nayaindia बंगाल में 80 फीसदी मतदान - Naya India
kishori-yojna
देश | पश्चिम बंगाल | समाचार मुख्य| नया इंडिया|

बंगाल में 80 फीसदी मतदान

कोलकाता/गुवाहाटी। पश्चिम बंगाल और असम में दूसरे चरण के लिए गुरुवार को हुए मतदान में भी लोगों में खासा उत्साह दिखा और लोगों ने जम कर वोटिंग की। चुनाव आयोग की ओर से जारी प्रोविजनल आंकड़ों के मुताबिक शाम छह बजे तक पश्चिम बंगाल में 80 फीसदी से थोड़ा ज्यादा और असम में 75 फीसदी के करीब मतदान हुआ। पहले चरण में भी दोनों राज्यों में इसी अनुपात में वोटिंग हुई थी। पहले चरण के मुकाबले दूसरे चरण में पश्चिम बंगाल में ज्यादा तनाव रहा और कई जगह तृणमूल कांग्रेस और भाजपा के नेताओं ने एक-दूसरे पर बूथ लूटने या मारपीट करने का आरोप लगाया।

हालांकि चुनाव आयोग की ओर से बताया गया है कि मतदान आमतौर पर शांतिपूर्ण रहा। कुछ मतदान केंद्रों पर छिटपुट झड़प और हिंसा की खबर है। दूसरे चरण में नंदीग्राम सीट पर भी मतदान हुआ, जहां मुख्यमंत्री ममता बनर्जी चुनाव लड़ रही हैं। उनकी पार्टी छोड़ कर भाजपा में शामिल हुए शुभेंदु अधिकारी उनके मुकाबले में है। इस मुकाबले के महत्व को इस बात से समझा जा सकता है कि ममता बनर्जी पिछले पांच दिन से नंदीग्राम में डेरा डाले हुए हैं। मतदान के दिन भी वे चुनाव क्षेत्र में घूमती रहीं।

दूसरे चरण में पश्चिम बंगाल की 30 और असम की 39 विधानसभा सीटों के लिए गुरुवार को मतदान हुआ। पहले 27 मार्च को पहले चरण में बंगाल में 30 और असम में 47 सीटों पर मतदान हुआ था। असम में छह अप्रैल को तीसरे चरण के मतदान के साथ ही मतदान की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी, जबकि पश्चिम बंगाल में उसके बाद भी पांच चरणों का मतदान होगा। छह अप्रैल को तमिलनाडु, पुड्डुचेरी औऱ केरल में एक ही चरण में सभी सीटों का मतदान होगा।

बहरहाल, नंदीग्राम के एक मतदान केंद्र पर जमकर हंगामा हुआ है। वहां तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं का आरोप है कि उन्हें मतदान नहीं करने दिया जा रहा है। दूसरी ओर नंदीग्राम के कमलपुर के पास भाजपा उम्मीदवार शुभेंदु अधिकारी के काफिले पर हमला हुआ। शुभेंदु ने आरोप लगाया कि यह पाकिस्तानियों का काम है। जय बंगला बांग्लादेश का नारा है। उन्होंने कहा कि उस बूथ पर एक विशेष समुदाय के मतदाता हैं, जो ऐसा कर रहे हैं।

दूसरी ओर तृणमूल कांग्रेस के राज्यसभा सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने चुनाव आयोग को चिट्‌ठी लिख कर नंदीग्राम विधानसभा क्षेत्र में भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा बूथ कब्जा करने का आरोप लगाया। उन्होंने लिखा कि भाजपा कार्यकर्ताओं की भारी भीड़ बूथों में घुस गई। भाजपा ने भी कई जगह इसी तरह के आरोप तृणमूल कार्यकर्ताओं पर लगाए हैं। तृणमूल ने भाजपा कार्यकर्ताओं पर मोयना सीट के आठ मतदान केंद्रों पर कब्जा करने का भी आरोप लगाया है। पार्टी ने इस मसले पर चुनाव आयोग के पास शिकायत दर्ज कराई है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eight + 1 =

kishori-yojna
kishori-yojna
ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
अदानी की जांच पर अड़ा विपक्ष
अदानी की जांच पर अड़ा विपक्ष