nayaindia Mumbai New Year Guidelines: मुंबई में नए साल का जश्न पड़ सकता है भारी
कोविड-19 अपडेटस | ताजा पोस्ट | देश | महाराष्ट्र| नया इंडिया| Mumbai New Year Guidelines: मुंबई में नए साल का जश्न पड़ सकता है भारी

मुंबई में नए साल का जश्न पड़ सकता है भारी, 30 दिसंबर से 7 जनवरी तक धारा 144, इन शर्तों का करना होगा पालन

file photo

मुंबई | कोरोना की दूसरी लहर में सबसे ज्यादा प्रभावित होने वाला राज्य महाराष्ट्र अभी इससे उभर भी नहीं पाया था कि, अब एक बार फिर से संक्रमण की चपेट में आ चुका है। महाराष्ट्र में तेजी से फैल रहे कोरोना संक्रमण के नए मामले ओमिक्राॅन के चलते तीसरी लहर की आहट दिखने लगी है। वहीं, महाराष्ट्र की राजधानी और मायानगरी मुंबई में तो हालात और भी ज्यादा खराब हो चुके हैं जिसके चलते यहां 7 जनवरी तक धारा 144 लागू (Mumbai New Year Guidelines) कर दी गई है। ऐसे में अब मुंबई में न्यू ईयर (New Year Celebration) मजा कोरोना ने बिगाड़ दिया है।

ये भी पढ़ें:- दिल्ली में कोरोना का कोहराम! पाबंदियों के बीच अब कालकाजी मंदिर में भक्तों का प्रवेश बंद

30 दिसंबर से 7 जनवरी तक धारा 144 लागू (Mumbai New Year Guidelines)
मुंबई में 30 दिसंबर से 7 जनवरी तक धारा 144 (Section 144) लागू कर दी गई है। जिसके अनुसार….
– नए साल के जश्न और पार्टियों पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया है।
– मुंबई में खुले स्थान या बंद स्थान पर किसी भी तरह की पार्टी पर प्रतिबंध रहेगा।
– रेस्तरां, होटल, बार, रिसॉर्ट और क्लब किसी भी तरह की पार्टी का आयोजन वर्जित होगा।

ये भी पढ़ें:- देश में और लग सकती हैं पाबंदियां! 24 घंटे में कोरोना के 13 हजार पार नए मामले, 268 की मौत, 961 हुआ ओमिक्राॅन आंकड़ा

मुंबई पुलिस ने कहा-
मुंबई में तेजी से फैलते कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए धारा 144 लगाई गई है। ऐसे में पुलिस ने कड़े शब्दों में कहा है कि इन सभी नियमों की अवहेलना करने वालों और धारा 144 का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ मुंबई पुलिस सख्त कार्रवाई करेगी।

ये भी पढ़ें:- चंडीगढ़ में भारी जीत से उत्साहित दिल्ली सीएम केजरीवाल का आज ‘विजय मार्च’, आगामी विधान सभा चुनाव पर दिखेगा असर

गौरतलब है कि, बीते दिन मुंबई में कोरोना संक्रमण के 2510 नए मामले सामने हैं। वहीं अगर पूरे महाराष्ट्र की बात की जाए तो बुधवार को राज्य में कोरोना के 3900 नए मामले दर्ज किए गए है और इस दौरान 20 से ज्यादा मौतें हुईं। इसी के साथ ओमिक्राॅन के 85 मामले दर्ज हुए है। जिसके बाद राज्य में ओमिक्राॅन संक्रमितों की संख्या बढ़कर 252 पहुंच गई है।

Leave a comment

Your email address will not be published.

fourteen + one =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
प्रदेश नेताओं से नहीं बन रही थी हार्दिक की
प्रदेश नेताओं से नहीं बन रही थी हार्दिक की