थ को हटा दिया। उन्होंने आरपीएफ से कनिष्ठ दर्जे के रिटायर अधिकारी व मेरे ओएसडी अशोक चक्रवर्ती को हटा दिया। फिर भी चुनाव आयोग चुनाव की निगरानी के लिए यहां रिटायर अधिकारियों को ला रहा है।

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

साभार - ऐसे भी जाने सत्य

Latest News

सत्य बोलो गत है!

‘राम नाम सत्य है’ के बाद वाली लाइन है ‘सत्य बोलो गत है’! भारत में राम से ज्यादा राम...

More Articles Like This