Kappa Variant in Rajasthan: राजस्थान में 'Kappa Variant' के 11 केस मिले
कोविड-19 अपडेटस | ताजा पोस्ट | देश | राजस्थान| नया इंडिया| Kappa Variant in Rajasthan: राजस्थान में 'Kappa Variant' के 11 केस मिले

राजस्थान में ‘Kappa Variant’ की दस्तक, 11 केस आए सामने, बीते दिन कोरोना से राहत, मिले 28 पाॅजिटिव

Covid 19 India

जयपुर | Kappa Variant in Rajasthan : राजस्थान में दूसरी लहर कमजोर पड़ने के साथ ही अब कोरोना के एक और नए वैरिएंट के मामले सामने आए है। राजस्थान में 11 मामलों में कप्पा वैरिएंट की पुष्टि हुई है। जिसके बाद से चिकित्सा विभाग में हड़कंप मचा हुआ है।

वहीं दूसरी ओर, राजस्थान में दूसरे दिन भी कोरोना से राहत की खबर है। राज्य में मंगलवार को 33 जिलों में से 25 जिलों में कोरोना का एक भी नया मामला सामने नहीं आया है। पिछले 24 घंटे के दौरान राज्य में सिर्फ 28 नए मरीज पाए गए हैं और किसी भी जिले में कोरोना से मौत दर्ज नहीं हुई है।

ये भी पढ़ें:- Corona Update: नौ राज्यों में संकट कायम, केरल में 14 हजार से ज्यादा केसेज

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, राज्य में बीते 24 घंटे में 76 मरीज कोरोना से रिकवर होकर घर लौटे हैं जिसके बाद अब कुल एक्टिव केसों की संख्या सिर्फ 613 ही रह गई हैं। इसी के साथ राज्य में अब तक मिले कुल संक्रमितों का आंकड़ा 953187 पहुंच गया है। जिनमें से अब तक कुल 943629 मरीज ठीक होकर वापस घर लौट चुके हैं। लेकिन 8945 मरीजों ने कोरोना से अपनी जान गंवा दी है।

ये भी पढ़ें:- Vaccine update: सीरम इंस्टीच्यूट में बनेगी स्पूतनिक वैक्सीन

जयपुर में फिर बढ़ें मरीज

राजस्थान की राजधानी जयपुर में मरीज सोमवार की अपेक्षा मंगलवार को कुछ बढ़ी संख्या में दर्ज हुए है। हालांकि ये संख्या बहुत कम ही है। मंगलवार को जयपुर में 5 मरीज और बढ़ गए जिसके बाद कोरोना के 10 मामले सामने आए हैं। जबकि अलवर में 6, सीकर में 5, श्रीगंगानगर-नागौर में 2-2, उदयपुर-बारां- बीकानेर में एक-एक नया संक्रमित सामने आया है।

ये भी पढ़ें:- केन्द्र सरकार का बड़ा कदम, सस्ते होंगे Pulse Oximeter जैसे कई जांच उपकरण

Rajasthan Covid 19 Update

राजस्थान में कप्पा वैरिएंट का खतरा (Kappa Variant in Rajasthan) 

राजस्थान में 11 मामलों में कप्पा वैरिएंट की पुष्टि हुई है। हालांकि राहत की बात ये है कि ये वैरिएंट ज्यादा असरदारक नहीं है। विशेषज्ञों की माने तो ये डेल्टा और डेल्टा प्लस से काफी हल्का और कमजोर वैरिएंट है। राज्य में इसके मामले सामने आने के बाद स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा ने कहा है कि इस वैरिएंट से घबराने की नहीं बल्कि अलर्ट रहने की जरूरत है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
हिंदू मंदिरों, दुर्गा पूजा स्थलों पर हमलों में शामिल लोगों का शिकार किया जाएगा, चाहें वह किसी भी धर्म का हो – शेख हसीना
हिंदू मंदिरों, दुर्गा पूजा स्थलों पर हमलों में शामिल लोगों का शिकार किया जाएगा, चाहें वह किसी भी धर्म का हो – शेख हसीना