देश | पश्चिम बंगाल | समाचार मुख्य

ममता से मुसलमान भी हुए दूर: मोदी

कूचबिहार/हावड़ा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर करारा हमला बोला और दावा किया कि वोटों का बिखराव ना हो इसके लिए मुसलमानों से एकजुट हो जाने की उनकी अपील स्पष्ट करती है कि तृणमूल कांग्रेस विधानसभा चुनाव की जंग हार गई है।

प्रधानमंत्री ने राज्य में दो चुनावी रैलियों को संबोधित करते हुए दावा किया यदि उन्होंने इसी प्रकार सभी हिन्दुओं को एकजुट हो जाने और भाजपा को मत देने की अपील की होती तो उन्हें निर्वाचन आयोग के आठ-दस नोटिस मिल गये होते और देश भर के अखबारों में उनके खिलाफ संपादकीय छप जाते।

ममता बनर्जी पर तुष्टीकरण की राजनीति करने का आरोप लगाते हुए मोदी ने कहा कि उन्हें लोगों के तिलक लगाने और भगवा वस्त्र पहनने पर भी अब एतराज होने लगा है।प्रधानमंत्री ने दावा किया कि राज्य में भाजपा के पक्ष लहर है और पार्टी बंगाल में अगली सरकार बनाएगी।

पश्चिम बंगाल में अपनी हर चुनावी रैली में ममता बनर्जी को ‘‘दीदी ओ दीदी’’ कहकर संबोधित करने वाले मोदी ने यहां रणनीति बदलते हुए अपने संबोधन में उन्हें ‘‘आदरणीय दीदी, ओ दीदी’’ कहकर संबोधित किया। ज्ञात हो कि तृणमूल कांग्रेस ने प्रधानमंत्री द्वारा ‘‘दीदी ओ दीदी’’ कहने के अंदाज पर आपत्ति जताई थी और इसे महिलाओं का अपमान करार दिया था।

उन्होंने कहा, ‘‘आदरणीय दीदी, अभी हाल में आपने कहा कि सभी मुसलमान एक हो जाओ, वोट बंटने मत दो। आप ये कह रही हैं इसका मतलब है कि आपको यकीन हो गया है कि जिस मुस्लिम वोटबैंक को आप अपनी सबसे बड़ी ताकत मानती थी, वह भी आपके हाथ से निकल गया है। मुस्लिम भी आपसे दूर हो गए हैं। आपको सार्वजनिक तौर पर ऐसा कहना पड़ रहा है, इसी से पता चलता है कि आप यह जंग हार गई हैं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन अगर हमने ये कहा होता कि सारे हिंदू एकजुट हो जाओ, भाजपा को वोट दो तो हमें निर्वाचन आयोग के 8-10 नोटिस मिल गए होते। सारे देश के संपादकीय हमारे खिलाफ होते।’’प्रधानमंत्री ने कहा कि फुटबॉल के खेल में एक ‘‘सेल्फ गोल’’ (अपने खिलाफ किया गया गोल) होता है। उन्होंने कहा, ‘‘आप चुनाव के मैदान में सेल्फ गोल कर चुकी हैं। आपने खुद ही अपनी सच्चाई स्वीकार कर ली है।’’

ज्ञात हो कि मुस्लिम मतदाताओं से एकजुट होकर मतदान करने की ममता बनजी की कथित अपील के खिलाफ भाजपा ने सोमवार को चुनाव आयोग का भी दरवाजा खटखटाया था और उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी।प्रधानमंत्री ने ममता बनर्जी के उस बयान पर भी तंज कसा जिसमें उन्होंने कहा था कि क्या भाजपा कोई भगवान है, जो कह रही है राज्य में उसकी सरकार बनेगी।

मोदी ने कहा, ‘‘चुनाव में कौन हार रहा है और कौन जीत रहा है, यह पता करने के लिए भगवान को कष्ट देने की जरूरत नहीं है। यह तो जनता जनार्दन, जो भगवान का रूप होती है, का चेहरा देखकर पता चलता है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘आपका गुस्सा, आपकी नाराजगी, आपके व्यवहार को देखकर एक बच्चा भी बता सकता है कि दीदी, टीएमसी (तृणमूल कांग्रेस) गई। आप चुनाव हार चुकी हैं। जिस दिन नंदीग्राम में मतदान चल रहा था, वहां के मतदान केंद्र में जो खेला किया आपने, उसी दिन पूरे देश ने मान लिया था कि आप हार गई हैं इसके लिए भगवान को पूछने की जरूरत नहीं है।’’प्रधानमंत्री ने अपने भाषण में उस ऑडियो टेप का जिक्र किया जिसे लेकर भाजपा के नेता ममता बनर्जी सरकार पर भ्रष्टाचार का आरोप लगा रहे हैं।

Latest News

जो भी नागरिक वैक्सीन नहीं लगवाएगा वह भारत जा सकता है- फिलीपिंस के राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते की धमकी
इन दिनों फिलीपिंस के राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते ( philipines president about corona vaccine )आए दिन चर्चा में बने रहते है। कुछ दिन…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *